25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

दुल्हन की तरह सजी रामनगरी, अयोध्या से अमेरिका तक ‘जय श्रीराम’ की गूंज, रामलला के स्वागत को तैयार पूरा देश

प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर अयोध्या में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी है. शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. रामनगरी के प्रत्येक मुख्य चौराहे पर कंटीले तारों वाले अवरोध लगाये गये हैं. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ को भी तैनात किया गया है.

श्रीराम भक्तों को करीब 500 वर्षों से जिस पल का इंतजार था, उसके लिए अयोध्या दुल्हन की तरह सज कर तैयार है. भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर में प्रभु रामलला सोमवार को विराजमान होंगे. श्रीराम के स्वागत के लिए अयोध्या के साथ पूरा देश और दुनिया तैयार है. सोमवार को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर श्रीराम मंदिर सुगंधित फूलों और रंग-बिरंगी रोशनी से सज गया है. अयोध्या की हर गली राममय हो गयी है. सरयू घाट से लेकर हनुमानगढ़ी और श्रीरामजन्मभूमि तक श्रीराम भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है. ‘शुभ घड़ी आयी’, ‘तैयार है अयोध्या धाम, विराजेंगे श्रीराम’, ‘राम फिर लौटेंगे’, ‘अयोध्या में रामराज्य’ जैसे नारों वाले पोस्टर और होर्डिंग से पूरी श्रीरामनगरी पट गयी है. श्रीराम मार्ग, सरयू नदी तट और लता मंगेशकर चौक जैसे अहम स्थानों पर रामायण के विभिन्न श्लोक वाले पोस्टर भी लगाये गये हैं. यहां विभिन्न स्थानों पर रामलीला, भगवत कथा, भजन संध्या और सांस्कृतिक कार्यक्रम हो रहे हैं. सरयू नदी का तट भी सजा-धजा है, जहां हजारों लोग हर शाम को आरती के लिए उमड़ रहे हैं.

इधर, अयोध्या से लेकर अमेरिका तक ‘जय श्रीराम’ की गूंज है. देश का हर गांव-शहर रोशन हो चुका है. रविवार को देश के हर हिस्से से प्रभात फेरियां निकाली गयीं और ‘जय श्रीराम’ के जयघोष से पूरा माहौल धार्मिक हो गया. ऐसा राममय माहौल दुनिया के हर हिस्से में देखने को मिला. अमेरिका के करीब 1100 मंदिरों में विशेष आयोजन किये जा रहे हैं. ब्रिटेन में हिंदू समुदाय के लोगों ने दीपावली जैसी तैयारी कर रखी है. वहीं, मॉरीसस की सरकार ने सोमवार को दो घंटे की विशेष छुट्टी की घोषणा की है.

इन देशों में भी दिख रहा अयोध्या जैसा माहौल

अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, जापान, फिजी, इंडोनेशिया, मॉरीसस सहित कई देशों में प्रभु रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े कार्यक्रम होंगे. यहां भी अयोध्या जैसा माहौल है. वहीं, मॉरीसस की सरकार ने सोमवार को दो घंटे की विशेष छुट्टी की घोषणा की है.

Also Read: Ayodhya Ram Mandir: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दिन झारखंड होगा राममय, 51 हजार मंदिरों में होंगे अनुष्ठान
कई राज्यों में आधे दिन, तो हिमाचल में पूरे दिन की छुट्टी

गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, ओडिशा, त्रिपुरा, चंडीगढ़, पुडुचेरी, जम्मू-कश्मीर सहित कई राज्यों में सोमवार को आधे दिन की छुट्टी की घोषणा की गयी है. वहीं, हिमाचल प्रदेश और महाराष्ट्र में सोमवार को पूरे दिन छुट्टी रहेगी.

बैंक में आधे दिन की छुट्टी शेयर बाजार भी रहेगा बंद

देशभर में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, बीमा कंपनियां, वित्तीय संस्थान और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक भी सोमवार को आधे दिन के लिए बंद रहेंगे. एनएसइ और बीएसइ स्टॉक एक्सचेंज ने भी इस दिन कारोबार न होने की घोषणा की है. इधर, गोवा में सोमवार को कसीनो आठ घंटे बंद रहेंगे.

सुरक्षा कड़ी : चप्पे-चप्पे पर पुलिसजवान तैनात

प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर अयोध्या में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी है. शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. रामनगरी के प्रत्येक मुख्य चौराहे पर कंटीले तारों वाले अवरोध लगाये गये हैं. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ को भी तैनात किया गया है. शहर में विशेष कमांडो पेट्रोलिंग कर रहे हैं. अयोध्या जिले में 10,000 सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं.

Also Read: देवघर : रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा पर बाबा नगरी में उत्साह, घरों,मंदिर-मठों में होगा दीपोत्सव, होंगे भजन-कीर्तन
स्वास्थ्य सेवा : पोर्टेबल अस्पताल ‘भीष्म’ तैयार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए व्यापक चिकित्सकीय तैयारी की है. अयोध्या में अपनी तरह का पहला पोर्टेबल अस्पताल ‘आरोग्य मैत्री डिजास्टर मैनेजमेंट क्यूब’- भीष्म बनाया गया है. इसके अलावा, 16 प्राथमिक चिकित्सा बूथ और दो अस्थायी फील्ड अस्पताल बनाया गया है. ये चौबीसों घंटे काम करेंगे. इसके अलावा, यूपी के सभी अस्पताल अलर्ट पर हैं.

रोशनी से नहाये राज सदन और पुराने मंदिर

अयोध्या के पूर्व राजा का भव्य आवास राज सदन, विभिन्न मंदिर और इमारतें प्रतिष्ठा समारोह के मद्देनजर रोशनी से जगमगा उठी हैं, जिससे रामनगरी में दीपावली जैसा माहौल बन गया है.

Also Read: सात समंदर पार भी है राम की गूंज, रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर विदशों में होगा खास आयोजन
8000 से अधिक अतिथि समारोह में होंगे शामिल

प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए 8000 से अधिक अतिथियों को आमंत्रित किया गया है. इनमें प्रमुख राजनीतिक नेता, बड़े उद्योगपति, अभिनेता, खिलाड़ी, नौकरशाह और राजनयिक शामिल हैं. इनके अलावा, श्रीराम जन्मभूमि में मंदिर के लिए आंदोलन करने वाले लोगों को बुलाया गया है. प्रमुख हस्तियों में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अभिनेता अमिताभ बच्चन, उद्योगपति रतन टाटा, मुकेश अंबानी, गौतम अडाणी, अजीम प्रेमजी, नुस्ली वाडिया, आनंद महिंद्रा, नारायण मूर्ति, खिलाड़ी सचिन तेंडुलकर, महेंद्र सिंह धौनी आदि शामिल हैं.

प्राण प्रतिष्ठा से पहले दो घंटे तक ‘मंगल ध्वनि’

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा से पहले दिव्य ‘मंगल ध्वनि’ का भव्य वादन होगा. सुबह 10 बजे से 12 बजे तक देशभर के 50 पारंपरिक वाद्ययंत्र बजाये जायेंगे. अयोध्या के प्रसिद्ध कवि यतींद्र मिश्र इस संगीतमय कार्यक्रम को संचालित करेंगे. इसमें नयी दिल्ली की संगीत नाटक अकादमी मदद करेगी. इस कार्यक्रम में यूपी से बांसुरी और ढोलक, बिहार से पखावज, झारखंड से सितार, पश्चिम बंगाल के श्रीखोल तथा सरोद, ओडिशा से मर्दला, मध्य प्रदेश से संतूर, छत्तीसगढ़ से तंबूरा बजाने वाले कलाकर शामिल होंगे.

प्राण प्रतिष्ठा समारोह ‘भारतवर्ष’ के पुनर्निर्माण की शुरुआत : भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ मोहन भागवत ने रविवार को कहा कि अयोध्या में प्रभु रामलला का उनके जन्मस्थान में ‘प्रवेश’ और मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह ‘भारतवर्ष के पुनर्निर्माण’ के अभियान की शुरुआत होगी. उन्होंने कहा क भारतवर्ष का पुनर्निर्माण सद्भाव, एकता, प्रगति, शांति और सभी की भलाई के लिए जरूरी है. भागवत ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की वेबसाइट पर पोस्ट किये गये एक लेख में अयोध्या में श्रीमंदिर निर्माण के लिए ‘हिंदू समाज के निरंतर संघर्ष’ का उल्लेख किया और कहा कि इस विवाद पर ‘टकराव और कड़वाहट’ का अब अंत होना चाहिए.

अयोध्या की गलियों में लोक नृत्यों की धूम, ‘रासलीला’ की भी प्रस्तुति

श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह से एक दिन पहले रविवार को अयोध्या नगरी में लोक नृत्यों की धूम रही. यहां बधावा, चरी, घूमर, धोबिया, राई, रासलीला, मयूर, ख्याल नृत्य और सतारिया जैसे लोक नृत्य, लाउडस्पीकर पर गूंजते भगवान श्रीराम को समर्पित गीत और श्रीराम, माता सीता और हनुमान की वेश-भूषा में सजे रामभक्तों के प्रति राहगीर बरबस ही आकर्षित होते दिखे. वहीं, श्रीरामपथ पर देशभर से आये लोक नर्तक अलग-अलग नृत्य कर रहे हैं. अयोध्या में श्रीराम मंदिर की ओर जाने वाली सड़कें एक ‘लघु भारत’ की तरह दिख रही हैं.

कैलिफोर्निया में निकाली गयी भगवान श्रीराम को समर्पित कार रैली

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले रविवार को अमेरिका में कैलिफोर्निया के बे एरिया में 1,100 से अधिक लोगों ने श्रीराम मंदिर के चित्र वाले केसरिया झंडे थाम कर विशाल कार रैली निकाली. इस रैली का आयोजन बे एरिया के छह स्वयंसेवी हिंदुओं ने किया. रैली सनीवेल से वार्म स्प्रिंग बीएआरटी स्टेशन, गोल्डन गेट तक निकाली गयी. विशाल श्रीराम रथ के साथ निकाली गयी इस रैली ने लगभग 100 मील की दूरी तय की.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

दुल्हन की तरह सजी रामनगरी, अयोध्या से अमेरिका तक ‘जय श्रीराम’ की गूंज, रामलला के स्वागत को तैयार पूरा देश

प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर अयोध्या में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी है. शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. रामनगरी के प्रत्येक मुख्य चौराहे पर कंटीले तारों वाले अवरोध लगाये गये हैं. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ को भी तैनात किया गया है.

श्रीराम भक्तों को करीब 500 वर्षों से जिस पल का इंतजार था, उसके लिए अयोध्या दुल्हन की तरह सज कर तैयार है. भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर में प्रभु रामलला सोमवार को विराजमान होंगे. श्रीराम के स्वागत के लिए अयोध्या के साथ पूरा देश और दुनिया तैयार है. सोमवार को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर श्रीराम मंदिर सुगंधित फूलों और रंग-बिरंगी रोशनी से सज गया है. अयोध्या की हर गली राममय हो गयी है. सरयू घाट से लेकर हनुमानगढ़ी और श्रीरामजन्मभूमि तक श्रीराम भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है. ‘शुभ घड़ी आयी’, ‘तैयार है अयोध्या धाम, विराजेंगे श्रीराम’, ‘राम फिर लौटेंगे’, ‘अयोध्या में रामराज्य’ जैसे नारों वाले पोस्टर और होर्डिंग से पूरी श्रीरामनगरी पट गयी है. श्रीराम मार्ग, सरयू नदी तट और लता मंगेशकर चौक जैसे अहम स्थानों पर रामायण के विभिन्न श्लोक वाले पोस्टर भी लगाये गये हैं. यहां विभिन्न स्थानों पर रामलीला, भगवत कथा, भजन संध्या और सांस्कृतिक कार्यक्रम हो रहे हैं. सरयू नदी का तट भी सजा-धजा है, जहां हजारों लोग हर शाम को आरती के लिए उमड़ रहे हैं.

इधर, अयोध्या से लेकर अमेरिका तक ‘जय श्रीराम’ की गूंज है. देश का हर गांव-शहर रोशन हो चुका है. रविवार को देश के हर हिस्से से प्रभात फेरियां निकाली गयीं और ‘जय श्रीराम’ के जयघोष से पूरा माहौल धार्मिक हो गया. ऐसा राममय माहौल दुनिया के हर हिस्से में देखने को मिला. अमेरिका के करीब 1100 मंदिरों में विशेष आयोजन किये जा रहे हैं. ब्रिटेन में हिंदू समुदाय के लोगों ने दीपावली जैसी तैयारी कर रखी है. वहीं, मॉरीसस की सरकार ने सोमवार को दो घंटे की विशेष छुट्टी की घोषणा की है.

इन देशों में भी दिख रहा अयोध्या जैसा माहौल

अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, जापान, फिजी, इंडोनेशिया, मॉरीसस सहित कई देशों में प्रभु रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े कार्यक्रम होंगे. यहां भी अयोध्या जैसा माहौल है. वहीं, मॉरीसस की सरकार ने सोमवार को दो घंटे की विशेष छुट्टी की घोषणा की है.

Also Read: Ayodhya Ram Mandir: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दिन झारखंड होगा राममय, 51 हजार मंदिरों में होंगे अनुष्ठान
कई राज्यों में आधे दिन, तो हिमाचल में पूरे दिन की छुट्टी

गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, ओडिशा, त्रिपुरा, चंडीगढ़, पुडुचेरी, जम्मू-कश्मीर सहित कई राज्यों में सोमवार को आधे दिन की छुट्टी की घोषणा की गयी है. वहीं, हिमाचल प्रदेश और महाराष्ट्र में सोमवार को पूरे दिन छुट्टी रहेगी.

बैंक में आधे दिन की छुट्टी शेयर बाजार भी रहेगा बंद

देशभर में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, बीमा कंपनियां, वित्तीय संस्थान और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक भी सोमवार को आधे दिन के लिए बंद रहेंगे. एनएसइ और बीएसइ स्टॉक एक्सचेंज ने भी इस दिन कारोबार न होने की घोषणा की है. इधर, गोवा में सोमवार को कसीनो आठ घंटे बंद रहेंगे.

सुरक्षा कड़ी : चप्पे-चप्पे पर पुलिसजवान तैनात

प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर अयोध्या में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी है. शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. रामनगरी के प्रत्येक मुख्य चौराहे पर कंटीले तारों वाले अवरोध लगाये गये हैं. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ को भी तैनात किया गया है. शहर में विशेष कमांडो पेट्रोलिंग कर रहे हैं. अयोध्या जिले में 10,000 सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं.

Also Read: देवघर : रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा पर बाबा नगरी में उत्साह, घरों,मंदिर-मठों में होगा दीपोत्सव, होंगे भजन-कीर्तन
स्वास्थ्य सेवा : पोर्टेबल अस्पताल ‘भीष्म’ तैयार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए व्यापक चिकित्सकीय तैयारी की है. अयोध्या में अपनी तरह का पहला पोर्टेबल अस्पताल ‘आरोग्य मैत्री डिजास्टर मैनेजमेंट क्यूब’- भीष्म बनाया गया है. इसके अलावा, 16 प्राथमिक चिकित्सा बूथ और दो अस्थायी फील्ड अस्पताल बनाया गया है. ये चौबीसों घंटे काम करेंगे. इसके अलावा, यूपी के सभी अस्पताल अलर्ट पर हैं.

रोशनी से नहाये राज सदन और पुराने मंदिर

अयोध्या के पूर्व राजा का भव्य आवास राज सदन, विभिन्न मंदिर और इमारतें प्रतिष्ठा समारोह के मद्देनजर रोशनी से जगमगा उठी हैं, जिससे रामनगरी में दीपावली जैसा माहौल बन गया है.

Also Read: सात समंदर पार भी है राम की गूंज, रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर विदशों में होगा खास आयोजन
8000 से अधिक अतिथि समारोह में होंगे शामिल

प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए 8000 से अधिक अतिथियों को आमंत्रित किया गया है. इनमें प्रमुख राजनीतिक नेता, बड़े उद्योगपति, अभिनेता, खिलाड़ी, नौकरशाह और राजनयिक शामिल हैं. इनके अलावा, श्रीराम जन्मभूमि में मंदिर के लिए आंदोलन करने वाले लोगों को बुलाया गया है. प्रमुख हस्तियों में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अभिनेता अमिताभ बच्चन, उद्योगपति रतन टाटा, मुकेश अंबानी, गौतम अडाणी, अजीम प्रेमजी, नुस्ली वाडिया, आनंद महिंद्रा, नारायण मूर्ति, खिलाड़ी सचिन तेंडुलकर, महेंद्र सिंह धौनी आदि शामिल हैं.

प्राण प्रतिष्ठा से पहले दो घंटे तक ‘मंगल ध्वनि’

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा से पहले दिव्य ‘मंगल ध्वनि’ का भव्य वादन होगा. सुबह 10 बजे से 12 बजे तक देशभर के 50 पारंपरिक वाद्ययंत्र बजाये जायेंगे. अयोध्या के प्रसिद्ध कवि यतींद्र मिश्र इस संगीतमय कार्यक्रम को संचालित करेंगे. इसमें नयी दिल्ली की संगीत नाटक अकादमी मदद करेगी. इस कार्यक्रम में यूपी से बांसुरी और ढोलक, बिहार से पखावज, झारखंड से सितार, पश्चिम बंगाल के श्रीखोल तथा सरोद, ओडिशा से मर्दला, मध्य प्रदेश से संतूर, छत्तीसगढ़ से तंबूरा बजाने वाले कलाकर शामिल होंगे.

प्राण प्रतिष्ठा समारोह ‘भारतवर्ष’ के पुनर्निर्माण की शुरुआत : भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ मोहन भागवत ने रविवार को कहा कि अयोध्या में प्रभु रामलला का उनके जन्मस्थान में ‘प्रवेश’ और मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह ‘भारतवर्ष के पुनर्निर्माण’ के अभियान की शुरुआत होगी. उन्होंने कहा क भारतवर्ष का पुनर्निर्माण सद्भाव, एकता, प्रगति, शांति और सभी की भलाई के लिए जरूरी है. भागवत ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की वेबसाइट पर पोस्ट किये गये एक लेख में अयोध्या में श्रीमंदिर निर्माण के लिए ‘हिंदू समाज के निरंतर संघर्ष’ का उल्लेख किया और कहा कि इस विवाद पर ‘टकराव और कड़वाहट’ का अब अंत होना चाहिए.

अयोध्या की गलियों में लोक नृत्यों की धूम, ‘रासलीला’ की भी प्रस्तुति

श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह से एक दिन पहले रविवार को अयोध्या नगरी में लोक नृत्यों की धूम रही. यहां बधावा, चरी, घूमर, धोबिया, राई, रासलीला, मयूर, ख्याल नृत्य और सतारिया जैसे लोक नृत्य, लाउडस्पीकर पर गूंजते भगवान श्रीराम को समर्पित गीत और श्रीराम, माता सीता और हनुमान की वेश-भूषा में सजे रामभक्तों के प्रति राहगीर बरबस ही आकर्षित होते दिखे. वहीं, श्रीरामपथ पर देशभर से आये लोक नर्तक अलग-अलग नृत्य कर रहे हैं. अयोध्या में श्रीराम मंदिर की ओर जाने वाली सड़कें एक ‘लघु भारत’ की तरह दिख रही हैं.

कैलिफोर्निया में निकाली गयी भगवान श्रीराम को समर्पित कार रैली

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले रविवार को अमेरिका में कैलिफोर्निया के बे एरिया में 1,100 से अधिक लोगों ने श्रीराम मंदिर के चित्र वाले केसरिया झंडे थाम कर विशाल कार रैली निकाली. इस रैली का आयोजन बे एरिया के छह स्वयंसेवी हिंदुओं ने किया. रैली सनीवेल से वार्म स्प्रिंग बीएआरटी स्टेशन, गोल्डन गेट तक निकाली गयी. विशाल श्रीराम रथ के साथ निकाली गयी इस रैली ने लगभग 100 मील की दूरी तय की.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें