1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. mukhtar ansari lawyer daroga singh viral video abusing judges rkt

UP: मुख्तार अंसारी के वकील की दबंगई का वीडियो वायरल, जजों के लिए कहा अपशब्द, केस दर्ज

बता दें कि घटना का वीडियो वायरल होने के बाद और कानूनगो की तहरीर पर सरायलखंसी थाने में वकील समेत दो लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी गई है. इसके बाद पुलिस ने कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
 माफिया मुख़्तार अंसारी के वकील दरोगा सिंह
माफिया मुख़्तार अंसारी के वकील दरोगा सिंह
प्रभात खबर

Uttar Pradesh News: बंदा जेल में बंद पूर्वांचल के माफिया मुख़्तार अंसारी के वकील दरोगा सिंह के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. अधिवक्ता दरोगा सिंह पर आरोप है कि सरायलखंसी थाना क्षेत्र के ताजोपुर ग्रामसभा स्थित किन्नूपुर पुरवे गांव में जमीन की पैमाइश करने पहुंची राजस्व विभाग की टीम को मुख़्तार के वकील ने न सिर्फ धमकाया. दरोगा सिंह पर यह भी आरोप लगे कि उसने टीम को धमकाने के अलावा जजों के लिए भी काफी गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया. पूरी घटना का वीडियो भी वायरल होने पर अधिकारियों ने संज्ञान लिया.

बता दें कि घटना का वीडियो वायरल होने के बाद और कानूनगो की तहरीर पर सरायलखंसी थाने में वकील समेत दो लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी गई है. इसके बाद पुलिस ने कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है. आला अधिकारियों ने संज्ञान लेते हुए उनके खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करवाया है.

वायरल हो रहे वीडियो में अधिवक्ता कहते नजर आ रहे हैं कि मेरा छह बार कंटेंप्ट ऑफ कोर्ट हो चुका है...! इतना ही नहीं जजों के खिलाफ अमर्यादित बयान दिए. उन्हें सरेआम अपशब्द कहे. यह वायरल वीडियो उस गांव किन्नूपुर का बताया जा रहा है, जहां पर 2 दिन पहले कैबिनेट मंत्री संजय निषाद जिले के आला अधिकारियों के साथ रात्रि प्रवास पर गए थे. वहां पर मंत्री ने बिजली और रास्ते की बदहाल व्यवस्था देखकर अधिकारियों से नाराजगी व्यक्त की. गांव के निवासियों ने बताया कि रास्ता है, लेकिन दबंगों ने उसे कब्जा कर रखा है.

जिस रास्ते पर दबंग ने कब्जा किए थे वह कोई मामूली नहीं बल्कि मुख्तार अंसारी के अधिवक्ता दरोगा सिंह है. जब राजस्व की टीमें जमीनों को नाप कर अलग करने लगीं, तो यह बात जमीनों और रास्तों पर कब्जा जमाए दबंग दरोगा सिंह को नागवार गुजरी. मुख्तार के वकील ने टीम को पैमाइश करने से रोक दिया। टीम ने जब अधिकारियों का हवाला दिया और बताया कि उनके निर्देश पर पैमाइश किया जा रहा है तो वकील ने धमकी भरे लहजे में टीम के साथ ही जजों के लिए भी अपशब्दों का प्रयोग किया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें