1. home Home
  2. state
  3. up
  4. dharmendra pradhan becomes in charge of uttar pradesh assembly elections 2022 this strategy adopted to increase caste equation slt

धर्मेंद्र प्रधान को यूपी की कमान, बीजेपी ने चुनाव को लेकर एक तीर से मारे कई निशानें

यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं. जिसको देखते हुए आज बीजेपी ने पांच राज्यों के चुनाव प्रभारियों की सूची जारी कर दी है. जिसमें धर्मेंद्र प्रधान को यूपी की कमान सौंपी गई है. वहीं सात सहप्रभारी बनाए गए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
धर्मेंद्र प्रधान को यूपी की कमान
धर्मेंद्र प्रधान को यूपी की कमान
twitter

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. जिसको लेकर चुनावी गलियारों में हलचल तेज है. भाजपा ने आज आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रभारी नियुक्त कर दिया है. इसके साथ ही सात सहप्रभारी बनाए गए हैं.

भाजपा की ओर से बीजेपी की कमान संभालने की जिम्मेदारी केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को दी है. इसके साथ ही सात सहप्रभारी जिसमें केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, अर्जुन राम मेघवाल, सरोज पांडेय, शोभा करंदलाजे, कैप्टन अभिमन्यु, अन्नपूर्णा देवी और विवेक ठाकुर को लगाया है. आपको बता दें कि चुनाव को ध्यान में रखते हुए इसमें जातीय समीकरण को ध्यान में रखा गया है.

यूपी में सबसे बड़ा वोट बैंक पिछड़ा वर्ग का है. धर्मेंद्र प्रधान भी ओबीसी समुदाय से आते हैं. जिसको देखते हुए जेपी नड्डा ने ओबीसी समुदाय से आने वाले धर्मेंद्र प्रधान को यूपी की कमान सौंपी है. धर्मेंद्र प्रधान छत्तीसगढ़, बिहार और झारखंड राज्य के भी प्रभारी रह चुके हैं.

प्रभारियों की नियुक्तियों में जाति पर फोकस

एक तरफ जहां धर्मेंद्र प्रधान ओबीसी समुदाय से आते है, तो उनका फोकस ओबीसी पर रहेगा, वहीं दूसरी तरफ सरोज पांडेय के कंधों पर ब्राह्मण की नाराजगी को दूर करने का जिम्मा होगा. बिहार के दिग्गज नेता सीपी ठाकुर के बेटे राज्यसभा सदस्य विवेक ठाकुर पर भूमिहार वोटरो को लुभाने की जिम्मेदारी होगी.

बीजेपी ने एक बड़ा दाव खेलते हुए जाट समुदाय को बीजेपी के साथ साधकर रखने के लिए हरियाणा के पूर्व मंत्री और जाट समाज से आने वाले कैप्टन अभिमन्यु को यूपी चुनाव का सहप्रभारी नियुक्ति किया है. बता दें कि किसान आंदोलन को लेकर बीजेपी से अभी जाट समुदाय उखड़े हुए हैं.

अन्नपूर्णा देवी को यादव समुदाय को लुभाने की जिम्मेदारी मिली है. बता दें कि उत्तर प्रदेश 2017 विधानसभा चुनाव फॉर्मूले को एक बार फिर से 2022 विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रयोग करने के मूड में हैं.

Posted By Ashish Lata

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें