1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. congress up president ajay kumar lallu also resign for defeat in election after priyanka gandhi examine nrj

प्रियंका गांधी की समीक्षा में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पर टूटा चुनाव में हार का ठीकरा, अजय लल्लू का इस्तीफा

कांग्रेस को यूपी में भी करारी शिकस्त के साथ मात्र 2 सीट पर जीत हासिल हुई है. इस क्रम में समीक्षा बैठक करते हुए कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं यूपी चुनाव प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने चार राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों को बदलने का निर्णय किया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
कांग्रेस की समीक्षा बैठक में हार के कारणों पर मंथन.
कांग्रेस की समीक्षा बैठक में हार के कारणों पर मंथन.
Social Media

UP Chunav Result: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के 10 मार्च को आए परिणाम में कांग्रेस पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा है. पांच राज्यों में हुए विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस एक भी राज्य जीत नहीं सकी. वहीं, कांग्रेस को यूपी में भी करारी शिकस्त के साथ मात्र 2 सीट पर जीत हासिल हुई है. इस क्रम में समीक्षा बैठक करते हुए कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं यूपी चुनाव प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने चार राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों को बदलने का निर्णय किया है.

387 प्रत्याशी नहीं बचा सके जमानत

बता दें कि कांग्रेस प्रत्याशी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं. केवल दो विधायक जीत कर पहुंचे हैं. वहीं चार प्रत्याशी नंबर दो पर पहुंच पाए हैं. 387 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी जमानत जब्त हो गई जबकि इस चुनाव में प्रियंका गांधी ने लड़की हूं, लड़ सकती हूं अभियान के तहत नया प्रयोग किया था और 40 फीसदी टिकट महिलाओं को दिए थे. मंगलवार को दिल्ली में प्रियंका गांधी सभी राष्ट्रीय सचिवों, प्रदेश अध्यक्ष और उपाध्यक्षों के साथ बैठक की गई. साथ ही, दोषियों पर कड़ी कार्रवाई का भी फैसला किया गया. हालांकि, यूपी के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के इस्तीफे पर कोई भी आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की गई है. मगर पार्टी के शीर्ष सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि कांग्रेस महासचिव ने चार राज्यों के पार्टी संगठन में फेरबदल करने का फैसला किया है.

उम्मीदवारों ने गिनाए थे कारण

इससे पहले यूपी में प्रत्याशियों व पदाधिकारियों के साथ राष्ट्रीय सचिव तौकीर आलम, प्रदीप नरवाल, राजेश तिवारी, बाजीराव खाड़े व सत्यनारायण पटेल और प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बैठक की थी. इस बैठक में उन्होंने पार्टी को मिली हार के कारण पूछे थे. कई प्रत्याशियों ने संगठन का साथ न देने और स्थानीय नेताओं द्वारा मदद न करने की शिकायत की थी. वहीं, ज्यादातर ने चुनाव दो पार्टियों के बीच सीधा होने को कांग्रेस प्रत्याशियों की हार का कारण बताया. प्रत्याशियों से यह भी पूछा गया था कि किन लोगों ने उनकी मदद की, कितनों ने अच्छा काम किया. दिल्ली में हुई बैठक में इस रिपोर्ट को भी पेश किया गया था.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें