1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. ayodhya before ram temple bhumi pujan priest pradeep das corona positive 16 policemen also infected

राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले पुजारी प्रदीप दास कोरोना पॉजिटिव, 16 पुलिसकर्मी भी संक्रमित

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

अयोध्या : अयोध्या में पांच अगस्त को होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन की तैयारी पूरी जोरशोर से की जा रही है, लेकिन उससे पहले एक बड़ी खबर सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि राम जन्मभूमि के पुजारी प्रदीप दास कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. कोरोना पॉजिटिव होने के बाद पुजारी प्रदीप दास को होम क्‍वारंटाइन कर दिया गया है. इसके अलावा राम जन्मभूमि की सुरक्षा में लगे 16 पुलिसकर्मी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

इधर भूमि पूजन को लेकर तैयारी चरम पर है. भूमि पूजन के लिए मध्य प्रदेश के उज्जैन स्थित प्रसिद्ध महाकाल मंदिर की मिट्टी एवं भस्म के साथ-साथ क्षिप्रा नदी का पवित्र जल भेजा गया है. विश्व हिंदू परिषद के विभाग मंत्री महेश तिवारी एवं प्रांतीय संगठन मंत्री नंददास जी ने यहां बुधवार को बताया, अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए उज्जैन से विश्व हिंदू परिषद द्वारा महाकाल वन की मिट्टी, पवित्र क्षिप्रा नदी का जल और महाकाल की विशेष भस्म को महाकाल मंदिर परिषद के महंत विनीत गिरि के तत्वाधान में विधिवत पूजन अर्चन करके आज यहां से अयोध्या भेजा गया है.

उन्होंने कहा कि देश भर की पवित्र नदियों का जल और तीर्थस्थानों से मिट्टी राम मंदिर निर्माण हेतु भेजी जा रही है. इसलिए उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर पर भोलेनाथ को चढ़ने वाली भस्म, क्षिप्रा नदी का पवित्र जल और महाकाल वन की माटी भी हमने इस पवित्र और महान कार्य के लिए अयोध्या भेजी है.

पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे शामिल, सुरक्षा बढ़ायी गयी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पांच अगस्त को अयोध्या की यात्रा के मद्देनजर नेपाल से सटे महाराजगंज समेत विभिन्न जिलों में पुलिस को हाई अलर्ट कर दिया गया है. गोरखपुर जोन के अपर पुलिस महानिदेशक दावा शेरपा ने बताया कि उत्तर प्रदेश पुलिस और सशस्त्र सीमा बल को अलर्ट कर दिया गया है और गोरखपुर जोन में पड़ने वाले नेपाल से सटे जिलों की सरहदों पर कड़ा पहरा बिठाया गया है. उन्होंने बताया कि नेपाल के सरहदी जिलों में अवांछित तत्वों के आवागमन पर रोक के लिए सुरक्षा एजेंसियों को खास हिदायत दी गई है कि वह लोगों की पहचान किए बगैर किसी को भी सरहद के पार आने-जाने ना दें.

शेरपा ने बताया कि सशस्त्र सीमा बल की विभिन्न चौकियों के साथ-साथ मुख्य मार्गों पर भी सीसीटीवी कैमरा लगाए गए हैं. इसके अलावा खोजी कुत्तों के दस्ते तथा महिलाओं की एक पलटन भी तैनात की गई है. नेपाल से सटे सोनौली और ठूठीबारी चौकियों पर मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं.

उन्होंने बताया कि भारत नेपाल सीमा पुलिस और स्थानीय अभिसूचना इकाई समेत कई सुरक्षा एजेंसियों को आदेश दिया गया है कि वे होटलों, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों इत्यादि पर गश्त में तेजी लाएं. खुफिया इकाइयों से यह भी कहा गया है कि वे सीमावर्ती इलाकों में स्थित धार्मिक स्थलों पर भी पैनी निगाह बनाए रखें.

Posted By - Arbind Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें