1. home Hindi News
  2. state
  3. rajasthan
  4. coronavirus updates omicron variant all 9 patients in rajasthan test negative amh

Omicron Updates: अच्‍छी खबर! राजस्थान में मिले नौ संक्रमितों ने कोरोना के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन को दी मात

आरयूएचएस में कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित 9 मरीजों की दोनों रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन सभी को आरयूएचएस अस्पताल से छुट्टी देने का काम किया गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Omicron Case in India
Omicron Case in India
pti

Omicron Updates : कोरोना के नये स्‍वरूप ओमिक्रॉन ने देश के लोगों को चिंता में डाल दिया है. इस बीच राजस्‍थान से एक अच्‍छी खबर आ रही है. जानकारी के अनुसार प्रदेश की राजधानी जयपुर में पिछले रविवार को कोरोना वायरस के नये वैरिएंट से संक्रमित मिले नौ मरीजों की दोनों रिपोर्ट नेगेटिव आई है. इन संक्रमितों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. यहां चर्चा कर दें कि ओमिक्रॉन का संक्रमण पाये जाने के बाद इन्‍हें राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (आरयूएचएस) अस्पताल, जयपुर में शेष अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

राजस्‍थान सरकार ने क्‍या कहा

राजस्‍थान सरकार ने इस बाबत बयान जारी किया है. बयान के अनुसार आरयूएचएस में कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित 9 मरीजों की दोनों रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन सभी को आरयूएचएस अस्पताल से छुट्टी देने का काम किया गया है. बताया गया है कि सभी मरीज पूरी तरह स्वस्थ हैं और उनमें संक्रमण के कोई लक्षण वर्तमान में नहीं पाये गये हैं. संक्रमितों की ब्लड, सीटी स्कैन के साथ-साथ अन्य सभी जांच रिपोर्ट नॉर्मल आई है. डॉक्‍टरों ने उन्हें 7 दिन होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी है.

जिनोम : 211 नमूनों में से दो में ओमिक्रॉन मिला

इधर बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने गुरुवार को जानकारी दी है कि 211 कोरोना वायरस संक्रमितों के नमूनों के जीनोम अनुक्रमण से पता चला है कि उनमें से दो में नया ओमिक्रॉन स्वरूप है. वहीं 89 प्रतिशत में डेल्टा ‘डेरिवेटिव' (यौगिक) और 11 प्रतिशत में डेल्टा स्वरूप है.

ओमिक्रॉन के चलते वैक्‍सीन की जमाखोरी बढ़ने की आशंका

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच वैक्‍सीन की जमाखोरी बढ़ने की आशंका जताई है. डब्ल्यूएचओ को यह संदेह है कि कोराना वायरस का नया स्वरूप ओमिक्रॉन आने से भयभीत अमीर देश कोविड-19 वैक्‍सीन की जमाखोरी कर सकते हैं. इसका प्रभाव ये होगा कि वैक्‍सीन की वैश्विक आपूर्ति फिर से धीमी पड़ जाएगी और कोरोना महामारी को खत्म करने के प्रयास में बाधा आएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें