34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Jharsuguda Boat Capsize: झारसुगुड़ा में नौका पलटने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 8 हुई, सभी छत्तीसगढ़ के रहने वाले

Jharsuguda Boat Capsize: झारसुगुड़ा में हुए नौका हादसा में मरने वालों की संख्या 8 हो गई है. ये सभी लोग छत्तीसगढ़ के रहने वाले थे. मुआवजे का ऐलान किया गया है.

Jharsuguda Boat Capsize: ओडिशा के झारसुगुड़ा जिले में महानदी से 6 और शवों के मिलने के साथ ही नौका पलटने की घटना में मारे गये लोगों की संख्या शनिवार को बढ़कर 8 हो गयी. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है.

Jharsuguda Boat Capsize: नाव पलटने के तुरंत बाद शुरू कर दिया गया था राहत अभियान

अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार शाम नाव पलटने के तुरंत बाद राहत एवं बचाव अभियान शुरू करने वाले ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल तथा अग्निशमन सेवा के कर्मियों ने महानदी से 6 और शव बरामद किये हैं.

  • सभी मृतक छत्तीसगढ़ के रहने वाले थे
  • बरगढ़ जिले के पथरसेनी कुडा स्थित मंदिर में दर्शन कर लौटते समय हुआ हादसा
  • छत्तीसगढ़ प्रशासन ने शवों को ले जाने की व्यवस्था की
  • मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शोक व्यक्त किया
  • मृतक के परिजनों के लिए 4-4 लाख मुआवजा की घोषणा

हादसे के बाद से 7 लोग थे लापता, 6 शव बरामद

इससे पहले, 2 लोगों के शवों को बाहर निकाला गया था और 7 लोग लापता थे. उन्होंने कहा कि नदी के हीराकुद जलाशय से 6 और शव बरामद किये गये. अधिकारी ने बताया कि शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है.

5 स्कूबा गोताखोरों ने 2 महिला और 3 लड़कों के शव का पता लगाया

उन्होंने कहा कि 5 स्कूबा गोताखोरों ने अपने हेडगियर में कैमरे लगाकर तलाश अभियान शुरू किया और उन्होंने दो महिलाओं तथा तीन लड़कों के शवों का पता लगाया. अधिकारी ने बताया कि तलाशी अभियान अब भी जारी है. हादसे में मारे गये सभी लोग पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ के रहने वाले थे.

यह जानकर बहुत दु:ख हुआ कि ओडिशा में झारसुगुड़ा के निकट महानदी में एक नाव पलट जाने से कई लोगों की जान चली गयी. शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना. मैं हादसे में प्रभावित हुए सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं.

द्रौपदी मुर्मू, राष्ट्रपति

50 लोग पथरसेनी कुडा मंदिर के दर्शन कर नाव से लौट रहे थे

यह हादसा तब हुआ जब करीब 50 लोग ओडिशा के बरगढ़ जिले के पथरसेनी कुडा स्थित मंदिर के दर्शन करने के बाद नौका से लौट रहे थे. नाव झारसुगुड़ा जिले के रेंगाली पुलिस थाना अंतर्गत शारदा घाट पहुंचने वाली थी कि इससे पहले यह हादसे की शिकार हो गयी.

स्थानीय मछुआरों ने 40 यात्रियों को सुरक्षित बचाया

अधिकारी ने बताया कि स्थानीय मछुआरों ने 40 यात्रियों को बचाया. सूत्रों ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रशासन ने शवों को ले जाने की व्यवस्था की है. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने नाव पलटने की घटना पर दुख व्यक्त किया और प्रत्येक मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की.

ओडिशा में नाव दुर्घटना में लोगों की मौत से व्यथित हूं : राष्ट्रपति

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शनिवार को कहा कि वह ओडिशा में एक नाव दुर्घटना में लोगों की मौत के बारे में जानकर व्यथित हैं. उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की. द्रौपदी मुर्मू ने सोशल मीडिया साइट ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘यह जानकर बहुत दु:ख हुआ कि ओडिशा में झारसुगुड़ा के निकट महानदी में एक नाव पलट जाने से कई लोगों की जान चली गयी. शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना. मैं हादसे में प्रभावित हुए सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं.’

Also Read : झारसुगुड़ा : महानदी में नाव पलटी, तीन की मौत, तीन लापता

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें