29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

राउरकेला : भाजपा ने विचाराधीन आपराधिक मामला छिपाने का लगाया आरोप, मंत्री का नामांकन रद्द करने की मांग

भाजपा ने गंभीर आपराधिक मामले का उल्लेख जानबूझकर फॉर्म-26 में नहीं करने का लगाया आरोप लगाते हुए श्रम मंत्री शारदा प्रसाद नायक का नामांकन रद्द करने की मांग की है. हालांकि, बीजद ने मंत्री के हलफनामे को सटीक बताते हुए भाजपा पर झूठा आरोप लगाने की बात कही है.

राउरकेला. आगामी विधानसभा चुनाव के लिए हाई प्रोफाइल राउरकेला विधानसभा सीट पर नामांकन पत्र जांच करने के दिन बीजद व भाजपा आमने-सामने आ गये हैं. इसमें जहां भाजपा की ओर से बीजद प्रत्याशी शारदा नायक द्वारा गलत हलफनामा दाखिल करने की बात कहकर उनका नामांकन रद्द करने की मांग की गयी हैं, वहीं बीजद की ओर से इसे हार के भय से भाजपा की ओर से झूठा प्रचार करने का आरोप लगाया गया है. इस हाई प्रोफाइल सीट को लेकर बीजद व भाजपा के बीच शुरू घमासान शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है. जानकारी के अनुसार, इस हाई प्रोफाइल विधानसभा सीट से बीजद उम्मीदवार के तौर पर श्रम मंत्री शारदा प्रसाद नायक ने नामांकन दाखिल किया है. वहीं उनके खिलाफ भाजपा के कद्दावर नेता दिलीप राय मैदान में हैं. लेकिन शनिवार को नामांकन पत्रों की जांच के दौरान भाजपा की ओर से आपत्ति जतायी गयी है कि शारदा के खिलाफ एक विचाराधीन गंभीर आपराधिक मामले को जानबूझकर फॉर्म-26 में उल्लेख नहीं किया गया है.

एसडीजेएम कोर्ट में विचाराधीन आपराधिक मामले की जानकारी नहीं दी

भाजपा की ओर से हाईकोर्ट के वकील पितांबर आचार्य ने कहा है कि शारदा की ओर से दाखिल फॉर्म-26 एफिडेविट में एसडीजेएम कोर्ट में विचाराधीन आपराधिक मामले की जानकारी नहीं दी गयी है. साथ ही उनके पैतृक गांव की अचल संपत्ति का भी विवरण नहीं दिया गया है. इसे लेकर भाजपा के वकील पीतांबर आचार्य ने भारतीय निर्वाचन आयोग के कानून तथा धारा 324 के अनुसार शारदा नायक का नामांकन रद्द करने की अपील रिटर्निंग ऑफिसर व पानपोष एसडीएम से की गयी है. वे क्या निर्णय लेते हैं, इस पर सभी की नजरें टिकी हैं.

हारने के डर से भाजपा कर रही झूठा प्रचार : बीजद

बीजद ने आरोपों को लेकर भाजपा पर पलटवार किया है. रिटर्निंग ऑफिसर के कार्यालय में हुई प्रथम दौर की बातचीत में शारदा नायक के हलफनामे को गलत बताकर नामांकन रद्द करने के लिए भाजपा के वकील के तर्क को बीजद के वकीलों से ओर से गलत बताया गया है. साथ ही उनका हलफनामा सटीक होने का दावा किया गया है. लेकिन दूसरे दौर की बातचीत में जहां बीजद प्रत्याशी के समर्थक उपस्थित थे. वहीं भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में तर्क देनेवाले वकील तथा समर्थक उपस्थित नहीं थे. इसके साथ ही बीजद ने इसे चुनाव हारने के डर से भाजपा का झूठा प्रचार बताकर आम जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है. साथ ही कहा है कि सत्य की जीत अवश्य होगी तथा आगामी चुनाव में भाजपा को यहां की जनता ही उचित जवाब देगी.

एक लोकसभा, सात विधानसभा के लिए अंतिम सूची सोमवार को होगी जारीआगामी लोकसभा व विधानसभा चुनाव को लेकर सुंदरगढ़ जिले में आगामी 20 मई को मतदान होना है. जिसमें तीन मई काे नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि थी. वहीं चार मई शनिवार को नामांकन पत्रों की जांच की गयी. लेकिन देर शाम तक अधिकारिक तौर पर किस उम्मीदवार का पर्चा कायम रहा तथा किसका पर्चा कटा, इसकी जानकारी साझा नहीं की गयी है. जिससे अब आगामी छह मई सोमवार को सुंदरगढ़ लाेकसभा समेत सात विधानसभा राउरकेला, रघुनाथपाली, बिरमित्रपुर, बणई, राजगांगपुर, तलसरा व सुंदरगढ़ में उम्मीदवारों की अंतिम सूची प्रकाशित की जायेगी. जिसके बाद ही अधिकारिक तौर पर इसका पता चल सकेगा कि किसका पर्चा कटा व किसका पर्चा कायम रहा है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें