1. home Hindi News
  2. state
  3. maharashtra
  4. raj thackeray wrotes open letter to marathas that where doing azaan there read hamuman chalisa prt

राज ठाकरे के खुला खत के बाद मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू, मनसे नेताओं को पुलिस का नोटिस

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने एक प्रेस रिलीज के जरिए हिंदुओं से अपील की 4 मई को अगर लाउडस्पीकर से अजान होती है तो, उन्हीं जगहों पर लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाएं. राज ठाकरे ने कहा है कि, लाउडस्पीकर धार्मिक मुद्दा नहीं, यह एक सामाजिक मुद्दा है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
राज ठाकरे
राज ठाकरे
Twitter

महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर और हनुमान चालीसा को लेकर सियासत जारी है. इस जंग के बीच महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने साफ कर दिया है कि, अगर आज यानी 4 मई को लाउडस्पीकर से अजान हुई तो वो लाउडस्पीकर से ही हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. उनके इस खुला खत के बाद मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई जिलों में मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा (hanuman chalisa) का पाठ शुरू हो गया है. टीवी चैनल आज तक के अनुसार, मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा के पाठ के दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है. पुलिस ने मनसे नेताओं को नोटिस जारी किया है और मनसे प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया है. उधर, राज ठाकरे के घर के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

वहीं, लाउडस्पीकर विवाद के बीच मनसे की ओर से मंदिर में महा आरती की घोषणा के बाद पुणे के कस्बा पेठ इलाके में पुनेश्वर हनुमान मंदिर के पास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

प्रेस रिलीज जारी कर कही ये बात: बीच महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने एक प्रेस रिलीज के जरिए हिंदुओं से अपील की 4 मई को अगर लाउडस्पीकर से अजान होती है तो, उन्हीं जगहों पर लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाएं. उन्होंने कहा कि तभी इन्हें इससे होने वाली परेशानी का पता चलेगा.

राज ठाकरे के खुला खत के बाद मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू, मनसे नेताओं को पुलिस का नोटिस
राज ठाकरे के खुला खत के बाद मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू, मनसे नेताओं को पुलिस का नोटिस
राज ठाकरे के खुला खत के बाद मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू, मनसे नेताओं को पुलिस का नोटिस

औरंगाबाद में एफआईआर दर्ज: एक तरफ राज ठाकरे लाउडस्पीकर को लेकर अपनी मांग पर अड़े हैं तो वही दूसरी ओर उनके खिलाफ औरंगाबाद में एक एफआईआर दर्ज की गई है. दर्ज मामले में राज ठाकरे के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने का आरोप है.

धार्मिक नहीं सामाजिक मुद्दा: राज ठाकरे ने कहा है कि, लाउडस्पीकर धार्मिक मुद्दा नहीं, यह एक सामाजिक मुद्दा है. राज ठाकरे ने कहा कि हम देश में शांति और अमन चैन भंग नहीं करना चाहते. लेकिन अब समय आ गया है कि लाउडस्पीकर मुद्दे पर ध्यान दिया जाए. उन्होंने ये भी कहा कि अगर लाउडस्पीकर की बात पर ध्यान नहीं दिया गया तो हम इस मुद्दे पर अडिग रहेंगे.

अपने खत में राज ठाकरे ने ये भी लिखा है कि सामाजिक जिम्मेदारी का ख्याल रखते हुए जिन मस्जिदों ने लाउडस्पीकर उतारने का फैसला किया है, मैं उनका स्वागत करता हूं. उन्होंने हिन्दू समुदाय के लोगों से कहा है कि वो इस बात का खास ख्याल रखें कि उनकी तरफ से भी वैसे इलाकों में रहने वाले लोगों को कोई परेशानी न हो.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें