1. home Home
  2. state
  3. maharashtra
  4. bulli bai app updates accused arrested from bangalore know details amh

Bulli Bai App: अब सच आएगा सामने! जानें कौन है वो छात्र जिसे पुलिस ने दबोचा

मुंबई साइबर पुलिस थाने ने ऐप को विकसित करने वालों और इसे बढावा देने वाले ट्विटर हैंडल के खिलाफ भी मामला दर्ज किया था. सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की अनुमति लिये बिना ही उनकी तस्वीरों से छेड़छाड़ कर उन्हें ‘बुली बाई' ऐप पर ‘नीलामी' के लिए रखा गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bulli Bai App news
Bulli Bai App news
fb/sybolic

इन दिनों ‘बुली बाई' ऐप को लेकर हंगामा मचा हुआ है. मामले को लेकर मुंबई साइबर पुलिस ने कार्रवाई की है और बेंगलुरू के 21 वर्षीय इंजीनियरिंग छात्र को हिरासत में लिया है. इस संबंध में एक अधिकारी की ओर से जानकारी दी गई है. यहां आपको बता दें कि पुलिस को मेजबान मंच ‘गिटहब' के ऐप पर ‘नीलामी' के लिए मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड किये जाने की शिकायत मिली थी जिसके बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

कार्रवाई के संबंध में अधिकारी ने बताया कि संदिग्ध को हिरासत में लेने का काम किया जा चुका है. मामले में आगे की कार्रवाई जारी है. मुंबई साइबर पुलिस थाने ने ऐप को विकसित करने वालों और इसे बढावा देने वाले ट्विटर हैंडल के खिलाफ भी मामला दर्ज किया था. सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की अनुमति लिये बिना ही उनकी तस्वीरों से छेड़छाड़ कर उन्हें ‘बुली बाई' ऐप पर ‘नीलामी' के लिए रखा गया था.

गौर हो कि एक साल से भी कम वक्त में दूसरी बार ऐसा मामला सुनने में आया है. यह ऐप ‘सुली डील्स' की तरह है, जिसके कारण पिछले साल इसी तरह का विवाद पैदा हुआ था.

जावेद अख्तर ने क्या कहा

इधर दिग्गज लेखक जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने 100 महिलाओं की ऑनलाइन नीलामी और धर्म संसद मामले पर अपने विचार रखे हैं. साथ ही इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की चुप्पी पर सवाल खड़े हैं. जावेद अख्तर ने मुस्लिम महिलाओं के उत्पीड़न पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी को हैरान कर देने वाली बात बताई है. उन्होंने कहा कि मुसलमान महिलाओं की तसवीरों के साथ हो रहा छेड़छाड़ गलत है.

साजिश कामयाब नहीं होगी: नकवी

इस बीच एक ऐप के जरिए मुस्लिम महिलाओं को निशाना बनाने को लेकर मचे बवाल के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि देश की मिली-जुली संस्कृति के खिलाफ कोई भी ‘साइबर आपराधिक सांप्रदायिक साजिश कामयाब नहीं हो पाएगी. पत्रकारों से बातचीत करते हुए केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि सरकार मामले में कार्रवाई कर रही है और महिलाओं को निशाना बनाना स्वीकार्य नहीं है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें