25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Lok Sabha 2024 : ‘अबकी बार-400 पार’ के लिए बीजेपी और मोदी को करने होंगे ये तीन काम

Lok Sabha 2024 : लोकसभा चुनाव 2024 के लिए सभी राजनीतिक दल कमर कस रही है. इधर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने इस बार का टारगेट 400 सीटों के पार रखा है. आइए आज हम चर्चा करते है कि आखिर एनडीए गठबंधन को इस लक्ष्य तक पहुंचना है तो क्या करना होगा…

Lok Sabha 2024 : लोकसभा चुनाव 2024 के लिए सभी राजनीतिक दल कमर कस रही है. इधर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने इस बार का टारगेट 400 सीटों के पार रखा है. पिछली बार के टारगेट को सफलतापूर्वक पार करने के बाद अब बीजेपी और नरेंद्र मोदी की नजर अपने नए लक्ष्य पर टिकी हुई है. लेकिन, क्या एनडीए गठबंधन इस टारगेट को पूरा कर पाएगी? क्या नरेंद्र मोदी का जादू इस बार पिछले बार से ज्यादा चलेगा? या फिर विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. बीजेपी को झटका देगी? ऐसे कई कयास लगने शुरू हो चुके है. अब ऐसे में अगर बात करें कि सही मायने में इस टारगेट तक पहुंचना आसान है या नहीं तो जवाब यही मिलेगा कि मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं. आइए आज हम चर्चा करते है कि आखिर एनडीए गठबंधन को इस लक्ष्य तक पहुंचना है तो क्या करना होगा…

17021 Pti02 17 2024 000209B 1
Lok sabha 2024

Lok Sabha 2024 : पहला काम बीजेपी के गढ़ में पकड़ बनाए रखना

साल 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha 2024) में भारतीय जनता पार्टी का करीब 12 राज्यों में प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन रहा था. जम्मू कश्मीर, बिहार, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात, राजस्थान, झारखंड, छत्तीसगढ़, हरियाणा, दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और गोवा लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी का गढ़ माना जा रहा है. बीजेपी को चाहिए कि इन राज्यों में एनडीए गठबंधन को अपनी धाक बनाए रखने की जरूरत है. आंकड़ों की बात करें तो इन राज्यों की कुल 210 लोकसभा सीटों में से बीजेपी के खाते में 198 सीटें आई थी. ऐसे में इस स्ट्राइक रेट को अभी भी बरकरार रखने से पार्टी को चुनावी परिणाम और उनके लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिल सकती है.

Lok Sabha 2024
Lok sabha 2024

Lok Sabha 2024 : दूसरा काम खराब प्रदर्शन वाले राज्यों में देना होगा विशेष ध्यान

लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम के अनुसार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, केरल, तेलंगाना, असम, पंजाब, कश्मीर और पूर्वोत्तर राज्यों में बीजेपी को मनचाहा फल नहीं मिल पाया था. इन राज्यों में एनडीए का स्ट्राइक रेट मात्र 40 प्रतिशत रहा था. इन राज्यों में लोकसभा की कुल 285 सीटें आती है. ऐसे में यहां बीजेपी को अपना प्रदर्शन और सुधारने की जरूरत है और करीब 161 सीटें जीतनी है ताकि उससे जीत का स्ट्राइक रेट 57 फीसदी हो जाये. अगर पार्टी इस मुकाम को हासिल कर लेती है तो उनके सामने मात्र एक चुनौती बचेगी और गठबंधन के अबकी बार-400 पार के नारे और लक्ष्य की प्राप्ति हो जाएगी.

Lok Sabha 2024
Lok sabha 2024

Lok Sabha 2024 : तीसरा काम महाराष्ट्र में शिवसेना को करना होगा शानदार प्रदर्शन

साल 2019 के आम चुनाव (Lok Sabha 2024) में शिवसेना एनडीए के साथ मिलकर मैदान में उतरी थी और पार्टी ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था. राज्य के कुल 48 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 23 और शिवसेना ने 18 सीटों पर जीत हासिल की थी. ऐसे में एनडीए गठबंधन ने राज्य के 48 विधानसभा सीटों में से 41 सीटों पर जीत दर्ज की थी. इस बार भी अलायंस को इसी तरह के प्रदर्शन की दरकार होगी. हालांकि, शिवसेना अब दो गुट में बंट चुका है. इसलिए ये जरूरी है कि बीजेपी को यहां शिवसेना की पिछली सीटों को बरकरार रखना होगा. ऐसे में सबसे जरूरी यह होगा कि शिवसेना (शिंदे गुट) इस बार भी शनर प्रदर्शन करें और कम-से-कम 18 सीटें अपने नाम करें.

Lok Sabha 2024 के तारीखों का ऐलान बाकी

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए तारीखों का ऐलान अभी भी बाकी है. लेकिन, उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी एक से दो महीनों के भीतर इस प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा. ऐसे में अगर चुनाव की तारीखों का ऐलान होता है तो बीजेपी की कोशिश होगी कि दुबारा सत्ता में आए वहीं, विपक्षी गठबंधन को वापस सत्ता में आने के लिए एक कड़ी परीक्षा देनी पड़ सकती है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें