32.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

झारखंड : 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर परहिया और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर

JJMP Zonal Commander Surrender|झारखंड में 10 लाख रुपए के इनामी जोनल कमांडर ने सरेंडर कर दिया है. उग्रवादी संगठन के जोनल कमांडर ने लातेहार जिले में सरेंडर किया.

JJMP Zonal Commander Surrender| लातेहार, चंद्र प्रकाश सिंह : झारखंड में 10 लाख रुपए के इनामी जेजेएमपी जोनल कमांडर ने सरेंडर कर दिया है. उग्रवादी संगठन जेजेएमपी के जोनल कमांडर ने लातेहार जिले में सरेंडर किया. जोनल कमांडर के साथ एरिया कमांडर दीपक भूइयां उर्फ कुंदन ने भी आत्मसमर्पण किया है. इस अवसर पर जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अंजनी अंजन के साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के आईजी और डीआईजी भी मौजूद थे.

ऐसे JJMP जोनल कमांडर बना मनोहर परहिया

मौके पर आईजी राजकुमार लकड़ा ने बताया कि झारखंड सरकार की आत्मसमर्पण नीति, नई दिशा से प्रभावित होकर मनोहर परहिया और दीपक ने आत्मसमर्पण किया है. उन्होंने बताया कि मनोहर गांव के कुछ युवकों के साथ वर्ष 2010 में भाकपा माओवादी संगठन में शामिल हुआ था. इसके बाद वर्ष 2011 में मनोहर, जोलन कमांडर उपेंद्र सिंह खरवार के संपर्क में आकर जेजेएमपी संगठन में शामिल हो गया. उस समय से लगातार मनोहर उपेंद्र के दस्ता में चलने लगा. वर्ष 2018 में उपेंद्र ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण दिया. इसके बाद मनोहर को जोनल कमांडर बनाया गया.

दीपक के खिलाफ एक और मनोहर के खिलाफ कुल 13 मामले दर्ज

चतरा एसपी अंजनी अंजन ने बताया कि मनोहर के संपर्क में आकर दीपक वर्ष 2018 में जेजेएमपी संगठन से जुड़ा था. दीपक के खिलाफ छिपादोहर में एक मामला दर्ज है, जबकि मनोहर के खिलाफ लातेहार और पलामू जिले के विभिन्न थाने में कुल 13 मामले दर्ज हैं. एसपी अंजनी अंजन ने बताया कि 28 सितंबर 2021 में लातेहार के सलैया जंगल के डगरा पहाड़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में मनोहर शामिल था, इस मुठभेड़ में झारखंड जगुआर के डिप्टी कमांडेंट राजेश कुमार शहीद हो गये थे. इसके अलावा मनोहर कई बड़ी घटनाओं में शामिल रहा है.

आत्मसमर्पण के बाद बुके देकर किया गया सम्मानित

जानकारी के मुताबिक, 10 लाख रुपये का इनामी जेजेएमपी जोनल कमांडर मनोहर परहिया छिपादोहर और एरिया कमांडर दीपक भूइयां पाकी का रहने वाला है. दोनों उग्रवादियों के आत्मसमर्पण करने के बाद आईजी राजकुमार लकड़ा, सीआरपीएफ के डीआईजी पंकज कुमार, पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन, समादेष्टा रविशंकर मिश्रा, सीआरपीएफ 11 बटालियन के कमांडेट वेद प्रकाश त्रिपाठी, 214 बटालियन के प्रभारी कमांडेट अभिनव आंनद, द्वितीय कमान अधिकारी विनोद कुमार कनौजिया और रंधीर कुमार ने बुके देकर उनका स्वागत किया.

Also Read: झारखंड: 10 लाख के इनामी नक्सली साहेबराम मांझी को मिली पारसनाथ जोन की कमान, संगठन की मजबूती में जुटा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें