25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सरहुल की तैयारी : सरना झंडों से पटी रांची, 10 को उपवास, जलरखाई और 11 को भव्य शोभायात्रा

सरहुल की तैयारी रांची में अंतिम चरण में है. पूरे शहर को सरना झंडों से पाट दिया गया है. 10 को उपवास और जलरखाई है. 11 अप्रैल को भव्य शोभायात्रा निकलेगी.

सरहुल पर्व की शुरुआत 10 अप्रैल से हो रही है. पहला दिन उपवास और जलरखाई पूजा होगी. 11 अप्रैल को सरहुल की शोभायात्रा निकाली जायेगी. वहीं 12 अप्रैल को फूलखोंसी है. सरहुल को लेकर सरना धर्मावलंबियों में काफी उत्साह है. तैयारियां अंतिम चरण में हैं. शहर की सड़कें और गलियां सफेद और लाल पट्टियों वाले सरना झंडा से पट गयी हैं. सरना स्थलों की साफ-सफाई हो रही है. गड्ढों को भरा जा रहा है.

सरहुल के लिए सज रहा हातमा का सरना पूजा स्थल

हातमा स्थित सरना पूजा स्थल की सफाई हो रही है. जगलाल पाहन और हातमा के ग्रामीणों की निगरानी में सरना स्थल के चबूतरे-परिसर की सफाई और साज-सज्जा का काम किया गया है. सरना स्थल तक पहुंचने के रास्ते को भी ठीक किया जा रहा है. करमटोली और मोरहाबादी स्थित आदिवासी हॉस्टल के विद्यार्थी सरहुल पूजा की तैयारियों में जुटे हुए हैं. विभिन्न सरना समितियों के सदस्य शोभायात्रा को सफल और भव्य बनाने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं. झांकियों की रूपरेखा तैयार की जा रही है. परिधान, साज-सजावट, पारंपरिक वाद्ययंत्र और सरहुल गीतों पर खास ख्याल रखा जा रहा है.

सरहुल पूर्व संध्या समारोह के लिए तैयार हो रहा दीक्षांत मंडप

राजधानी रांची में 10 अप्रैल को मोरहाबादी स्थित दीक्षांत मंडप में सरहुल पूर्व संध्या समारोह होगा. आयोजन को सफल बनाने में सरना नवयुवक संघ के पदाधिकारी जुटे हुए हैं. विभिन्न समितियाें को अहम जिम्मेदारी दी गयी है. समारोह में शामिल होनेवाले समूहों की सूची को अंतिम रूप दिया जा रहा है. स्वर परीक्षण हो चुका है. जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा विभाग में अखड़ा, दर्शक दीघा और पूरे परिसर को साफ किया जा रहा है. परिसर को सरना झंडा से सजाया जा रहा है. इसके अलावा शहर व शहर से सटे सभी सरना स्थलों को भी साफ कर तैयार किया जा रहा है.

Also Read : आदिवासी हॉस्टल के डाइनिंग हॉल में हुआ था पहला सरहुल पूर्व संध्या समारोह

सिरमटोली सरना स्थल पर इस बार शोभायात्रा को हो सकती परेशानी

सिरमटोली सरना स्थल सरहुल पूजा के सबसे महत्वपूर्ण केंद्रों में एक है. रांची शहर से निकलनेवाली सभी शोभायात्रा सिरमटोली पहुंचती है. फिर वापस अपने मौजा के सरना स्थल में पहुंचती है. लेकिन इस वर्ष फ्लाइओवर निर्माण कार्य की वजह से स्टेशन रोड वाली सड़क बंद हो गयी है. इसलिए सिरमटोली सरना स्थल में जाने और वापस लौटने का रास्ता सिरमटोली चौक से होकर ही होगा. ऐसे में इस बार भीड़ काफी ज्यादा होगी और शोभायात्रा में शामिल लोगों को परेशानी हो सकती है. हालांकि न्यू गार्डेन सिरमटोली सरना समिति के 50 से अधिक वॉलिंटियर सजग रहेंगे. साथ ही जिला प्रशासन की तरफ से भी पदाधिकारियों और पुलिस के जवानों की तैनाती की जायेगी. सिरमटोली सरना स्थल में पड़े मिट्टी के ढेर को समतल किया जा चुका है. हालांकि सरना स्थल तक पहुंचने के रास्ते में अभी भी धूल हैं, जिसे साफ करने की जरूरत है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें