33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Ranchi Land Scam: लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग के बीच हेमंत सोरेन की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

हेमंत सोरेन की याचिका पर लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग के बीच सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी. मामला कथित जमीन घोटाला से जुड़ा है.

Ranchi Land Scam: झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की याचिका पर सोमवार (13 मई) को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी. जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दीपांकर दत्ता की पीठ हेमंत सोरेन की याचिका पर सुनवाई करेगी, जिसमें झारखंड के पूर्व सीएम ने कथित भूमि घोटाला (Ranchi Land Scam) से जुड़े मनी लाउंडरिंग केस में अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी है.

झारखंड हाईकोर्ट ने खारिज कर दी थी हेमंत सोरेन की याचिका

झारखंड हाईकोर्ट ने हेमंत सोरेन की उस याचिका को 3 मई को खारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी थी. इस आदेश के खिलाफ झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे. हेमंत सोरेन ने लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए अंतरिम जमानत भी मांगी थी. उन्होंने कहा था कि उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ याचिका पर अदालत की ओर से जब तक फैसला नहीं आ जाता, तब तक उन्हें लोकसभा चुनाव में प्रचार करने की अनुमति दी जाए.

10 मई को सुप्रीम कोर्ट ने हेमंत की याचिका का किया निस्तारण

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 10 मई को हेमंत सोरेन की उस याचिका का निस्तारण कर दिया था, जिसमें उन्होंने झारखंड हाईकोर्ट को यह निर्देश देने का अनुरोध किया था कि मनी लाउंडरिंग केस में उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ उनकी (हेमंत सोरेन की) याचिका पर वह फैसला सुनाए.

हेमंत सोरेन के वकील से जज ने कहा- यह याचिका बेकार हो गई है

हेमंत सोरेन की याचिका पर पीठ ने कहा कि यह याचिका बेकार हो गई है, क्योंकि हाईकोर्ट 3 मई को अपना फैसला सुना चुका है. साथ ही कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) नेता पहले ही इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे चुके हैं. जज ने हेमंत सोरेन के वकील कपिल सिब्बल और अरुणाभ चौधरी से कहा कि यह याचिका बेकार हो गई है.

हेमंत सोरेन ने दाखिल की थी अपील याचिका

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि एडवोकेट प्रज्ञा बघेल के माध्यम से हेमंत सोरेन ने एक अपील दायर की थी, जिसमें कहा था कि हाईकोर्ट ने Ranchi Land Scam मामले में उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ दायर उनकी याचिका खारिज कर दी थी, इसमें त्रुटि थी. बता दें कि हाईकोर्ट ने धनशोधन मामले में 3 मई को हेमंत सोरेन की याचिका खारिज कर दी थी और उन्हें जमानत देने से इंकार कर दिया था.

31 जनवरी को हेमंत सोरेन को ईडी ने किया था गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि हेमंत सोरेन को 31 जनवरी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने Ranchi Land Scam मामले में गिरफ्तार कर लिया था. झारखंड के मुख्यमंत्री ने गिरफ्तारी से पहले अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. इस समय हेमंत सोरेन न्यायिक हिरासत में रांची के बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में बंद हैं.

दस्तावेज में हेराफेरी कर करोड़ों की कमाई का है हेमंत पर आरोप

केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी ने हेमंत सोरेन पर आरोप लगाया है कि उन्होंने करोड़ों रुपए की जमीन हासिल करने के लिए फर्जीवाड़ा का सहारा लिया. एजेंसी ने कहा है कि सोरेन ने फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल करके ‘डमी’ (फर्जी) विक्रेता और खरीदार दिखाकर आधिकारिक रिकॉर्ड में हेरफेर के जरिए ‘भारी मात्रा में आपराधिक आय’ अर्जित की.

Also Read

हेमंत सोरेन से जुड़े मामले की जमीन के एक हिस्से की फर्जी डीड इरशाद ने लिखी, इनके इशारे पर करता था काम

हेमंत सोरेन झारखंड हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट से हेमंत सोरेन को राहत नहीं, याचिका पर कही ये बड़ी बात

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें