1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. radhakrishna kishore a five time mla from chhatarpur join rjd smj

छतरपुर के 5 बार विधायक रह चुके राधाकृष्ण किशोर की पांचवीं पार्टी राजद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता की मौजूदगी में छतरपुर के पूर्व विधायक राधाकृष्ण किशोर ने थामा राजद का दामन.
Jharkhand news : श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता की मौजूदगी में छतरपुर के पूर्व विधायक राधाकृष्ण किशोर ने थामा राजद का दामन.
सोशल मीडिया.

Jharkhand news, Ranchi news : रांची : पलामू जिला अंतर्गत छतरपुर विधानसभा के पूर्व विधायक राधाकृष्ण किशोर ने राष्ट्रीय जनता दल का दामन थाम लिया है. इससे पहले श्री किशोर आजसू पार्टी में थे. श्री किशोर की यह पांचवीं पार्टी है. वहीं, श्री किशोर छतरपुर विधानसभा से 5 बार विधायक रह चुके हैं.

रांची में आयोजित मिलन समारोह में श्री किशोर ने श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता की मौजूदगी में राजद का दामन थामा है. पिछले दिनों रांची के रिम्स स्थित केली बंगले में इलाजरत राजद सुप्रीमो लालू यादव से श्री किशोर ने मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद से ही कयास लगाये जा रहे थे कि श्री किशोर जल्द ही राजद का दामन थामेंगे.

राजद का दामन थामने के बाद पूर्व विधायक श्री किशाेर ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए राजद में शामिल होने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि मंत्री सत्यानंद भोक्ता, राजद झारखड प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मिल कर राज्य में राजद को मजबूती प्रदान करने में सहयोग रहेगा.

बता दें कि पूर्व विधायक राधाकृष्ण किशोर 5 बार विधायक रह चुके हैं. 3 बार कांग्रेस, एक बार जदयू और एक बार बीजेपी के टिकट से छतरपुर से विधायक बन चुके हैं. पूर्व विधायक की राजनीतिक सफर की बात करें, तो सबसे पहले कांग्रेस में थे. कांग्रेस से मोहभंग होने के बाद जदयू और फिर बीजेपी का दामन थामा. लेकिन, वर्ष 2019 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी से टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर श्री किशोर ने आजसू का दामन थामा था. कुछ समय बाद श्री किशोर का आजसू से भी मोहभंग हो गया और एक अक्तूबर, 2020 को उन्होंने राजद का दामन थाम लिया है.

छतरपुर विधानसभा सीट से श्री किशोर कांग्रेस की टिकट से वर्ष 1980, 1985 और 1995 में विधायक बने थे. झारखंड अलग राज्य बनने के बाद श्री किशोर वर्ष 2005 में जदयू की टिकट से चुनाव लड़े और विधायक बने. इसके बाद श्री किशोर जदयू छोड़ बीजेपी का दामन थामा और वर्ष 2014 के चुनाव में बीजेपी की टिकट से चुनाव जीत कर विधायक बने थे. वर्ष 2019 के विधानसभा चुनाव में श्री किशोर ने आजसू के टिकट पर भाग्य अाजमाये, लेकिन चुनाव हार गये.

बता दें कि श्री किशोर बीजेपी के मुख्य सचेतक भी रह चुके हैं. पलामू क्षेत्र के दिग्गत नेताओं में शुमार श्री किशोर झारखंड गठन से पहले बिहार विधानसभा और फिर झारखंड विधानसभा के उत्कृष्ट विधायक रह चुके हैं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें