25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत दो माह में गैस कंपनियों ने झारखंड में बांटे 1.42 लाख कनेक्शन

हाल यह है कि झारखंड में 36.40 लाख ग्राहकों तक योजना भले ही पहुंच गयी है. लेकिन, ग्राहक दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं.

रांची : प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत तीन गैस कंपनियों (इंडेन, भारत गैस और एचपी) ने 16 दिसंबर 2023 तक (दो माह में) झारखंड में 1,42,860 कनेक्शन बांटे. इसमें इंडेन ने 78,753, भारत गैस ने 25,252 और एचपी गैस ने 38,855 कनेक्शन बांटे हैं. इसकी शुरुआत 12 अक्तूबर 2023 को हुई थी. वहीं, झारखंड में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत पहले से कुल 36.40 लाख ग्राहक हैं. इनमें इंडेन के 19.35 लाख, एचपी गैस के 10.03 लाख और भारत गैस के 7.01 लाख ग्राहक हैं. लाभुकों के बीच योजना के तहत नि:शुल्क भरा हुआ सिलेंडर, रेगुलेटर, चूल्हा, पाइप, गैस पासबुक दिया जा रहा है. लाभुकों से कागजात के रूप में राशन कार्ड की फोटोकॉपी, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी, परिवार में सभी व्यस्क का आधार कार्ड, केवाइसी फॉर्म और फोटो लिये जा रहे हैं. जांच के दौरान यह देखा जाता है कि लाभुकों के पास पहले से कोई गैस कनेक्शन है या नहीं.

दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे लाभुक :

झारखंड में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की स्थिति ठीक नहीं है. हाल यह है कि झारखंड में 36.40 लाख ग्राहकों तक योजना भले ही पहुंच गयी है. लेकिन, ग्राहक दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं. गैस कंपनी के अधिकारियों ने कहा कि सामान्य ग्राहकों का हर माह औसत खपत लगभग नौ किलो प्रति ग्राहक है. जबकि, उज्ज्वला योजना में हर माह औसत खपत 2.83 किलो प्रति ग्राहक है. झारखंड में ईंधन के कई वैकल्पिक साधन जैसे कोयला, लकड़ी आदि आसानी से उपलब्ध हैं. यही कारण है कि सिलिंडर की जगह लाभुक वैकल्पिक ईंधन से काम चला रहे हैं.

Also Read: जल्दी करा लें ये काम वर्ना बंद हो जायेगी एलपीजी की सब्सिडी, जानें क्या है सरकार का नया निर्देश

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत दो माह में गैस कंपनियों ने झारखंड में बांटे 1.42 लाख कनेक्शन

हाल यह है कि झारखंड में 36.40 लाख ग्राहकों तक योजना भले ही पहुंच गयी है. लेकिन, ग्राहक दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं.

रांची : प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत तीन गैस कंपनियों (इंडेन, भारत गैस और एचपी) ने 16 दिसंबर 2023 तक (दो माह में) झारखंड में 1,42,860 कनेक्शन बांटे. इसमें इंडेन ने 78,753, भारत गैस ने 25,252 और एचपी गैस ने 38,855 कनेक्शन बांटे हैं. इसकी शुरुआत 12 अक्तूबर 2023 को हुई थी. वहीं, झारखंड में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत पहले से कुल 36.40 लाख ग्राहक हैं. इनमें इंडेन के 19.35 लाख, एचपी गैस के 10.03 लाख और भारत गैस के 7.01 लाख ग्राहक हैं. लाभुकों के बीच योजना के तहत नि:शुल्क भरा हुआ सिलेंडर, रेगुलेटर, चूल्हा, पाइप, गैस पासबुक दिया जा रहा है. लाभुकों से कागजात के रूप में राशन कार्ड की फोटोकॉपी, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी, परिवार में सभी व्यस्क का आधार कार्ड, केवाइसी फॉर्म और फोटो लिये जा रहे हैं. जांच के दौरान यह देखा जाता है कि लाभुकों के पास पहले से कोई गैस कनेक्शन है या नहीं.

दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे लाभुक :

झारखंड में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की स्थिति ठीक नहीं है. हाल यह है कि झारखंड में 36.40 लाख ग्राहकों तक योजना भले ही पहुंच गयी है. लेकिन, ग्राहक दोबारा सिलिंडर भराने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं. गैस कंपनी के अधिकारियों ने कहा कि सामान्य ग्राहकों का हर माह औसत खपत लगभग नौ किलो प्रति ग्राहक है. जबकि, उज्ज्वला योजना में हर माह औसत खपत 2.83 किलो प्रति ग्राहक है. झारखंड में ईंधन के कई वैकल्पिक साधन जैसे कोयला, लकड़ी आदि आसानी से उपलब्ध हैं. यही कारण है कि सिलिंडर की जगह लाभुक वैकल्पिक ईंधन से काम चला रहे हैं.

Also Read: जल्दी करा लें ये काम वर्ना बंद हो जायेगी एलपीजी की सब्सिडी, जानें क्या है सरकार का नया निर्देश

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें