1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. one lakh corona test daily in jharkhand cm hemant said avoid over crowding at picnic spots smj

झारखंड में अब रोजाना हाेंगे 1 लाख कोरोना टेस्ट, CM हेमंत का निर्देश, पिकनिक स्थलों पर ना हो अधिक भीड़

झारखंड में बढ़ते कोरोना मामले को लेकर अब सरकार हर दिन एक लाख कोरोना टेस्ट करेगी. इसको लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने निर्देश दिये हैं. साथ ही नये साल को लेकर पिकनिक स्पॉटों पर अधिक भीड़ नहीं लगाने की अपील लोगों से की है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhandnews: स्वास्थ्य विभाग की बैठक में सीएम हेमंत सोरेन, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता व अन्य.
Jharkhandnews: स्वास्थ्य विभाग की बैठक में सीएम हेमंत सोरेन, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता व अन्य.
ट्विटर.

Jharkhand news: झारखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने उच्चस्तरीय बैठक की. इस बैठक में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर चिंता जतायी. साथ ही अधिकारियों से पिछले एक सप्ताह में कोरोना संक्रमण मामलों में वृद्धि की अद्यतन जानकारी ली गयी. मुख्यमंत्री ने नये साल को लेकर वाटरफॉल, पार्क, पिकनिक स्पॉट, मंदिर आदि जगहों पर कोविड-19 गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराये जाने का निर्देश अधिकारियों को दिया.

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि भीड़भाड़ वाले सभी जगहों पर कोरोना टेस्ट ड्राइव चलाएं. समीक्षा के क्रम में यह बात सामने आयी कि हजारीबाग एवं बोकारो जिला में कोरोना जांच के आंकड़ों के अनुसार कम टेस्टिंग और ज्यादा पॉजिटिव मामले आये हैं. इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इन दोनों जिलों में कोविड-19 जांच में तेजी लाने एवं संक्रमण के प्रसार को फैलने से रोकने के लिए उचित कदम उठाए जाएं, अधिकारी यह सुनिश्चित करें.

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि अभी राज्य में हर दिन करीब 35 हजार कोविड टेस्ट किये जा रहे हैं. मुख्यमंत्री ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देशित किया कि विभाग ऐसी व्यवस्था जल्द बनाएं जिससे हर दिन 75 हजार से लेकर एक लाख के बीच कोरोना टेस्ट हो, यह सुनिश्चित करें.

जनवरी माह के पहले सप्ताह फिर होगी समीक्षा

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले सप्ताह उच्चस्तरीय बैठक आयोजित कर कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के सभी पहलुओं का आकलन करते हुए आवश्यकतानुसार राज्य सरकार ठोस कदम उठाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 15 जनवरी तक राज्य में शत-प्रतिशत वयस्क लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित करें. जिन्होंने वैक्सिन का पहला डोज ले लिया है उनका ससमय दूसरा डोज भी लगे यह सुनिश्चित किया जाए. इसके अलावा जिन्होंने वैक्सिन का पहला डोज नहीं लिया है उनका कम से कम पहला डोज लगे यह सुनिश्चित करें.

बैठक में मुख्यमंत्री ने तीसरी लहर की तैयारियों के संबंध में अधिकारियों को कई महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश भी दिये. कहा कि अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन युक्त बेड, वेंटीलेटर, आईसीयू बेड, नॉर्मल बेड इत्यादि महत्वपूर्ण व्यवस्थाओं में किसी प्रकार की कमी न रहे इसकी तैयारियों का निरंतर मॉनिटरिंग करें.

मुख्यमंत्री ने राज्यवासियों से की अपील

मुख्यमंत्री ने राज्यवासियों से अपील की है कि वे फेस मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग सहित संक्रमण से बचाव का अन्य उपयोग हर हाल में करें. कहा कि नये साल में आयोजित होने वाले गैदरिंग पार्टियों में शामिल होने से बचें. पिछले एक सप्ताह में कोरोना संक्रमण के केस में वृद्धि हुई है. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि खुद के साथ-साथ अपने परिजनों की सुरक्षा करें. कोरोना संक्रमण के बदलते वेरिएंट को समझें. बेवजह भीड़-भाड़ वाले जगहों में न जाएं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण की पहली एवं दूसरी लहर में राज्य वासियों ने सरकार के साथ समन्वय स्थापित कर एक बेहतर उदाहरण पेश किया था. आगे भी हम सभी को जनहित में बेहतर करने की जरूरत है. कोरोना संक्रमण से हमसभी लोग लड़ेंगे भी और हर हाल में जीतेंगे भी. कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए राज्य सरकार झारखंड वासियों से सहयोग की अपेक्षा रखती है.

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, अपर मुख्य सचिव सह- स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव अमिताभ कौशल, झारखंड मेडिकल कॉरपोरेशन के एमडी नैंसी सहाय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें