1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand panchayat election 2022 noise of campaigning for the first phase stopped srn

झारखंड पंचायत चुनाव: पहले चरण के प्रचार का शोर थमा, 707 सीटों पर एक भी नामांकन नहीं

झारखंड पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान का प्रचार समाप्त हो गया है. कल पहले चरण का मतदान होगा. इनमें ग्राम पंचायत सदस्य के 6085, मुखिया के चार, पंचायत समिति सदस्य के 140 व जिला परिषद सदस्य के दो उम्मीदवार शामिल हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
झारखंड पंचायत चुनाव 2022
झारखंड पंचायत चुनाव 2022
प्रभात खबर ग्राफिक्स.

रांची: पंचायत चुनाव के पहले चरण में 6,231 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं. इनमें ग्राम पंचायत सदस्य के 6085, मुखिया के चार, पंचायत समिति सदस्य के 140 व जिला परिषद सदस्य के दो उम्मीदवार शामिल हैं. वहीं, 707 सीटों पर किसी प्रत्याशी की ओर से नामांकन किये जाने की वजह से सीटें खाली रह जायेंगी. ग्राम पंचायत सदस्य के 691, मुखिया के छह, पंचायत समिति सदस्य के नौ व जिला परिषद सदस्य के एक सीट पर किसी भी व्यक्ति ने नामांकन नहीं किया.

बचे 9,819 पदों के लिए 14 मई को मतदान होगा. इस चरण में 21 जिलों के 72 प्रखंडों के 1,127 ग्राम पंचायतों में चुनाव होना है. निर्विरोध निर्वाचन के बाद ग्राम पंचायत सदस्य के 3,707, मुखिया के 1,117, पंचायत समिति सदस्य के 1,256 व जिला परिषद के 143 पदों पर चुनाव होगा. इस बार चुनाव में कुल 30,221 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं. इनमें ग्राम पंचायत सदस्य के लिए 17,822, मुखिया के लिए 6,890, पंचायत समिति सदस्य के लिए 4,694 व जिला परिषद सदस्य के लिए 815 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

प्रत्याशियों पर हमला कर सकते हैं नक्सली

रांची. पंचायत चुनाव के दौरान प्रत्याशियों पर नक्सली हमला कर सकते हैं. इसकी सूचना मिलने के बाद पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के एसपी को अलर्ट किया है. इसमें निर्देश दिया गया है कि वैसे उम्मीदवार के संबंध में सूचना एकत्र करें, जो नक्सलियों के निशाने पर हैं. उन पर पुलिस-प्रशासन का समर्थक बता हमला किया जा सकता है.

साथ ही निर्देश दिया गया है कि वैसे बूथ व ग्राम पंचायत के संबंध में जानकारी एकत्र करें, जहां पूर्व में उम्मीदवारों के बीच हिंसक घटना घटी है. इसके अलावा वैसे बूथों की जानकारी एकत्र करने को कहा गया, जहां उम्मीदवारों के बीच प्रतिरोध के कारण हिंसा हो सकती है. वहीं नक्सलियों और अपराधियों की सक्रियता वाले बूथों को भी चिह्नित किया जा रहा है.

निष्पक्ष व पारदर्शी मतदान कराने का निर्देश

राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिला निर्वाची पदाधिकारियों सह उपायुक्तों को निष्पक्ष व पारदर्शी मतदान संपन्न कराने का निर्देश दिया है. मतदान के दिन सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था करने को कहा है. आयोग सभी जिला प्रशासन व राज्य सरकार से लगातार समन्वय बना कर मतदान कराने के लिए काम कर रहा है. आचार संहिता उल्लंघन से संबंधित शिकायतों की लगातार मॉनीटरिंग कर कार्रवाई भी की जा रही है.

पहले चरण में लगाये गये 32 हजार फोर्स

पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस मुख्यालय ने तैयारी पूरी कर ली है. पुलिस मुख्यालय की ओर से 32 हजार फोर्स लगाये गये हैं. एसपी को पुलिस मुख्यालय स्तर से फोर्स उपलब्ध करा दी गयी है. इनमें 200 कंपनी जिला सशस्त्र पुलिस बल, 40 जैप की इको कंपनी, होमगार्ड के जवान व लाठी बल हैं. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के बूथों तक पहुंचने के लिए अलग से निर्देश दिये गये हैं.

वहीं नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में मतदान से पहले नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने और बूथों के आसपास के इलाके को सुरक्षा के दृष्टिकोण से अपने प्रभाव क्षेत्र में लेने के लिए 126 कंपनी सीआरपीएफ की तैनाती की गयी है. सीआरपीएफ ने झारखंड जगुआर और जिला पुलिस बल के साथ नक्सलियों की गतिविधियों वाले इलाकों में अभियान की शुरुआत कर दी है.

आज से चलेगा डोर-टू-डोर जनसंपर्क

गुरुवार को राज्य के 72 प्रखंडों के 1,127 ग्राम पंचायतों में चुनाव प्रचार का भोंपू शांत हो गया. 13 मई को प्रत्याशी सिर्फ डोर-टू-डोर जनसंपर्क कर सकेंगे. 14 मई को मतदान होगा. सुबह सात बजे से दिन के तीन बजे तक वोट डाले जायेंगे. चुनाव में कुल 52,22,815 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. मतदान के लिए 14,079 मतदान केंद्रों बनाये गये हैंै. रांची के चार प्रखंड बुंडू, राहे, सोनाहातू व तमाड़ में मतदान होगा.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें