1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand news ed raids on many places of bhanu construction mdm money has been transferred illegally know the whole matter srn

भानु कंस्ट्रक्शन के कई ठिकानों पर ED का छापा, MDM का पैसा अवैध तरीके से किया गया है ट्रांसफर, जानें पूरा मामला

कल इडी ने भानु कंस्ट्रक्शन के झारखंड के कई ठिकानों पर छापेमारी की. भानु कंस्ट्रक्शन पर आरोप है कि उन्होंने अवैध तरीके से मिड डे मिल के खाते से 100.01 करोड़ रुपये अपने खाते में ट्रांसफर कर लिए हैं. इडी अब भी कंपनी के पार्टनर संजय तिवारी से पूछताछ कर रही है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
भानु कंस्ट्रक्शन के कई ठिकानों पर ED का छापा
भानु कंस्ट्रक्शन के कई ठिकानों पर ED का छापा
File Photo

ED Raid In Ranchi, Jharkhand News रांची : प्रवर्तन निदेशालय (इडी) ने सोमवार को भानु कंस्ट्रक्शन के ठिकानों पर छापा मारा. सुनियोजित साजिश के तहत हटिया एसबीआइ के मिड डे मिल के खाते से 100.01 करोड़ रुपये भानु कंस्ट्रक्शन कंपनी के खाते में ट्रांसफर कराये गये थे. इस दौरान गड़बड़ी से संबंधित दस्तावेज जब्त किये गये. साथ ही भानु कंस्ट्रक्शन कंपनी के पार्टनर संजय तिवारी से अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं. इडी के अधिकारियों ने सोमवार की सुबह में अरगोड़ा के पास वसुंधरा अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 1008 पर और शिवदयाल नगर के बसंत रेसिडेंसी पर छापा मारा.

इन दोनों स्थानों से भानु कंस्ट्रक्शन का काम चलता था. हालांकि वसुंधरा अपार्टमेंट के 10वें तल्ले पर स्थित फ्लैट 1008 में भानु कंस्ट्रक्शन का कार्यालय हुआ करता था. जालसाजी उजागर होने के बाद भानु कंस्ट्रक्शन ने पहले अपने कर्मचारियों को हटाया. उसके बाद कार्यालय ही बंद कर दिया. इसी फ्लैट में भानु कंस्ट्रक्शन कंपनी का पार्टनर संजय तिवारी रहता है. इडी के अधिकारियों को इस फ्लैट तक पहुंचने में परेशानियों का सामना करना पड़ा. संजय तिवारी ने खुद को जांच एजेंसियों की पहुंच से दूर रखने के लिए अपना सुरक्षा घेरा बना रखा है.

क्या है मामला :

राज्य सरकार ने मिड डे मिल का पैसा विभिन्न जिलों को भेजने के लिए हटिया स्थित एसबीआइ में झारखंड राज्य मध्याह्न भोजन प्राधिकरण के नाम से एक खाता खोल रखा है. राज्य सरकार ने पांच अगस्त 2017 को 120.31 करोड़ रुपये इस खाते में जमा कराये. साथ ही इसमें से 100.01 करोड़ रुपये मध्याह्न भोजन मद में दूसरे जिलों में आरटीजीएस के सहारे ट्रांसफर करने का निर्देश दिया. इस निर्देश के आलोक में बैंक ने 100.01 करोड़ रुपये आटीजीएस के सहारे ट्रांसफर किया.

लेकिन ट्रांसफर फेल हो गया व पूरा पैसा बैंक के सस्पेंस अकाउंट में लौट आया. इसके बाद बैंक के तत्कालीन उप प्रबंधक अजय उरांव ने साजिश के तहत 100.01 करोड़ रुपये को भानु कंस्ट्रक्शन के खाते में ट्रांसफर कर दिया. मिड डे मिल का पैसा बिल्डर के खाते में ट्रांसफर होने के बारे में प्रभात खबर में खबर प्रकाशित हुई. इसके बाद राज्य सरकार ने जांच शुरू की.

मिड डे मिल का पैसा ट्रांसफर करने का उदाहरण

बैंक राशि खाता धारक

बैंक ऑफ इंडिया, बहुबाजार 25,00,000.00 भानु कंस्ट्रक्शन

इंडसइंड बैंक, मेन रोड रांची 5,42,96,267.00 भानु कंस्ट्रक्शन

एंड राजकुमार वर्मा

केनरा बैंक,मेन रोड, ओड़िशा 10,47,29,776.00 नव दुर्गा प्रा‌लि ओड़िशा

आइडीबीआइ, अशोक नगर 9,66,92,746.00 भानु कंसट्रक्शन

एचडीएफसी, अशोक नगर 11,82,46,939.00 भानु कंस्ट्रक्शन

एक्सिस बैंक, अशोक नगर 15,74,12,278.00 भानु कंस्ट्रक्शन

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें