1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand coronavirus report of corona suspect died at rims is negative

Jharkhand: रिम्स में मरने वाले कोरोना संदिग्ध की आ गयी Covid19 जांच रिपोर्ट...

By Mithilesh Jha
Updated Date

रांची : झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) के सरकारी अस्पताल RIMS में पिछले दिनों मरने वाले कोरोना संदिग्ध (Corona Suspect) के सैंपल की रिपोर्ट आ गयी है. उसके सैंपल में कोरोना वायरस (Coronavirus) के लक्षण नहीं पाये गये हैं. सोमवार (6 अप्रैल, 2020) को इसकी पुष्टि की गयी कि मृतक जानलेवा कोरोना वायरस का वाहक नहीं था.

राज्य के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (Rajendra Institute of Medical Sciences) में दो दिन पहले यानी शनिवार (4 अप्रैल, 2020) को सुबह 5 बजे उसकी मृत्यु हो गयी थी. मृतक का नाम महावीर साहू था. उसकी मृत्यु के बाद उसके रक्त और स्वाब के नमूने लिये गये थे.

सोमवार को माइक्रोबायोलॉजी विभाग ने उसके नमूनों की रिपोर्ट दे दी. इस रिपोर्ट में उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्ट नहीं हुई. इसके बाद रांची प्रशासन ने थोड़ी राहत की सांस ली. हालांकि, इससे पहले सोमवार को ही रांची के हिंदपीढ़ी में एक महिला में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि ने उसकी परेशानी बढ़ा दी थी.

मलयेशियाई महिला के संपर्क में आने वाली एक अधेड़ महिला के कोविड19 से संक्रमित होने की खबर के बाद प्रशासनिक अमला पूरी तरह सक्रिय हो गया है. कोरोना वायरस से संक्रमित महिला को रिम्स में भर्ती करा दिया गया है. उसके साथ क्षेत्र के 6 और लोगों को रिम्स भेजा गया है. सभी के रक्त और स्वाब की जांच करायी जायेगी.

उल्लेखनीय है कि मार्च में नयी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद लोग देश भर में पहुंचे थे. हिंदपीढ़ी की एक मस्जिद से मलयेशिया की युवती समेत करीब डेढ़ दर्जन लोगों को निकाला गया था और खेलगांव स्थित आइसोलेशन सेंटर पहुंचाया गया था.

इन लोगों के सैंपल लेकर रिम्स भेजे गये, तो मलयेशियाई युवती में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हुई. इसके बाद उसे रिम्स शिफ्ट कर दिया गया, जहां अब भी उसका इलाज चल रहा है. युवती के संक्रमित होने की पुष्टि के बाद प्रशासन ने बड़े पैमाने पर हिंदपीढ़ी इलाके में लोगों की स्क्रीनिंग करवायी. प्रशासन की मानें, तो करीब 35 हजार से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग करायी गयी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें