25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड की सभी 14 सीटें जीतेंगे,इंडिया गठबंधन भ्रष्टाचारियों का गिरोह:लक्ष्मीकांत

लक्ष्मीकांत उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष रहते हुए भाजपा को 73 सीटों की ऐतिहासिक जीत दिलायी थी. प्रभात खबर के ब्यूरो प्रमुख आनंद मोहन ने प्रभारी लक्ष्मीकांत से चुनाव से लेकर संगठन के मुद्दे पर लंबी बातचीत की.

भाजपा के प्रदेश प्रभारी पिछले कई महीनों से झारखंड में कैंप कर रहे हैं. लोकसभा चुनाव में पसीना बहा रहे हैं. जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं से लगातार संवाद कर रहे हैं. प्रभारी की एक-एक सीट पर पैनी नजर है. समीकरण को दुरुस्त करने में जुटे हैं. पार्टी प्रत्याशी और संगठन के बीच प्रभारी महत्वपूर्ण कड़ी हैं. लक्ष्मीकांत संगठन के अनुभवी खिलाड़ी हैं. शह-मात के खेल में माहिर हैं. उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष रहते हुए लक्ष्मीकांत ने भाजपा को 73 सीटों की ऐतिहासिक जीत दिलायी थी. प्रभात खबर के ब्यूरो प्रमुख आनंद मोहन ने प्रभारी लक्ष्मीकांत से चुनाव से लेकर संगठन के मुद्दे पर लंबी बातचीत की.

सवाल : लोकसभा चुनाव में भाजपा कहां खड़ी है?

लक्ष्मीकांत : हम 14 की 14 सीटें जीत रहे हैं. झारखंड में एनडीए के सामने कोई नहीं है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गारंटी के साथ देश और पूरा प्रदेश खड़ा है. प्रधानमंत्री के द्वारा किये गये विकास कार्यों से राज्य की जनता का विश्वास बढ़ा है. नरेंद्र मोदी जैसे कर्मठ नेता के सामने पूरा विपक्ष ढेर हो गया है. राज्य की जनता जानती है कि मोदी के हाथों भारत माता सुरक्षित है. पूरी दुनिया में भारत की साख बची है. देश बदल रहा है और जनता इस बदलाव को आगे जारी रखना चाहती है. 2047 में विकसित भारत का संकल्प लेकर प्रधानमंत्री चल रहे हैं. देश की जनता ने इस संकल्प में मोदी के साथ चलने का मन बना लिया है. झारखंड में एनडीए की हवा बह रही है. हर सीट पर हम बड़ी मार्जिन से जीत दर्ज करेंगे.

सवाल : इंडिया गठबंधन का कहना है कि यह चुनाव एनडीए के खिलाफ जनता लड़ रही है. आप सत्ता से बेदखल होंगे?

लक्ष्मीकांत : इंडिया गठबंधन भ्रष्टाचारियों का संगठन है. देश और प्रदेश को लूटनेवालों का गिरोह है. जनता ऐसे लोगों के साथ नहीं जा सकती है. देश की जनता ने ठान लिया है कि राष्ट्र विरोधी ताकतों को उखाड़ फेंकेंगे. लूट-खसोट करनेवालों को कभी मौका नहीं मिलनेवाला है. इस चुनाव में ये कहीं नजर नहीं आनेवाले हैं. परिवारवाद का पोषण करनेवाले हैं. इनको अपने परिवार से ही लेना-देना है. ये लोग भ्रष्टाचार कर अपने परिवार को बढ़ाने में लगे हैं.

सवाल : झामुमो का कहना है कि हेमंत सोरेन आदिवासी हैं, इसलिए इनके खिलाफ कार्रवाई हुई है. साजिश कर भाजपा ने फंसाया है?

लक्ष्मीकांत : हेमंत सोरेन के लुटरे गैंग में कौन लोग हैं. झारखंड में भ्रष्टाचार के मामले में जो कार्रवाई हुई है. उनके इर्द-गिर्द कौन लोग हैं. उनके अलावा कोई आदिवासी है, क्या? मुख्यमंत्री रहते हेमंत सोरेन ने भ्रष्टाचार के लिए एक टीम बनायी थी, उसमें आदिवासी नहीं थे. हेमंत सोरेन की मर्जी से ही सब कुछ हुआ है. आदिवासी समाज तो ईमानदार और राष्ट्र भक्त है. आदिवासी सीधे-सादे हैं. हेमंत सोरेन आदिवासी कार्ड चल कर अपना बचाव नहीं कर सकते हैं. आदिवासियों को बरगला नहीं सकते हैं. इन लोगों ने आदिवासियाें का शोषण किया है. उनको वोट बैंक ही समझा है.

सवाल : विपक्ष का कहना है कि इडी केवल भाजपा का विरोध करनेवालों पर कार्रवाई कर रही है. आपके पास वाशिंग मशीन है, जो आपके साथ गया, बेदाग निकलता है?

लक्ष्मीकांत : एक बात बताइये, जिनके खिलाफ आरोप लगे हैं, उनके खिलाफ इडी को सबूत मिले हैं या नहीं. पैसों का पहाड़ मिला है कि नहीं. इडी के पास जब भी शिकायत आती है, तो उसकी प्रारंभिक जांच होती है. विपक्ष के लोग जिनकी बात करते हैं, तो प्रमाण क्यों नहीं देते. इडी जिनको गिरफ्तार करती है, उनको न्यायालय में ले जाते हैं. क्या न्यायालय खड़े-खड़े उनको घर भेज देता है. इडी को आगे की जांच के लिए रिमांड मिलता है या नहीं. न्याय व्यवस्था की अपनी मानक है. देश की न्याय व्यवस्था बड़ी पवित्रता के साथ अपने दायित्व का निर्वहन कर रही है. इडी की कार्रवाई गलत है, तो इन लोगों को सजा क्यों मिल रही है. इडी कहीं से खाली हाथ नहीं लौटता है, सबका काला धन बाहर निकल रहा है.

सवाल : राज्य के आदिवासी सीटों पर भाजपा का प्रदर्शन कैसा रहनेवाला है?

लक्ष्मीकांत : हम पांच के पांच आदिवासी सुरक्षित सीट जीतेंगे. आदिवासी समाज आज भाजपा के साथ है. हमने जनजातीय गौरव के लिए काम किया है. प्रधानमंत्री मोदी के हृदय में आदिवासी समाज बसता है. झारखंड के आदिवासियों ने इनका स्नेह और प्यार देखा है. भगवान बिरसा मुंडा का गौरव को देश-दुनिया के सामने मोदी जी ने बढ़ाने का काम किया. 70 वर्षों में कांग्रेसवालों ने इन महानायकों को कभी याद नहीं किया. अपने ही परिवार के लोगों की पूजा करते रह गये.

सवाल : भाजपा में टिकट बंटवारे की क्या प्रक्रिया है? आप उम्मीदवार चयन से संतुष्ट हैं

लक्ष्मीकांत : भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी है. प्रत्याशी चयन में हमारे कर्मठ कार्यकर्ता और मंडल से लेकर प्रदेश स्तर के नेताओं की सहभागिता होती है. प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर पर पारदर्शिता है. केंद्रीय नेतृत्व के पास प्रदेश से जो नाम जाते हैं, उसमें जीत की बेहतर संभावनाओं के आधार पर प्रत्याशी का चयन होता है.

सवाल : प्रदेश में संगठन का क्या हाल है?

लक्ष्मीकांत : फिलहाल तो हमलोग लोकसभा चुनाव में लगे हैं. चुनाव के बाद समीक्षा होगी. इसके बाद ही संगठन को लेकर किसी तरह का विचार होगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें