1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. coronavirus outbreak decreased oxygen levels leading to death of corona infected in the bathroom

Coronavirus Outbreak : ऑक्सीजन लेवल कम होने से बाथरूम में हो जा रही है कोरोना संक्रमितों की मौत

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ऑक्सीजन लेवल कम होने से बाथरूम में हो जा रही है कोरोना संक्रमितों की मौत
ऑक्सीजन लेवल कम होने से बाथरूम में हो जा रही है कोरोना संक्रमितों की मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची : रिम्स के कोविड आइसीयू के बाथरूम में गिरने से गुरुवार को एक कोरोना संक्रमित की मौत हो गयी. कुछ दिन पहले भी बाथरूम में गिरने एक संक्रमित की मौत हो गयी थी. मेडिकल विशेषज्ञों ने बताया कि कोराना वायरस संक्रमित व्यक्ति के ऑक्सीजन लेवल को कम करने के अलावा खून में थक्का बना देता है. ऐसे में संक्रमित के शरीर में अचानक ऑक्सीजन की कमी होने व खून का थक्का जमने से रक्त का प्रवाह रुक जाता है. इस कारण संक्रमित जब खुद से चल कर बाथरूम जाता है, तो खून मेें थक्का जमने से हृदय को खून व ब्रेन को ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है, जिस कारण वह गिर जाता है और उसकी मौत हो जाती है.

विशेषज्ञों का कहना है कि मुंबई व दिल्ली में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें संक्रमित की मौत बाथरूम में हुई है. कोरोना से संक्रमित व्यक्ति को कमजोरी भी रहती है. ऐसे में बाथरूम जाने पर ऑक्सीजन का स्तर अचानक से कम होने पर वह खुद को संभाल नहीं पाता है. रिम्स कोविड अस्पताल के एक डॉक्टर ने कहा कि वार्ड में भर्ती संक्रमितों को अगर अच्छा महसूस नहीं हो रहा हो, तो वे किसी का सहयोग लेकर ही बाथरूम जायें. बाथरूम की कुंडी अंदर से बंद ने करें, ताकि किसी प्रकार की समस्या होने पर मरीज की तुरंत मदद की जा सके.

नर्स, ट्रॉली मैन व वार्ड अटेंडेंट की कमी : रिम्स कोविड अस्पताल के बेहतर संचालन के लिए टास्क फोर्स द्वारा लगातार मैनपावर की मांग की जा रही है, लेकिन कमी पूरी नहीं हो पा रही है. कुल 288 नर्स, 50 ट्राली मैन व वार्ड अटेडेंट की जरूरत है, लेकिन वर्तमान में सिर्फ 38 से 40 नर्स व तीन से चार वार्ड अटेंडेंट हैं.

केस स्टडी-1

कुछ दिन पहले रिम्स के कोविड आइसीयू में भर्ती 50 वर्षीय एक संक्रमित का इलाज चल रहा था. उनकी स्थिति में सुधार हो रहा था. वह खुद से बाथरूम जाकर नित्य क्रम क्रियाएं करते थे, लेकिन एक दिन वह बाथरूम में गिरे मिले. अंदर से दरवाजा बंद होने के कारण मेडिकल स्टाफ द्वारा दरवाजा तोड़ कर उन्हें निकाला गया. तब तक उनकी मौत हो चुकी थी.

केस स्टडी-2

रिम्स के कोविड आइसीयू में भर्ती एक संक्रमित की मौत गुरुवार को बाथरूम में हो गयी. सुबह नर्स ने उन्हें सूई दी. एक दवा उन्होंने बाथरूम से आने के बाद लेने की बात कही. वार्ड में कोई अटेंडेंट नहीं था. इसलिए वह चाह कर भी किसी की मदद नहीं ले पाये. बाथरूम जाने के कुछ देर बाद गिरने की आवाज आयी. जब तक मेडिकल स्टाफ पहुंचा, तब तक उनकी मौत हो चुकी थी.

  • रिम्स के बाथरूम में अब तक दो कोरोना पॉजिटिव की हो चुकी है मौत

  • मुंबई व दिल्ली में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं

Post by : Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें