राज्य में हर दिन 885 दोपहिया, 38 तीन पहिया व 112 काराें की बिक्री वर्ष 2015-16 में खरीदे गये 4.03 लाख वाहन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची: झारखंड में वर्ष 2015-16 में 4.03 लाख वाहन खरीदे गये. 16 साल में पहली बार एक साल में वाहनों की खरीद का आंकड़ा चार लाख से ऊपर गया है. सबसे अधिक 3.23 लाख मोटरसाइकिल या स्कूटी की बिक्री हुई. मतलब झारखंड में हर दिन 885 दोपहिया (मोटरसाइकिल व स्कूटी) की बिक्री हुई है. इस दौरान राज्य के लोगों ने 31,130 वाहनों की खरीद की. अन्य चार पहिया छोटे वाहनों में 2,616 टैक्सी, 7,355 जीप व 13,913 ऑटो शामिल हैं. इस तरह कुल 55,014 चार पहिया व तिपहिया वाहनों की लोड राज्य के सड़कों पर बढ़ा. देखा जाये तो झारखंड में हर दिन 38 ऑटो और 112 से अधिक चार पहिया कार, जीप व टैक्सी की खरीद की जा रही है.
53,694 वाहनों की ज्यादा बिक्री : झारखंड में पहली बार ऐसा हुआ है, जब किसी साल में पिछले साल के मुकाबले 53,694 ज्यादा वाहनों की बिक्री हुई. वर्ष 2001-02 में सिर्फ 76,278 वाहनों की बिक्री हुई थी. वर्ष 2008-09 तक वाहनों की बिक्री दो लाख से कम थी. वर्ष 2013-14 में वाहनों की बिक्री तीन लाख से ऊपर हो गयी थी, लेकिन पहली बार बिक्री में करीब 54,000 का उछाल दर्ज किया गया है. वर्ष 2007-08 में वाहनों की बिक्री में 17,379 की कमी आयी थी. वर्ष 2007-08 में हुई 1.62 लाख की बिक्री वर्ष 2005-06 से भी करीब दो हजार कम थी.
राज्य में 32.96 लाख वाहन : परिवहन विभाग के आंकड़े के मुताबिक राज्य में अभी 42 लाख से अधिक वाहन हैं. इस आंकड़े में वर्ष 2001 से पहले के 9.09 लाख वाहन भी शामिल हैं. इन वाहनों का रजिस्ट्रेशन खत्म हो गया होगा. परिवहन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक 15 साल के रजिस्ट्रेशन के बाद दुबारा रजिस्ट्रेशन कराने का मामला कम ही सामने आता है. इस तरह 42 लाख वाहनों में से 9.09 लाख वाहन बेकार हो गये होंगे. इस तरह राज्य में अभी 33 लाख के करीब वाहन होंगे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें