नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : झारखंड आंदोलन के अगुआ और नागपुरी के प्रसिद्ध गायक मधु मंसूरी हंसमुख को पद्मश्री अवॉर्ड से सम्‍मानित किया गया. उनके साथ-साथ झारखंड से एक और कलाकार शशधर आचार्य को भी पद्मश्री से सम्‍मानित किया गया है.

हंसमुख ने प्रभातखबर डॉट कॉम के साथ बातचीत में कहा कि पद्मश्री सम्‍मान उन्‍हें नहीं, बल्कि पूरे झारखंड को मिला है. उन्‍होंने कहा, इस सम्‍मान के हकदार सही मायनों में झारखंड की जनता है, जिन्‍होंने 50 सालों से उन्‍हें प्‍यार दिया.

बातचीत में उन्‍होंने पद्मश्री सम्‍मान को अपने पिता को समर्पित किया. उन्‍होंने कहा, इस पुरस्‍कार से यहां के कलाकारों, खासकर युवा पीढ़ी को नयी ऊर्जा मिलेगी.

* हंसमुख का एक परिचय

मधु मंसूरीहंसमुख का जन्म 4 सितंबर, 1948 में राजधानी रांची से सटे रातू सिमलिया में हुआ था. उनकी शिक्षा मैट्रिक तक हुई. मेकॉन से सेवानिवृत्त होने के बाद उन्‍होंने पूरा जीवन नागपुरी भाषा साहित्‍य, कला संस्‍कृति और गायन को समर्पित कर दिया. हंसमुख 50 वर्षों से अधिक समय से नागपुरी गीत गाते चले आ रहे हैं. उनके गीतों में वृत्तचित्र 'लोह‍रदगा एक्‍सप्रेस' के टाइटल सॉंग काफी प्रचलित हुए. इसके साथ ही झारखंड की सभ्‍यता और संस्‍कृति के साथ ही प्रकृति के रहस्‍यों को भी अपने गीतों में शामिल किया है. उनके गीतों की खासियत यह है कि उसमें लोक परंपराएं समाहित हैं.

उन्‍होंने कई रचनाएं भी रची हैं. उनकी लिखी कई गानें काफी प्रसिद्ध हुए. जिसमें ज्‍यादातर गाने उन्‍होंने झारखंड आंदोलन के दौरान लिखी, जो आंदोलन को हवा देने में सहायक साबित हुए. उनकी रचनाओं में सबसे अधिक फेमस 'नागपुर कर कोरा'गीत हुआ. इस गीत ने उन्‍हें अमर बना दिया. उन्‍होंने अनेक क्रांतिकारी गीत झारखंड के दुख-दर्द को बताने के लिए रचे और अनेक मंचों पर गाया भी.

हंसमुख न केवल एक अच्‍छे गायक हैं, बल्कि शानदार मांदर वादक और नर्तक भी हैं. उन्‍होंने पद्मश्री डॉ रामदयाल मुंडा और पद्मश्री मुकुंद नायक के साथ मिलकर नागपुरी गीत-संगीत को विदेशों तक पुहंचाया और लोकप्रिय बनाया. हंसमुख फिलहाल कई कला संस्‍कृति संस्‍थाओं से जुड़े हैं, जिसमें वो नागपुरी साहित्‍य संस्‍कृति मंच के उपाध्‍यक्ष भी हैं.

यहां देखें पद्मश्री से सम्‍मानित लोगों की पूरी सूची

नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
नागपुरी गायक मधु मंसूरी हंसमुख और शशधर आचार्य पद्मश्री से सम्‍मानित
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें