1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. palamu
  5. three palamu youths murdered in kerala

पलामू के तीन युवक की केरल में हत्या

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

पांडू : पलामू के पांडू के तीन युवक की हत्या सोमवार की शाम केरल में कर दिया गया है. बीस दिन पहले तीनों युवक कमाने गये थे , बताया जाता है कि तीनों फिलहाल केरल के कोरेटिंन सेंटर में थे , सोमवार की शाम तीनों युवक सेंटर से टहलने निकले थे,कहा जाता है उनलोगों को सेंटर से बाहर घूमता देख कर स्थानीय लोगों नें टोका ,इसी बात को लेकर विवाद बढ़ गया और भीड़ ने मिलकर तीनों की हत्या कर दी.

जानकारी के अनुसार पांडू थाना क्षेत्र के भटवलिया के कन्हाई विश्वकर्मा(20) , महुगांवा के अरविन्द राम (22) व अशोक राम ,हरिओम, तीनों युवक पांडू से केरल के सापुड़ कंपनी में काम करने गये थे. मृतकों के साथ में रह रहे लोगों ने बताया कि केरल के पाला कोड जिला के कांजी कोड प्रखंड के कोरेंटिन सेंटर में कुल 73 मजदूर रुके थे , तीनों युवक सोमवार की शाम में सेंटर से चार किलोमीटर दूरी पर स्थित कांजी कोड बाजार गये थे ,लेकिन जब रात आठ बजे तक वह तीनों नही लौटे, तो साथियों ने उनसे फोन पर संपर्क करना चाहा लेकिन तीनों के नंबर पर लगातार कॉल जाने के बाद कोई कॉल रिसीव नहीं कर रहा था ,

इस पर साथियों को किसी अनहोनी की आशंका हुई, उसके बाद तीन चार साथी सेंटर से उनलोगों को ढूंढने के लिए निकल गये , इस दौरान उनलोगो ने देखा की सेंटर से करीब दो किलोमीटर दूरी पर बीच सड़क पर तीनों का शव अलग - अलग पड़ा था , साथियों ने इसकी सूचना कोरेटिंन सेंटर में रह रहे अन्य साथियों को दी , सभी लोग घटना स्थल पर पहुंचकर पूरी रात शव के साथ जमे रहे , परिजनों ने बताया कि पूरी रात बारिश में खड़े हो कर शव को कब्जे में रखा गया था , उधर ठेकेदार अर्जुन यादव का कहना है कि सोमवार की रात में सूचना मिल गयी थी की किसी ने तीनों मजदूर को मार डाला है , तीनों मजदूर कांजी कोड बाजार गया था लौटने के क्रम में किसी ने बेरहमी से मार कर हत्या कर दी है ,

उन्होंने इसकी सूचना अन्य मजदूर एवं फॉर मैन को दिया , सभी घटना स्थल पर रात में ही पहुंच गये थे , ठेकेदार अर्जुन यादव ने बताया कि क्षेत्र के विभिन्न गांवों से 42 मजदूर को 19 जुलाई को भेजा गया था , सभी मजदूर केरल के सापुर जी कंपनी में काम करने के लिए भेजे गए थे , कंपनी में ज्वाइन करने से पहले सबको कांजी कोड के कोरेटिंन सेंटर में रखा गया था , उसी दौरान इन तीनों मजदूर किसी काम से सेंटर से चार किलोमीटर दूर बाजार में कुछ काम से गये , बाजार से लौटने के क्रम में इन तीनों की हत्या कर दी गयी ,

उन्होंने कहा मृतक के परिजनों को मुआवजे दिलवाने के लिए पूरी सक्रियता के साथ काम करेंगे , समाचार लिखे जाने तक तीनों मजदूर को केरल के अस्पताल में पोस्मार्टम किया जा रहा था , पोरमार्टम के बाद एम्बुलेंस से शव को पांडू लाया जायेगा.इधर इस मामले में विश्रामपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सुरजीत कुमार ने बताया कि इस घटना की जानकारी मिलने के बाद केरल पुलिस से संपर्क किया गया तो वहां से जानकारी मिली है उसके अनुसार केरल पुलिस द्धारा यह बताया गया की मामले में जांच चल रही है क्योकि रेलवे लाइन के किनारे तीनों का शव मिला है इसलिए यह हत्या है या दुर्घटना दोनो पहलू पर केरल पुलिस अनुसंधान कर रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें