21.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeझारखण्डखूंटीकेंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा बोले, देशभर में खोले जाएंगे 740 एकलव्य विद्यालय, नवोदय से भी मिलेगी अच्छी शिक्षा

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा बोले, देशभर में खोले जाएंगे 740 एकलव्य विद्यालय, नवोदय से भी मिलेगी अच्छी शिक्षा

केंद्रीय मंत्री सह खूंटी सांसद अर्जुन मुंडा ने कहा कि नवोदय विद्यालय से भी अच्छी शिक्षा मिले, इसी उद्देश्य को लेकर एकलव्य विद्यालय खोले जा रहे हैं. यही भगवान बिरसा मुंड के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है. सरकार एकलव्य विद्यालय बनाने में लगभग 30 हजार करोड़ रुपये खर्च कर रही है.

खूंटी/सिमडेगा(चंदन/रविकांत): केंद्रीय मंत्री सह खूंटी सांसद अर्जुन मुंडा ने कहा है कि जनजातीय क्षेत्रों के सभी प्रखंडों में एक-एक एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय खोले जा रहे हैं. पूरे देश में 740 एकलव्य विद्यालय खोले जाएंगे. एक विद्यालय में 240 छात्र और 240 छात्राएं कुल 480 विद्यार्थी पढ़ेंगे. केंद्रीय मंत्री शुक्रवार को तोरपा प्रखंड के सारिदकेल और मुरहू में एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के निर्माण की आधारशिला रखने के बाद जन समुदाय को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि आनेवाले समय में एकलव्य विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होंगे और यहां से वैज्ञानिक, अभियंता, डॉक्टर आदि बन देश का नाम रोशन करेंगे. इधर, सिमडेगा के कोलेबिरा में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के द्वारा विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया गया. उन्होंने सर्वप्रथम कोलेबिरा स्थित देवीगुड़ी के समीप सामुदायिक भवन के शिलापट्ट का अनावरण किया. उन्होंने कहा कि 38 करोड़ की लागत से बनने वाले एकलव्य विद्यालय में सभी सुविधाएं होंगी.

एकलव्य विद्यालय की स्थापना का ये है उद्देश्य

केंद्रीय मंत्री सह खूंटी सांसद अर्जुन मुंडा ने कहा कि नवोदय विद्यालय से भी अच्छी शिक्षा मिले, इसी उद्देश्य को लेकर एकलव्य विद्यालय खोले जा रहे हैं. यही भगवान बिरसा मुंड के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है. सरकार एकलव्य विद्यालय बनाने में लगभग 30 हजार करोड़ रुपये खर्च कर रही है. सभी विद्यालय में कंप्यूटर और स्मार्ट कलस की भी सुविधा रहेगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आदि आदर्श गांव के तौर पर विकसित करने के लिए खूंटी जिले के 254 गांवों का चयन किया गया है और इसकी राशि भी राज्य सरकार को उपलब्ध करा दी गई है. उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास के क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है.हमारा दायित्व है कि महिला मंडलों के उत्पादों को बाजार उपलब्ध करायें.

Also Read: झारखंड: दुर्गा पूजा से पहले सीएम हेमंत सोरेन ने की बैठक, बोले-किसी सूरत में पर्व-त्योहार में नहीं हो उपद्रव

बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले, इसका प्रयास होः कड़िया मुंडा

लोकसभा के पूर्व उपाध्यक्ष पद्मभूषण कड़िया मुंडा ने कहा कि एकलव्य विद्यालय में बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले, इस दिशा में प्रयास होना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस तरह के विद्यालय पहले ही खुल जाने चाहिए थे, लेकिन इस ओर पूर्ववर्ती सरकारों ने ध्यान नहीं दिया. उन्होंने कहा कि अवसर के अभाव में इस क्षेत्र का उतना विकास नहीं हो पाया, जितना होना चाहिए था. उन्होंने कहा कि एकलव्य विद्यालय खुलने से इस क्षेत्र के लोगों को काफी फायदा होगा.

Also Read: झारखंड: ACB ने 20 हजार घूस लेते DSE ऑफिस के कर्मी को किया गिरफ्तार, पेंशन स्वीकृति को लेकर मांग रहा था रिश्वत

अर्जुन मुंडा ने शिक्षा का दीप जलाने का किया है प्रयास

तोरपा के विधायक कोचे मुंडा ने कहा कि एकलव्य विद्यालय खोलकर अर्जुन मुंडा ने शिक्षा का दीप जलाने का प्रयास किया है. आजादी के बाद ही ऐसे स्कूल खुल जाने चाहिए थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. कार्यक्रम का संचालन आइटीडीए के निदेशक संजय भगत ने किया. मौके पर उप विकास आयुक्त नीतीश कुमार सिंह, जिला सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार, संतोष जायसवाल, मुनीनाथ मिश्रा, आनंद कुमार, अनूप साहू, पुरेंद्र मांझी सहित कई संख्या में लोग उपस्थित थे.

Also Read: झारखंड: रामगढ़ से रांची आ रही रेंज रोवर कार अचानक आग लगने से हुई खाक, बाल-बाल बचा ड्राइवर

38 करोड़ की लागत से बनने वाले एकलव्य विद्यालय में सभी सुविधाएं होंगी

सिमडेगा के कोलेबिरा में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के द्वारा विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया गया. उन्होंने सर्वप्रथम कोलेबिरा स्थित देवीगुड़ी के समीप सामुदायिक भवन के शिलापट्ट का अनावरण किया. इसके बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगी एक्स-रे मशीन का उद्घाटन किया. उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगे टीवी जागरूकता अभियान के लिए हस्ताक्षर बोर्ड पर हस्ताक्षर किया. केंद्रीय मंत्री ने नवाटोली स्थित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय का शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने संबोधित करते हुए कहा विद्यालय यहां के लिए वरदान है. यहां विद्यार्थियों को सभी तरह की सुविधा प्रदान की जायेगी. जिससे कोलेबिरा क्षेत्र के विद्यार्थियों को काफी फायदा मिलेगा. विद्यालय में पढ़ाई करने के साथ-साथ खेलकूद, कंप्यूटर आदि की भी सुविधा दी जायेगी. केंद्र सरकार के नयी शिक्षा नीति के तहत एकलव्य आवासीय विद्यालय का निर्माण हो रहा है.

Also Read: झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने वीमेंस एशियन चैंपियंस ट्रॉफी-2023 के इवेंट मैस्कॉर्ट जूही व ट्रॉफी का किया अनावरण

जल्द ही शिक्षकों की होगी नियुक्ति

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि स्कूलों में शिक्षकों की कमी देखते हुए जल्द ही शिक्षकों की नियुक्ति की जायेगी. यह परियोजना 38 करोड़ से अधिक की है जिसे 2025 तक पूरा कर लिया जायेगा. इस मौके पर उपायुक्त अजय कुमार सिंह , पुलिस अधीक्षक सौरभ कुमार, जिप अध्यक्ष रोस प्रतिमा सोरेंग, एसडीपीओ ए डॉडराय, प्रमुख दुतामी हेमरोम, उपप्रमुख सुनीता देवी, जिला सांसद प्रतिनिधि सुशील श्रीवास्तव , डॉक्टर महेंद्र भगत, भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण बडाईक, मंडल अध्यक्ष अशोक इंदवार, मुखिया अंजना लकड़ा, सुजान मुंडा, कल्पना देवी, सांसद प्रतिनिधि चिंतामणि साहू के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे.

Also Read: झारखंड: सारठ के पूर्व विधायक उदय शंकर सिंह सड़क हादसे में घायल, दुर्गापुर में चल रहा इलाज, खतरे से हैं बाहर

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें