खूंटी गैंगरेप : दरिंदों ने पहले पूछा- पत्थलगड़ी के बाद तुमलोग यहां कैसे आ गये फिर कर लिया अगवा और...

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रेप पीड़िताओं ने पुलिस को दिये गये अपने बयान में कहा
रांची/खूंटी : रेप पीड़िताओं ने पुलिस को दिये गये बयान में यह खुलासा किया है कि 19 जून को हमलोग कोचांग स्थित मिशन स्कूल में नुक्कड़ नाटक कर रहे थे.
इसी दौरान दो मोटरसाइकिल से पांच-छह लोग वहां पहुंचे. उन्होंने पहले एक पीड़िता का नाम लेकर पूछा कि वह कौन है़ पीड़िता ने बताया कि मैं हूं. इससे बाद एक-एक कर सबका नाम पूछा. इसके बाद उक्त लोगों ने कहा कि पत्थलगड़ी के बाद भी तुमलोग कैसे आ गये. पत्थलगड़ी करने में तुमलोग कहां-कहां शामिल हुए हो़
पीड़िताओं ने खुद को बचाने के लिए कहा कि वे कुछ जगहों पर पत्थलगड़ी में शामिल हुए हैं. इसके बाद भी वे लोग हमें अगवा कर ले गये गैंग रेप किया. इधर, अधिकारियों के अनुसार नुक्कड़ नाटक टीम द्वारा खूंटी सहित कुछ बाजारों में पत्थलगड़ी के खिलाफ पंपलेट वितरण किया गया था़ इसको लेकर पत्थलगड़ी समर्थकों में उनके खिलाफ आक्रोश था़
घटना में देर से सक्रिय होने की बात निराधार: एसपी : एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने कहा कि कुछ लोगों द्वारा कहा जा रहा है कि पुलिस मामले को लेकर देर से सक्रिय हुई़ घटना की जानकारी मिलने के बाद भी कार्रवाई शुरू नहीं की गयी.
यह बात पूरी तरह से निराधार है़ उन्होंने कहा कि पुलिस को अपने सूत्रों के माध्यम से एक दिन बाद जानकारी मिली़ इसके बाद पुलिस तत्काल सक्रिय हुई. मामले को लेकर डीसी सूरज कुमार भी गंभीर थे़ पूरी रात जाग कर मामले की छानबीन की गयी
.
पत्थलगड़ी से जुड़ी राष्ट्र विरोधी शक्तियां कुकृत्य पर उतारू : दीपक प्रकाश
रांची : भाजपा के प्रदेश महामंत्री व मुख्यालय प्रभारी दीपक प्रकाश ने कहा है कि पत्थलगड़ी से जुड़ी राष्ट्र विरोधी शक्तियां अब कुकृत्य पर भी उतारू हो गयी है़ं ऐसी शक्तियां झारखंडी संस्कृति, अस्मिता और पहचान को नष्ट करने में लगी है़ं इन लोगों ने यहां की सभ्यता, संस्कृति और समरसता को नष्ट करने की लगातार कोशिश की है़
उन्होंने कहा कि लोग भोली-भाली युवतियों पर भी अत्याचार करने से बाज नहीं आ रहे है़ं झारखंड का जनजाति समाज ऐसे कुकृत्यों के लिए संस्कृति और समाज विरोधी शक्तियों को करारा जवाब देगा.श्री प्रकाश ने सरकार से मांग की कि जल्द से जल्द ऐसे कुकृत्य के दोषियों को गिरफ्तार कर कठोर सजा दिलाये.
खूंटी डीसी सूरज कुमार ने कहा : घटना बहुत ही शर्मनाक है. घटना में जो भी लोग संलिप्त हैं, उन पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी. जिला प्रशासन पीड़िताओं को न्याय दिलाने का प्रयास कर रहा है. उनकी काउंसेलिंग की जा रही है.
सभी को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए पुनर्वास की व्यवस्था की जा रही है़ फिलहाल उन्हें सहयोग विलेज में रखा जायेगा़ उनकी सुरक्षा का पूरा प्रबंध होगा. इस पूरे प्रकरण पर प्रशासन हर तरह से संवेदनशील है. हर पहलू पर नजर रखी जा रही है. बच्चियों पर किसी तरह का नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़े, इसका पूरा प्रयास किया जा रहा है.
राज्य सरकार विधि-व्यवस्था संभालने में असफल, सीएम इस्तीफा दें : झाविमो
रांची : झाविमो के केंद्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप सिंह ने खूंटी के कोचांग गांव में मानव तस्करी के खिलाफ व शिक्षा को लेकर जागरूकता फैला रही पांच लड़कियों के साथ दिनदहाड़े गैंगरेप की घटना की निंदा की. उन्होंने कहा कि यह घटना झारखंड के माथे पर बदनुमा दाग है. पीड़ित बच्चियों के साथ झाविमो की पूरी हमदर्दी है. सभी पीड़िताअों का पुनर्वास व उनकी सारी जिम्मेदारी अब सरकार की है.
हमारी पार्टी सभी पीड़िताओं को 20-20 लाख रुपये मुआवजा देने व दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग करती है. किसी भी दल को इस पर राजनीति से ऊपर उठ कर एक स्वर में अपराध व अपराधियों के खिलाफ खड़े होने की जरूरत है. श्री सिंह ने कहा कि बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ का कागजी नारा बुलंद करनेवाली सरकार को त्याग पत्र दे देना चाहिए. इस घटना की नैतिक जवाबदेही लेते हुए रघुवर दास को त्याग पत्र देना चाहिए.
खूंटी : जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में अड़की के कोचांग में गैंगरेप की घटना के विरोध में शुक्रवार को नेताजी चौक पर कैंडल मार्च निकाला गया.जिलाध्यक्ष रामकृष्णा चौधरी ने कहा कि राज्य में कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है.
गैंगरेप की घटना से झारखंड का सिर शर्म से झुक गया है.वहीं रघुवर की सरकार चार साल के शासन की खुशी मना रही है. कार्यकर्ताओं ने घटना में शामिल आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की.मौके पर इंदूमति मुंडा, बैजनाथ तुंडा, पीटर मुंडू, सुशील संगा, सहिंदर महतो, किशोर गंझू, दुबराज मुंडा, सुनीता टोप्पो, शबनम गुड़िया, असीमा कोनगाड़ी, निलय बोदरा, राम पुरान, शंकर सिंह मुंडा, नरेंद्र श्रीवास्तव, जयंत प्रसाद, शिवनारायण गंझू आदि मौजूद थे.
महिला संगठनों ने कहा : ऐसी घटनाएं समाज के लिए अभिशाप
रांची. अड़की में सामूहिक रेप कांड पर महिला संगठनों ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. संगठनों का कहना है कि ऐसी घटनाएं समाज के लिए अभिशाप है. इसमें शामिल लोगों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए.
अब युवतियां कैसे घर से बाहर निकलेंगी : शुभा तिर्की
सखी सहेली क्लब की ग्रुप लीडर शुभा तिर्की ने कहा है कि इस घटना से युवतियां घर से कैसे बाहर निकलेंगी. हमारी क्लब से जुड़ी लड़कियां ट्रैफिकिंग को लेकर नुक्कड़ नाटक और अभियान चला रही हैं. इससे अब उनमें भय का माहौल व्याप्त हो गया है. इसकी अधिक से अधिक निंदा की जानी चाहिए.
घटना के किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाना चािहए
रांची. खूंटी में हुए दुष्कर्म की घटना को लेकर भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा का प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को डीसी व एसपी से मिला. प्रतिनिधिमंडल ने दोषियों को जल्द गिरफ्तार कर कड़ी सजा देने का मांग की है. कहा गया कि यह घटना शर्मनाक है. इसमें शामिल किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाना चािहए. प्रतिनिधिमंडल में राज्यसभा सांसद समीर उरांव, मोर्चा अध्यक्ष रामकुमार पाहन, कोचे मुंडा, एडवर्ड सोरेन, अशोक बड़ाईक, बिंदेश्वर उरांव और सोनी हेमरोम शामिल थीं.
दोषियों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई करे
रांची. सदान मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद ने खूंटी जिला में सामूहिक दुष्कर्म की घटना को संवेदनहीन और पूरे समाज को शर्मसार करने वाला बताया है. श्री प्रसाद ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई करे, ताकि लोगों का कानून व्यवस्था पर विश्वास बना रहे.
सीआइडी की टीम भी खूंटी जाकर करेगी मामले की जांच
रांची : खूंटी गैंग रेप मामले की जांच स्थानीय पुलिस के अलावा सीआइडी की टीम भी मौके पर जाकर करेगी. यह जानकारी एडीजी अभियान आरके मल्लिक ने दी. उन्होंने बताया कि मामले की जितनी निंदा की जाये वह कम है. मामला काफी संवेदनशील है. इसमें खूंटी पुलिस को पीड़िता के बयान और साक्ष्यों के आधार पर आरोपियों की पहचान कर तत्काल गिरफ्तार करने को कहा गया है. साथ ही यह भी कहा गया है कि मामले में निर्दोष फंसें नहीं और दोषी किसी कीमत पर बचे नहीं. रांची रेंज के डीआइजी अमोल वीणुकांत होमकर खुद खूंटी में कैंप कर रहे हैं.
घटना के खिलाफ झाविमो महिला मोर्चा सड़क पर उतरा
रांची : खूंटी जिला के कोचांग गांव में युवतियों के साथ गैंगरेप की घटना के खिलाफ झाविमो महिला मोर्चा की कार्यकर्ता सड़क पर उतरी़ं मोर्चा की अध्यक्ष शोभा यादव के नेतृत्व में महिलाओं ने काला बिल्ला लगा कर मार्च निकाला़ इस दौरान मांग की गयी कि तत्काल अपराधियों को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दी जाये़ श्रीमती यादव ने कहा कि अपराधियों ने जघन्य अपराध किया है़ पूरा समाज शर्मसार है़
सरकार लड़कियों के पुनर्वास के लिए 25-25 लाख रुपये दे़ प्रदर्शन में एस मृदुला, श्वेता पांडेय, जूही परवीन, अभिजीत दत्ता, जितेंद्र रिंकू, रूपचंद केवट, ममता सेन, गीता देवी, सबिता देवी सहित कई लोग शामिल हुए़ इधर पार्टी नेता सुनीता ने कहा है कि खूंटी की घटना प्रशासनिक लापरवाही का नतीजा है़ पहले प्रशासन ने इस जघन्य अपराध को दबाने का काम किया़ प्रशासन ने इस दिशा में त्वरित कार्रवाई नहीं की़ इस घटना ने पुलिस-प्रशासन की पोल खोल दी है़ राज्य में विधि-व्यवस्था चौपट है़
घटना पर राजनीति बंद होनी चाहिए : वंदना टेटे
अखड़ा की महासचिव वंदना टेटे ने अड़की घटना की निंदा की है. उन्होंने कहा है कि इस तरह की घटना को अंजाम देनेवालों के खिलाफ प्रशासन की तरफ से त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए. इस तरह की घटना पर राजनीति बंद होनी चाहिए. किसी जगह को चिह्नित करना सही नहीं है. उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ हो रही हिंसक घटनाओं पर भी रोक लगाने की आवश्यकता है.
समाज के लिए दुर्भाग्यपूर्ण हैं ऐसी घटनाएं : श्रावणी
महिला गरिमा अभियान झारखंड की श्रावणी ने कहा है कि अड़की की घटना समाज के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है. इसकी पुनरावृत्ति न हो. इस पर प्रशासन को सख्ती से कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अब संगठित रूप से इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है. समाज में ऐसे लोग इंसान कहने लायक नहीं हैं.
स्वयंसेवी संस्था में भय का माहौल : पूनम टोप्पो
आशा संस्था की अध्यक्ष पूनम टोप्पो ने कहा है कि इस घटना से स्वयंसेवी संस्थानों से जुड़े लोगों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है. हमारी संस्था खूंटी और कर्रा में नुक्कड़ नाटकों के जरिये डायन बिसाही और ट्रैफिकिंग को लेकर जागरूकता अभियान चलाती है. इस घटना से अब डर समा गया है. इसकी जितनी आलोचना की जाये कम है.
राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त : माकपा
रांची. माकपा ने खूंटी घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति ध्वस्त हो गयी है. यहां खुलेआम लड़कियों को उठा लिया जा रहा है. उनके साथ दुष्कर्म हो रहा है. पार्टी के राज्य सचिव मंडल सदस्य प्रकाश विप्लव ने कहा कि घटना के जिम्मेदार लोगों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.
डालसा ने पांच सदस्यीय टीम गठित की
खूंटी. अड़की के कोचांग में नुक्कड़ नाटक करने गयी पांच लड़कियों के साथ गैंगरेप की घटना को लेकर डालसा अध्यक्ष अभय कुमार सिन्हा ने टीम बनायी है. यह जांच कर रिपोर्ट देगी. टीम में अधिवक्ता बोयार सिंह नाग, मुकुल कुमार पाठक, ममता सिंह, कविता कुमार, मिलन कुमार दास शामिल हैं.
जसम ने की खूंटी में हुई घटना की निंदा
रांची. झारखंड जन संस्कृति मंच (जसम) ने खूंटी जिले के कोचांग में जन जागरूकता के लिए गयी नुक्कड़ नाट्य टीम की महिला कलाकारों के साथ हुई हैवानियत की निंदा की है. उन्होंने इसे राज्य तथा नाट्य जगत के लिए कलंक बताया है. मंच की महिला टीम प्रेरणा की संयोजिका सोनी, प्रतिभा, रीता व लाखिमुनी के अलावे जसम राष्ट्रीय सचिव मंडल सदस्य जेवियर कुजूर, वरिष्ठ साहित्यकार शंभु बादल, प्रो बलभद्र, कथाकार कालेश्वर तथा मंच के राज्य सचिव अनिल अंशुमन आदि संस्कृतिकर्मियों ने दोषियों को अविलंब गिरफ्तार कर कड़ी सजा देने की मांग की है.
इस घटना के दोषी को कठोर दंड मिले : राजद
रांची. राजद प्रदेश प्रवक्ता डॉ मनोज कुमार ने कहा कि झारखंड में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं. खूंटी के कोचांग ग्राम में बेटियों के साथ बलात्कार की घटना काफी दु:खद है. यह राज्य को शर्मसार करने वाली घटना है. राज्य सरकार ऐसी घृणित घटनाओं को अंजाम देनेवालों को कठोर दंड दे.
घटना की जांच के लिए कांग्रेस ने बनायी टीम
रांची : कांग्रेस ने खूंटी में पांच युवतियों के साथ गैंगरेप की घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम बनायी है़ इसमें पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा, नियेल तिर्की और पीटर मुंडू शामिल है़ं जांच टीम को दो दिनों के अंदर खूंटी जिले का दौरा कर रिपोर्ट सौंपेगी.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें