1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jharkhand news cbi raids in ranchi rs 57 lakh seized from hawala trader prt

Jharkhand News: देशभर में CBI छापा, रांची में हवाला कारोबारी के ठिकाने से 57 लाख रुपये जब्त

सीबीआइ रांची ने बुधवार को हवाला कारोबारी विमल तेवरिया के कुसुम विहार, मोरहाबादी स्थित आवास और एनजीओ सृजन फाउंडेशन के ठिकानों पर छापा मारा. इस क्रम में हवाला कारोबारी के ठिकाने से 57 लाख रुपये नकद जब्त किये गये.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
CBI Raid
CBI Raid
File Photo

Jharkhand News, Ranchi: केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर सीबीआइ ने फॉरेन कंट्रीब्यूशन रेगुलेशन एक्ट ( एफसीआरए) का उल्लंघन करनेवाली स्वयंसेवी संस्थाओं के ठिकानों पर छापा मारा. सीबीआइ द्वारा की गयी देशव्यापी छापेमारी में कुल 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 3.21 करोड़ रुपये जब्त किये गये हैं.

इसी क्रम में सीबीआइ रांची ने बुधवार को हवाला कारोबारी विमल तेवरिया के कुसुम विहार, मोरहाबादी स्थित आवास और एनजीओ सृजन फाउंडेशन के ठिकानों पर छापा मारा. इस क्रम में हवाला कारोबारी के ठिकाने से 57 लाख रुपये नकद जब्त किये गये. इसके साथ ही सृजन फाउंडेशन के रांची (दीपाटोली) कार्यालय और हजारीबाग (मटवारी) स्थित मुख्यालय पर छापा मारा गया. संस्था के ठिकानों से सीबीआइ ने कुछ दस्तावेज जब्त किये हैं.

किराये के मकान में रहता है हवाला कारोबारी

सीबीआइ इंस्पेक्टर चंदन कुमार सिंह के नेतृत्व में हवाला कारोबारी विमल तेवरिया के किराये के मकान पर छापा मारा गया. उसके घर से 57 लाख 900 रुपये जब्त किये गये. राजस्थान के इस हवाला कारोबारी के घर में यह पैसा एक कपड़े की थैली में रखा हुआ था. हालांकि तेवरिया के रांची से बाहर होने के कारण उसे सीबीआइ गिरफ्तार नहीं कर सकी. वह कुसुम विहार में नौ हजार रुपये मासिक किराये के एक मकान में रह कर हवाला का कारोबार करता है.

36 लोगों को बनाया गया अभियुक्त

इस मामले में सीबीआइ ने झारखंड, दिल्ली, हरियाणा,राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तामिलनाडु, असम और मणिपुर मेें कुल 40 ठिकानों पर छापा मारा. दिल्ली सीबीआइ ने विदेशी सहायता लेने को लेकर प्राथमिकी दर्ज की. इसमें कुल 36 लोगों को अभियुक्त बनाया गया.

अभियुक्तों की सूची में सात सरकारी कर्मचारियों के नाम भी शामिल हैं. प्राथमिकी में आरोप है कि कुछ सरकारी कर्मचारियों और बिचौलियों की मिलीभगत से साजिश के तहत विदेशी सहायता लेने के लिए फर्जी रजिस्ट्रेशन दिया जाता था. दो लोगों को गृह मंत्रालय के वरीय लेखापाल के नाम पर घूस लेते गिरफ्तार किया गया.

  • एनजीओ सृजन फाउंडेशन के रांची और हजारीबाग स्थित कार्यालय में की गयी छापेमारी

  • राजस्थान से है हवाला कारोबारी का रिश्ता, घर में कपड़े की थैली में रखा हुआ था पैसा

  • रांची से बाहर रहने के कारण हवाला कारोबारी नहीं हो सका गिरफ्तार

गिरफ्तार अभियुक्तों का ब्योरा

प्रमोद कुमार भसीन, गृह मंत्रालय एफसीआरए के वरीय लेखापाल

अशोक रंजन, वरीय एओ, गृह मंत्रालय

राज कुमार, लेखापाल, एफसीआरए

शाहिद खान, सहायक निदेशक,एफसीआरए

गजनाफर अली, गृह मंत्रालय का अधिकारी

तुषार कांति राय, एफसीआरए का कर्मचारी

पवन कुमार शर्मा, गैर सरकारी

रामानंदन पारिख, हवाला कारोबारी

रोविन देवदास, गैर सरकारी

रवि शंकर अंबष्ठ, गैर सरकारी

मनोज कुमार, गैर सरकारी

संतोष कु प्रसाद, शौर्या बिजनेस के निदेशक

अमित चंद्रा, निदेशक शौर्या बिजनेस

वाघिस, अस्पताल में कार्यरत सीए

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें