1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. jharkhand news varsha massacre revealed in jamshedpur asi dharmendra singh had put him to death to get rid of him grj

Jharkhand News : वर्षा हत्याकांड का खुलासा, पीछा छुड़ाने के लिए ASI धर्मेंद्र सिंह ने उतार दिया था मौत के घाट

सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने बताया कि वर्षा की हत्या के पूर्व एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने उसके सिर पर हमला भी किया था. वर्षा की हत्या के बाद एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने वर्षा का सामान मानगो की नदी में फेंक दिया था. उसके बाद उसके शव को प्लास्टिक के बोरे में भरकर तार कंपनी तालाब में फेंक दिया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : जानकारी देते सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट व अन्य
Jharkhand News : जानकारी देते सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट व अन्य
प्रभात खबर

Jharkhand News, जमशेदपुर न्यूज : झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले के बिष्टुपुर की रहने वाली तृषा उर्फ वर्षा हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया. पुलिस ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन कर इसका उद्भेदन किया. सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने बताया कि वर्षा की हत्या एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने गला दबाकर कर दी थी. आरोपी एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है. उसने बताया कि वर्षा से पीछा छुड़ाने के लिए उसने उसकी हत्या कर दी. वर्षा हमेशा पैसे की मांग करती थी और गांव जाने से भी रोकती थी.

सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने बताया कि वर्षा की हत्या के पूर्व एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने उसके सिर पर हमला भी किया था. वर्षा की हत्या के बाद एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने वर्षा का सामान मानगो की नदी में फेंक दिया था. उसके बाद उसके शव को प्लास्टिक के बोरे में भरकर तार कंपनी तालाब में फेंक दिया था. उसके बाद वह छुट्टी पर अपने गांव चला गया था. शक के आधार पर जमशेदपुर पुलिस एएसआई धर्मेंद्र सिंह को गांव से लेकर शहर आई. कड़ाई से पूछताछ के बाद एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया.

आरोपी एएसआई धर्मेंद्र सिंह
आरोपी एएसआई धर्मेंद्र सिंह
प्रभात खबर

एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि वर्षा उससे बार-बार पैसे की डिमांड करती थी. उसे गांव जाने से भी मना करती थी. वर्षा के व्यवहार से वह तंग आ गया था और आखिरकार उससे पीछा छुड़ाने को लेकर उसने वर्षा की हत्या कर दी.

बताया जाता है कि वर्षा धर्मेंद्र सिंह के टेल्को स्थित क्वार्टर पर आना- जाना करती थी. आसपास के लोगों को भी इसके बारे में जानकारी थी. घटना के तीन दिन पूर्व भी दो दिनों तक ASI धर्मेंद्र के क्वार्टर पर ही वर्षा रुकी थी. आसपास के लोगों ने पुलिस को बताया कि 12 नवंबर की रात को धर्मेंद्र के साथ वर्षा उसके घर पर आयी थी. बाइक से घर पर आने के बाद दोनों अंदर चले गये थे. उसके बाद देर रात वर्षा की धर्मेंद्र ने गला दबाकर हत्या कर दी.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें