1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. police firing after burning stones and bikes in katkamdag

पथराव व बाइक जलाने के बाद पुलिस फायरिंग

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

वारदात : कटकमदाग के बन्हा-खपरियावां में प्रतिबंधित मांस को लेकर दो गुटों में झड़प

क्या है पूरी घटना

बताया जाता है कि शनिवार की सुबह करीब 9.30 बजे खपरियावां के ग्रामीणों को सूचना मिली कि बन्हा टोला में एक घर में गोकशी की गयी है. इसकी सूचना मुखिया को दी गयी. मुखिया मंजु मिश्रा ने इसकी सूचना कटकमदाग पुलिस को दी. सूचना मिलने के बाद पुलिस उस घर में पहुंची, जहां प्रतिबंधित मांस रखा हुआ था. मांस को देखते ही एक गुट के लोग भड़क गये.

इसके बाद दोनों गुटों में विवाद हो गया और मामला पथराव तक जा पहुंचा. पुलिस की मौजूदगी में दोनों ओर से काफी देर तक पत्थरबाजी होती रही. इसके बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने फायरिंग की. इससे गुस्साये लोगों ने दो मोटरसाइकिल में आग लगा दी और पांच मोटरसाइकिल और कई साइकिलों को क्षतिग्रस्त कर दिया. एक मोटरसाइकिल खपरियावां गांव निवासी रवि गुप्ता की है. वहीं क्षतिग्रस्त स्कूटी मुखिया मंजु मिश्रा की है.

  • कटकमदाग थानेदार समेत कई ग्रामीण घायल

  • घटना के बाद पुलिस कर रही है कैंप

  • डीआइजी समेत कई आला अधिकारी पहुंचे

  • देर शाम तक स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास

  • दोषियों को चिह्नित करने में जुटी पुलिस

कटकमसांडी : हजारीबाग जिला अंतर्गत कटकमदाग थाना के बन्हा-खपरियावां गांव में शनिवार को प्रतिबंधित मांस को लेकर दो गुटों में विवाद हो गया. घटना के बाद वहां सैकड़ों लोग जमा हो गये और देखते ही देखते माहौल रणक्षेत्र में तब्दील हो गया. दोनों ओर से पथराव शुरू हो गया, जिसके बाद भगदड़ मच गयी. लोग इधर-उधर भागने लगे. इसी बीच कुछ लोगों ने दो बाइक में आग लगा दी और पांच बाइक को क्षतिग्रस्त कर दिया. कई साइकिलों को भी नुकसान पहुंचाया.

इधर, घटना की सूचना मिलते ही सदर थाना प्रभारी सह-इंस्पेक्टर गणेश कुमार सिंह दल-बल के साथ पहुंचे और स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया. पुलिस के समझाने के बाद भी लोग उत्तेजित थे और पथराव कर रहे थे. भीड़ को नियंत्रित करने के प्रयास में पुलिस को भी पत्थर लगी, जिसमें थाना प्रभारी गणेश कुमार सिंह समेत डेढ़ दर्जन लोग घायल हो गये.

बाद में पुलिस ने आला अधिकारियों को सूचना दी. इसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा. पुलिस ने दो राउंड फायरिंग की और भीड़ को वहां से हटाया. घटना के बाद माहौल तनावपूर्ण बना हुआ था. हालांकि पुलिस के अनुसार स्थिति नियंत्रण में है.

40-50 लोगों को बनाया गया नामजद अभियुक्त : एसडीओ मेघा भारद्वाज ने कहा कि घटना को लेकर कटकमदाग थाना में लगभग 40-50 लोगों को नामजद एवं 400-500 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज कराया गया है. घटना को अंजाम देनेवाले लोगों को चिह्नित किया जा रहा है. दोषियों को गिरफ्तार करने के लिए छापामारी जारी थी. गांव में पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है.

डीआइजी, एसपी व डीसी पहुंचे: घटना की जानकारी मिलने पर डीआइजी अमोल वेणुकांत होमकर,डीसी संदीप सिंह, एसपी कार्तिक एस, एसडीओ मेघा भारद्वाज, सदर एसडीपीओ कमल किशोर, बड़कागांव एसडीपीओ भूपेंद्र रावत, कटकमदाग थाना प्रभारी धनंजय सिंह समेत कई थाना के प्रभारी पहुंच चुके थे. पुलिस वहां कैंप कर रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें