25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

ईश्वर पुत्र प्रभु यीशु हमारे पापों के लिए सूली पर चढ़े, तीसरे दिन जी उठे : बिशप आनंद

महागिरजाघर कैथोलिक आश्रम में मध्य रात्रि मिस्सा पूजा के साथ ईस्टर का शुभारंभ हुआ. गुडफ्राइडे के दिन प्रभु यीशु मृत्यु के बाद तीसरे दिन जी उठते हैं.

हजारीबाग. महागिरजाघर कैथोलिक आश्रम में मध्य रात्रि मिस्सा पूजा के साथ ईस्टर का शुभारंभ हुआ. गुडफ्राइडे के दिन प्रभु यीशु मृत्यु के बाद तीसरे दिन जी उठते हैं. इस उपलक्ष्य में ईस्टर मनाया जाता है. रात्रि 10.30 बजे महागिरजाघर में बिशप आनंद जोजो के नेतृत्व में फादर अंतोनी, फादर रेमंड, फादर मनोज, फादर टॉमी, फादर विजय ने विशेष मिस्सा किया. मिस्सा के पहले गिरजाघर की रोशनी बंद कर दी गयी. बिशप आनंद जोजो अग्नि को आशीष कर पवित्र मोमबत्ती को जलाये. सभी विश्वासी अपने साथ लाये मोमबत्ती को जलाये. बिशप ने एलान किया कि यह देखो ख्रीस्त की ज्योति है. विश्वासी जवाब दिया हम इसकी उपासना करते हैं. मरियम टोली, पतरातू, कोर्रा, मटवारी, नूतननगर टोला के विश्वासी पवित्र बाइबिल का पाठ किया. मिस्सा पूजा का भक्ति गान पल्ली गायक मंडली ने किया. मिस्सा पूजा के बाद ईसाई समुदाय प्रभु येसु के जीवित होने की ख़ुशी मनायी. एक-दूसरे को शुभकामनाएं दी. रविवार को ईसाई समुदाय झारखंड के पारंपरिक पकवान निमकी, अडसा, रोजकेक, केक, स्वादिष्ट भोजन बनाकर खायेंगे. सीएनआई चर्च में अहले सुबह चार बजे सभी विश्वासी कब्रिस्तान जा कर अपने-अपने प्रियजनों के कब्र पर आकर्षक सजावट कर मोमबत्ती जलाकर पूजा-अर्चना की. पुरोहित मनोज नाग के नेतृत्व में मिस्सा पूजा का संचालन किया गया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें