1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. supply of wet rice from sfc gumla to be distributed among the poor sdo asked for investigation report by circle officer smj

SFC गुमला से गरीबों के बीच बांटने के लिए भींगा चावल की आपूर्ति, SDO ने अंचलाधिकारी से मांगी जांच रिपोर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सिसई प्रखंड FCI गोदाम में भींगा चावल प्राप्त होने की शिकायत पर एसडीओ रवि आनंद ने की जांच.
सिसई प्रखंड FCI गोदाम में भींगा चावल प्राप्त होने की शिकायत पर एसडीओ रवि आनंद ने की जांच.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (दुर्जय पासवान, गुमला) : झारखंड के गुमला में लंबे समय से SFC, अंबेराडीह के गोदाम से भींगा हुआ चावल की सप्लाई FCI सिसई, भरनो, कामडारा व बसिया प्रखंड में किया जा रहा है. इसका खुलासा मंगलवार को तब हुआ. जब सिसई प्रखंड के FCI गोदाम में पहुंचाये गये 580 बोरी चावल की जांच की गयी. इसमें पाया गया कि 48 बोरी चावल भींगा हुआ था.

SFC, अंबेराडीह गोदाम से बीते तीन वर्षों से गरीबों के चावल पर डाका डाला जा रहा है. चावल की बोरी भींगा कर दिया जा रहा है. इस कारण अधिकांश चावल खराब सप्लाई हो रही है. मजबूरी में गरीब लाभुक चावल ले रहे हैं. दूसरी ओर भींगा हुए चावल की बोरी का वजन भी अधिक हो रहा है. पहले से लाभुकों को डीलर के माध्यम से दो से तीन किलो चावल कम दिया जाता है.

दूसरी ओर, भींगा हुआ चावल देने से गरीबों के निवाले पर डाका है. हालांकि, मामला उजागर होने व शिकायत के बाद एसडीओ रवि आनंद ने जांच की है. एसडीओ ने चावल की भी जांच की. जिसमें 48 बोरी चावल भींगा हुआ मिला है.

एसडीओ ने सीओ से जांच रिपोर्ट मांगे

सिसई प्रखंड FCI गोदाम में भींगा हुआ चावल प्राप्त होने की शिकायत पर एसडीओ रवि आनंद ने मंगलवार को गोदाम का निरीक्षण किया. निरीक्षण के उपरांत सीओ अरुणिमा एक्का को सभी 580 बोरी चावल की जांच कर रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया. इस संबंध में सीओ ने बताया कि मंगलवार को सिसई FCI गोदाम के सहायक गोदाम प्रबंधक आफताब आलम के द्वारा एक ट्रक से 580 बोरी खराब चावल प्राप्त होने की शिकायत किया गया था.

शिकायत पर एसडीओ ने गोदाम का निरीक्षण किया. सभी बोरी की जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया. जांच में 48 बोरी चावल को पानी से भींगा हुआ पाया गया. जिसकी रिपोर्ट भेजी जायेगी. वहीं गोदाम प्रबंधक आफताब आलम ने बताया कि डीलरों को सप्लाई होने के लिए मंगलवार को एक ट्रक से आये 580 बोरी चावल को खाली करते समय चावल भींगा होने की जानकारी हुई. जिसकी जानकारी ट्रांसपोटर, ठेकेदार के साथ विभाग को दी गयी. चालक के आग्रह पर बिना रिसीव के चावल गोदाम में रखवा दिया गया.

लाइसेंस रद्द हो, मालिक पर कार्रवाई हो : सांसद

गुमला स्थित अंबेराडीह के SFC गोदाम से भींगा हुआ चावल सप्लाई करने के मामले को सांसद सुदर्शन भगत ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने इस मुद्दे को लेकर गुमला डीसी व एसडीओ से फोन पर बात किये. साथ ही दोषी लोगों, गोदाम की ईमानदारी से जांच करने व गोदाम के मालिक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग किया है. स्थानीय सांसद सुदर्शन भगत भारतीय खाद्य निगम बोर्ड सलाहकार समिति झारखंड के अध्यक्ष भी हैं.

उन्होंने कहा कि गरीबों के अनाज पर किसी को डाका डालने नहीं दिया जायेगा. सिसई में मंगलवार को गरीबों को दिये जाने वाले अनाज में नमी और पानी डालकर गोदाम से डीलरों को अनाज सप्लाई के मामले में उन्होंने कहा कि इसपर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए. इस संबंध में उन्होंने गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा और एसडीओ रवि आनंद से बातचीत करते हुए पूरे मामले की जानकारी लेकर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है.

उन्होंने कहा कि जहां एक ओर कोरोना महामारी की मार से पूरा देश दंश झेल रहा है. वहीं, दूसरी ओर लोग गरीबों के अनाज में डाका डालने का काम कर रहे हैं. इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. उन्होंने कहा कि आमजनों को केंद्र सरकार द्वारा दो माह प्रति व्यक्ति पांच किलो अनाज दिया जा रहा है. उसे लेने की अपील की. उन्होंने कहा कि अनाज में वजन बढ़ाने के उद्देश्य से पानी मिलाने का यह काफी निंदनीय कार्य है. इस प्रकार की घटिया मानसिकता के लोगों पर और इस धंधे में शामिल सभी लोगों को चिह्नित कर कार्रवाई किया जाना चाहिए. गोदाम का लाइसेंस को रद्द कराने की बात कही.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें