1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. prabhat khabar impact cm took cognizance reached dc to see the situation of the hostel now the problem of students will be overcome

प्रभात खबर इंपैक्ट : सीएम ने लिया संज्ञान, डीसी पहुंचे उरावं हॉस्टल की स्थिति देखने, अब दूर होगी छात्रों की समस्या

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : गुमला के उरांव हॉस्टल की जर्जर स्थिति की जांच करते और छात्र से बात करते डीसी, डीडीसी व अन्य अधिकारी.
Jharkhand news : गुमला के उरांव हॉस्टल की जर्जर स्थिति की जांच करते और छात्र से बात करते डीसी, डीडीसी व अन्य अधिकारी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Gumla news : गुमला (दुर्जय पासवान) : गुमला शहर के उरांव हॉस्टल दुंदुरिया की छत से पानी टपकता है. छात्र खेत में शौच करने जाते हैं. इस समाचार को प्रभात खबर में प्रमुखता से प्रकाशित हुअा था. समाचार प्रकाशित होते ही राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस पर संज्ञान लिया है. उन्होंने गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा को ट्वीट कर उरांव हॉस्टल की समस्याओं को दूर करने का निर्देश दिया है. सीएम के निर्देश पर गुमला डीसी उरांव हॉस्टल की स्थिति को देखने पहुंच. उन्होंने एक सप्ताह में प्राक्कलन बनाने का निर्देश इंजीनियर को दिया. जिससे छात्रावास की मरम्मत हो सके.

उरांव हॉस्टल की होगी मरम्मत, प्राक्कलन बनाने का निर्देश

प्रभात खबर में समाचार प्रकाशित होने और सीएम हेमंत सोरेन द्वारा संज्ञान लेने के बाद गुरुवार को गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने डीडीसी संजय बिहारी अंबष्ठ, स्थापना उप समाहर्त्ता विद्या भूषण सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ दुंदुरिया स्थित उरांव हॉस्टल का निरीक्षण किया. निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त ने हॉस्टल भवन की जर्जर छत, कमरा, कमरों में रखे गये बेड और हॉस्टल परिसर स्थित शौचालय का जायजा लिया.

हॉस्टल के छात्रों ने डीसी को बताया गया कि कल्याण विभाग द्वारा 2 वर्ष पूर्व कमरों में बेड और बिस्तर की आपूर्ति की गयी थी. इसके अलावा वर्तमान में अतिरिक्त बेडों की भी आवश्यकता है. हॉस्टल का बिजली कनेक्शन की स्थिति भी ठीक नहीं है. छात्रों से जानकारी लेने के बाद डीसी ने हॉस्टल की मरम्मती के लिए भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता (Executive Engineer) को एक सप्ताह के अंदर प्राक्कलन तैयार करने का निर्देश दिया. वहीं, जिला परिषद के सहायक अभियंता को एक सप्ताह के अंदर हॉस्टल के शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण करने के साथ रंगरोगन का भी कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया.

बता दें कि 18 साल पहले उरांव हॉस्टल का निर्माण हुआ है, लेकिन निर्माण के बाद एक बार भी हॉस्टल के मरम्मती का कार्य नहीं हुआ है. जिस कारण हॉस्टल भवन के छत से पानी सिपेज करता है. साथ ही हॉस्टल के शौचालय की स्थिति ठीक नहीं होने के कारण छात्र खुले खेत में शौच करने के लिए जाते हैं. शौचालय की समस्या के निराकरण के लिए विधायक मद से हॉस्टल में शौचालय का निर्माण कार्य कराया जा रहा है. निरीक्षण में भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता, सहायक अभियंता, जिला परिषद के सहायक अभियंता, कार्यालय अधीक्षक आदि शामिल थे.

हॉस्टल की स्थिति दयनीय है

गुमला शहर के लोहरदगा रोड स्थित दुंदुरिया में उरांव हॉस्टल है. इस हॉस्टल का भवन जर्जर हो गया है. छत से पानी टपकता है. खिड़की नहीं है. छात्रों ने प्रचार होर्डिंग से खिड़की को ढका है. साथ ही खराब दीवार को अखबार से साट दिया है, जिससे दीवार खराब न दिखे. छत से प्लास्टर टूट कर गिर रहा है. जमीन का फर्स भी टूट गया है. यहां तक कि पूर्व विधायक के मदद से बनने वाला शौचालय 10 महीने से अधूरा है. पुराना शौचालय भी जर्जर हो गया है. कभी भी ध्वस्त हो सकता है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें