1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. physical assault in gumla embarrassing physical assault of a minor in gumla the victim became pregnant such a case was revealed srn

गुमला में नेत्रहीन नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, पीड़िता हुई गर्भवती, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नेत्रहीन नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म
नेत्रहीन नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म
प्रतीकात्मक तस्वीर

Physical Assault In Gumla, Gumla Physical Assault latest news गुमला : गुमला में एक नेत्रहीन नाबालिग लड़की (16) से सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है. पीड़िता मानसिक रोगी भी है. उसके साथ दो युवकों ने दुष्कर्म किया है. जब पीड़िता गर्भवती हुई, तो दुष्कर्म का राज खुला. इस संबंध में गुमला थाना में दो अज्ञात युवकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है. केस दर्ज कर महिला थाना की पुलिस ने बुधवार को पीड़िता का गुमला सदर अस्पताल में मेडिकल कराया. वहीं कोर्ट में प्रस्तुत कर 164 का बयान दर्ज किया गया.

दुष्कर्म का खुलासा ऐसे हुआ

एक सप्ताह पहले गुमला की एक संस्था की कुछ महिलाएं गांव गयी थी, तभी लड़की की स्थिति को देख कर जांच पड़ताल शुरू की गयी. इसकी जानकारी सीडब्ल्यूसी गुमला को मिली. सीडब्ल्यूसी ने मिशन बदलाव के जीतेश मिंज से इस मामले में मदद मांगा. श्री मिंज गांव पहुंचे. आंगनबाड़ी सेविका सहित कई लोगों से पूछताछ की, तब लड़की से दुष्कर्म होने व गर्भवती होने का मामला सामने आया. 19 जनवरी को इसकी जानकारी महिला थाना को दी गयी. साथ ही पीड़िता के परिवार द्वारा आवेदन सौंप कर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी. 20 जनवरी को पुलिस ने लड़की को अपने संरक्षण में लेकर मेडिकल कराया.

आरोपियों की आवाज से पहचान की जायेगी

नि:शक्त सह नाबालिग से गैंगरेप का मामला सामने आने के बाद गुमला पुलिस हरकत में आ गयी है. पुलिस ने अनुसंधान शुरू कर दिया है. लड़की से विभिन्न पहलुओं पर महिला पुलिस ने पूछताछ की है. लड़की देख नहीं सकती, इसलिए आरोपियों की पहचान करना मुश्किल है. ऐसे में पुलिस ने आवाज के माध्यम से आरोपियों तक पहुंचने की योजना बनायी है.

पुलिस ने मेडिकल कराया. 164 का बयान हुआ दर्ज

दुष्कर्म के आरोपियों की पहचान नहीं हो पायी है

यह मानवता को शर्मसार करने वाली घटना है. लड़की नाबालिग के साथ नि:शक्त है. उसके साथ दो युवकों ने गलत हरकत की है. इस मामले में पुलिस से अनुरोध किया गया है कि जांच कर आरोपियों को पकड़े.

जीतेश मिंज, संयोजक, मिशन बदलाव

पीड़िता देख नहीं सकती है. वह मानसिक रोगी भी है, इसलिए कुछ सही से जानकारी नहीं दे पा रही है. पूछताछ में दो युवकों द्वारा गलत करने की जानकारी दी है, जिसके आधार पर केस दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है.

प्रियंका तिर्की, महिला थानेदार, गुमला

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें