1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand news parents jammed road in gumla ghaghra in case of high school fees know what happened then smj

Jharkhand News : अधिक फीस लेने के मामले में पैरेंट्स ने गुमला के घाघरा में किया सडक जाम, जानें फिर क्या हुआ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : अधिक स्कूल फीस लेने के विरोध में घाघरा चांदनी चौक को जाम करते हुए पैरेंट्स.
Jharkhand news : अधिक स्कूल फीस लेने के विरोध में घाघरा चांदनी चौक को जाम करते हुए पैरेंट्स.
प्रभात खबर.

Jharkhand News, Gumla News, घाघरा न्यूज (गुमला) : गुमला जिला अंतर्गत घाघरा प्रखंड के मकरा स्थित सॉलिटेयर एजुकेशन एकेडमी (Solitaire Education Academy) में बच्चों से अधिक फीस ली जा रही है. इसके विरोध में बच्चों को पैरेंट्स ने घाघरा चांदनी चौक को जाम कर दिया. सड़क जाम होने से यातायात पूरी तरह से बाधित हो गयी. थानेदार की पहल पर मामला शांत कराया गया और स्कूल प्रबंधन 5 महीने का स्कूल फीस माफ किया. इसके बाद जाम खाली किया गया.

घाघरा के सॉलिटेयर एजुकेशन एकेडमी के बच्चों से स्कूल प्रबंधन द्वारा अधिक फीस लेने के विरोध में पैरेंट्स एकजुट होकर रविवार को हाई स्कूल मैदान में बैठक की. बैठक में उपस्थित सभी पैरेंट्स ने एक स्वर में कहा कि कोरोना काल के दौरान 6 माह के स्कूल फीस को माफ किया जाय. पैरेंट्स और स्कूल प्रबंधन के बीच वार्ता में जब बात नहीं बनीं, तो स्कूल प्रबंधन से आये लोग वार्ता को बीच में ही छोड़कर चलते बने. तब पैरेंट्स एकजुट होकर घाघरा चांदनी चौक को जाम कर दिया. जिससे यातायात पूरी तरह बाधित हो गयी.

घाघरा चांदनी चौक जमा होने की सूचना पर थानेदार कुंदन कुमार सिंह ने मामले में हस्तक्षेप कर पैरेंट्स और स्कूल प्रबंधन दोनों को थाना बुलाया गया. जहां दोनों पक्ष की बात को सुनते हुए थानेदार कुंदन सिंह ने 5 महीने की शुल्क माफ करने की बातें कही. जिस पर दोनों पक्ष ने हामी भरी. साथ ही इस बात पर भी सहमति बनी कि पूर्व में ही जिन पैरेंट्स ने पूरी शुल्क जमा कर दी थी. वैसे बच्चों का फीस आने वाले माह के लिए जमा कर दिया जायेगा.

परीक्षा दो दिन बाद से लेने का फैसला

इस विरोध के बाद 15 मार्च से होने वाले परीक्षा को स्कूल प्रबंधन ने दो दिनों के बाद लेने का फैसला किया. सभी पैरेट्ंस से अपील किया कि 20 मार्च तक तय फीस को सभी समय पर जमा कर दें. स्कूल प्रबंधन ने कहा कि कुछ पैरेट्ंस अपने व्यक्तिगत स्वार्थ निकालने के लिए यह सब घटनाक्रम को अंजाम दिये हैं. सॉलिटेयर स्कूल प्रबंधन भी इस मामले को लेकर सोमवार को डीसी के पास जायेगी. डीसी जैसा बोलेंगे जो आदेश देंगे. उसे ही विद्यालय प्रबंधन मानेगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें