1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news in gumla at jari killing the young man and throwing the dead body in the dam the police is engaged in the investigation smj

Jharkhand Crime News : गुमला के जारी में युवक की हत्या कर शव को डैम में फेंका, पुलिस जांच में जुटी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : गुमला के जारी गांव में युवक की हत्या मामले की जांच करती पुलिस.
Jharkhand news : गुमला के जारी गांव में युवक की हत्या मामले की जांच करती पुलिस.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (गुमला) : गुमला जिला अंतर्गत जारी थाना के गढ़ाअसरो निवासी 25 वर्षीय असीम लकड़ा की हत्या कर उसके शव को बंझर डैम में फेंक दिया गया था. असीम 25 अप्रैल से घर से लापता था. वह हत्या के मामले में जेल में था और दो माह पहले जेल से जमानत पर छूटा था. मंगलवार को पुलिस ने शव को डैम से निकाला. बताया जा रहा है कि आरोपियों ने असीम को लात, मुक्का से मारकर हत्या कर दिया था. इसके बाद शव को कोक नदी के किनारे गाड़ दिया. फिर नदी से शव को निकालकर पत्थर से बांधकर शव को बंझर डैम में फेंक दिया था. पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए गुमला सदर हॉस्पिटल भेज दिया.

घटना को ऐसे दिया गया अंजाम

मृतक के पिता ख्रीस्तोफर लकड़ा ने बताया कि 25 अप्रैल की सुबह 9 बजे बेटा असीम घर में बिना किसी को कुछ बताये निकलकर कहीं घूमने गया था. इसके बाद वह घर नहीं लौटा. 26 अप्रैल को जारी थाना में असीम के लापता होने का सन्हा दर्ज कराया गया था. पिता ने बताया कि मेरा बेटा गांव के ही मनोज मिंज के साथ पुंडी गांव गया था. 26 अप्रैल की सुबह 7 बजे असीम को खोजने मनोज के घर गया. पूछताछ किया तो मनोज के घर वालों ने बताया कि असीम और मनोज पुंडी गांव गये हुए हैं. पिता अपने बेटे को खोजने पुंडी गांव पहुंच गया.

पुंडी गांव में मनोज मिंज और एल्बम टोप्पो से भेंट हुई. दोनों ने बताया कि 25 अप्रैल की रात 10 बजे असीम लकड़ा अपने दोस्त एल्बम टोप्पो, विनीत टोप्पो, निरंजन लकड़ा, बीडी लकड़ा तथा सतीश खलखो ये सभी लोग बारडीह में काम करने के लिए गये हुए थे. बारडीह में 4 बजे तक काम किया और उसके बाद सभी कोई ग्राम बारडीह के चमरू बैगा के घर में शादी देखने गये.

बारडीह गांव में शादी समारोह में राजेश तिग्गा एवं उनकी पत्नी कुसुमलता तिग्गा तथा अन्य तीन युवकों द्वारा असीम लकड़ा को मारते- पीटते तथा घसीटते हुए चमरू बैगा के घर के पीछे ले गये थे. जब कुछ लोगों ने असीम को बचाने को प्रयास किया तो राजेश ने कहा कि असीम ने मेरे बेटे को मार डाला है. पिता ने कहा कि आपसी दुश्मनी के चलते बारडीह निवासी राजेश टोप्पो द्वारा मेरे बेटे को अपहरण कर हत्या कर दी गयी है.

पहले नदी में गाड़ा, फिर डैम में फेंका

इधर, प्रशिक्षु दारोगा दीपक रोशन, अजय रजक और एएसआई विनोद शर्मा के द्वारा दल- बल के साथ बारडीह गांव पहुंचे और शक के आधार पर फौजी राजेश टोप्पो को जारी पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ किया गया तो उन्होंने बताया कि गांव के युवाओं के द्वारा असीम लकड़ा को मार कर फेंक दिया गया है. बता दें कि असीम लकड़ा को हत्या करने के बाद 25 अप्रैल को स्थानीय कोक नदी मे पानी में गाड़ दिया था. पकड़ाने के डर एवं नदी में कम पानी होने के कारण पुनः रणनीति बनाकर कोक नदी से शव को निकालकर बंझर स्थित डैम में पत्थर बांधकर फेंक दिया गया था. पुलिस ने शक के आधार पर तीन लोगों को हिरासत में लिया है.

मृतक हत्या का आरोपी था : पुलिस

प्रशिक्षु दारोगा दीपक रोशन ने बताया कि यह घटना बदले की भावन से किया गया है. पूर्व में राजेश तिग्गा के पुत्र को मृतक असीम लकड़ा के द्वारा हॉकी स्टीक से मारकर हत्या कर दिया गया था. मृतक दो माह पहले जेल से छूट कर आया था. अनुसंधान किया जा रहा है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें