1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. four children narrowly escaped from seven children bathing in river in jharkhand dead body of two brothers recovered no clue of a girl gur

झारखंड में नदी में नहा रहे सात बच्चों में चार बाल-बाल बचे, दो सगे भाइयों का शव बरामद, एक बच्ची का सुराग नहीं

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गुमला में नदी की तेज धार में बहे दो बच्चों का शव बरामद, एक की तलाश जारी
गुमला में नदी की तेज धार में बहे दो बच्चों का शव बरामद, एक की तलाश जारी
प्रभात खबर

बसिया(कमलेश साहू) : झारखंड के गुमला जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल बाघमुंडा जलप्रपात में रविवार दोपहर लगभग 12 बजे उस समय खुशी मातम में बदल गई, जब एक साथ नदी में नहा रहे सात बच्चे नदी की तेज धार में बह गए. डूबते बच्चों की आवाज सुन कर नदी में मछली मार रहे ग्रामीणों ने सात में से चार बच्चों को बचा लिया, वहीं तीन बच्चे 16 वर्षीय जयकांत एक्का, 11 वर्षीय अंकित अर्पण एक्का एवं 7 साल की इशिका तिग्गा नदी की तेज धार में बह गए. दो बच्चों का शव बरामद कर लिया गया है, जबकि सात साल की बच्ची का अभी तक सुराग नहीं मिला है.

घटना के आधा घंटा बाद ग्रामीणों के सहयोग से अंकित अर्पण एक्का का शव बरामद किया गया. करीब पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों के सहयोग से कोयल नदी से जयकांत एक्का का भी शव बरामद कर लिया गया, जबकि काफी प्रयास के बाद भी सात साल की इशिका का पता नहीं चल पाया, जिसके बाद प्रशासन द्वारा एनडीआरएफ की टीम को इसकी जानकारी दी गई.

रविवार शाम एनडीआरएफ की 15 सदस्यीय टीम बसिया पहुंची. सोमवार सुबह से ही टीम एवं स्थानीय ग्रामीणों की मदद से प्रशासन द्वारा बच्ची की तलाश की गई, पर सोमवार को भी बच्ची का कोई सुराग नहीं मिल पाया था. जानकारी के अनुसार रांची के नामकुम महुआ टोली से एक ही परिवार के कुल 25 लोग पिकनिक मनाने गुमला के बाघमुंडा जल प्रपात आए थे. इन्हीं में से कुल सात बच्चे नदी में डूब गए थे, जिनमें चार को बचा लिया गया, जबकि जेम्स पीटर एक्का के दो पुत्र अंकित अर्पण एवं जयकांत की मौत के बाद लाश बरामद कर लिया गया, वहीं अभिषेक तिग्गा की सात वर्षीया पुत्री इशिका अभी भी लापता है.

रविवार को घटना की जानकारी मिलते ही बसिया एसडीओ संजय पीएम कुजूर, एसडीपीओ दीपक कुमार, बीडीओ रविन्द्र गुप्ता, सीओ संतोष बैठा, इंस्पेक्टर बुजु उरांव, थानेदार उपेंद्र महतो दल बल के साथ घटनास्थल पहुंचे एवं देर शाम तक डटे रहे, वहीं आसपास के सैकड़ों ग्रामीण भी डूबे हुए बच्चों की तलाश में जुट गए. सोमवार को भी एनडीआरएफ एवं स्थानीय प्रशासन के साथ-साथ ग्रामीणों ने भी लापता बच्ची को ढूंढने का काफी प्रयास किया, पर असफल रहे.

घटना के बाद जेम्स पीटर एक्का एवं उनकी बहन सहित परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा. जेम्स पीटर एक्का के दो ही पुत्र थे. दोनों की मौत हो चुकी है. लापता इशिका तिग्गा, जेम्स की छोटी बहन की पुत्री है. परिजन भूखे प्यासे दो दिनों से पथराई आंखों से इशिका के मिलने की आस में बैठे रहे.

अंकित अर्पण एक्का नामकुम स्थित सरला बिरला स्कूल में कक्षा 6 का छात्र था. जयकांत एक्का नामकुम स्थित विशप स्कूल में कक्षा 9 में पढ़ता था. इशिका तिग्गा नामकुम स्थित मजरेलो सहेरा स्कूल में पहली कक्षा की छात्रा है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें