1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. encroachment will be removed from gumla city beautification will be done from patel chowk to tower chowk instructions to make dpr smj

गुमला शहर से हटेगा अतिक्रमण, पटेल चौक से टावर चौक तक होगा सौंदर्यीकरण, DPR बनाने का निर्देश

गुमला नगर परिषद की बैठक डीसी शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में हुई. बैठक में शहर से अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस जारी करने और शहर में पार्किंग जोन के निर्माण के लिए डीपीआर बनाने का निर्देश दिया. साथ ही पटेल चौक से टावर चौक तक सौंदर्यीकरण पर जोर दिया गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में नगर परिषद की हुई बैठक. लिये गये कई निर्णय.
गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में नगर परिषद की हुई बैठक. लिये गये कई निर्णय.
प्रभात खबर.

Jharkhand news (जगरनाथ, गुमला) : गुमला नगर परिषद की बैठक डीसी शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में हुई. बैठक में शहर से अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस जारी करने और शहर में पार्किंग जोन के निर्माण के लिए डीपीआर बनाने का निर्देश दिया. साथ ही पटेल चौक से टावर चौक तक सौंदर्यीकरण पर जोर दिया गया.

बैठक में शहरी क्षेत्र के विकास एवं सौंदर्यीकरण तथा विभिन्न वार्डों में व्याप्त समस्याओं के निराकरण पर चर्चा किया गया. डीसी ने नप क्षेत्र अंतर्गत साफ-सफाई, स्वच्छता, विकास एवं सौंदर्यीकरण के दृष्टिकोण से कार्य किये जाने पर बल दिया. साथ ही वार्ड पार्षदों से संबंधित वार्ड अंतर्गत व्याप्त आम समस्याओं की जानकारी प्राप्त की.

इस दौरान नप उपाध्यक्ष मो कलीम अख्तर ने मूल समस्या जैसे गंदे जल की निकासी, सड़क, विद्युत एवं पेयजल व जलापूर्ति आदि से समस्याओं से डीसी को अवगत कराया. साथ ही उपरोक्त जनसमस्याओं के निराकरण की दिशा में पहल करने का अनुरोध किया. वार्ड संख्या-4 के पार्षद कृष्णा राम ने अपने वार्ड अंतर्गत साप्ताहिक बाजार टांड़ में अवैध अतिक्रमण एवं सब्जियों, फलों आदि के अवशेषों को अव्यवस्थित रूप से फेंके जाने के कारण फैलने वाली गंदगी तथा आमजनों को आने-जाने में होने वाली असुविधा की शिकायत की गयी.

वार्ड संख्या 21 की पार्षद शैल मिश्रा द्वारा DSP रोड तथा पालकोट रोड में पाइपलाइन विस्तारीकरण नहीं होने के कारण आमजनों को होने वाली पेयजलापूर्ति से संबंधित समस्याओं से अवगत कराया. उनके द्वारा यह भी बताया गया कि शहरी क्षेत्र में स्थित किराना दुकानों, प्रतिष्ठानों आदि द्वारा अतिक्रमण किये जाने से मुख्य पथ पर लगने वाले जाम के कारण आवागमन बाधित होती है.

शहर में पर्याप्त जलापूर्ति की व्यवस्था का भी अभाव है. समुचित लोग जलापूर्ति से लाभांवित नहीं हो पा रहे हैं. शहर में चार जलमीनार है. जिसमें दुंदुरिया स्थित जलमीनार में पानी का भराव समय पर नहीं होने के कारण आसपास के क्षेत्रों में जलापूर्ति बाधित है. वहीं, कुम्हारटोली के समीप मुख्य पथ पर उचित जल निकासी की व्यवस्था नहीं होने के कारण दूषित पानी सड़क पर जमा हो जाती है.

नप अध्यक्ष दीपनारायण उरांव द्वारा जलमीनार संकट की जानकारी देते हुए पालकोट रोड स्थित जलमीनार की क्षमता को बढ़ाने के लिए उसके आकार में वृद्धि करने का अनुरोध किया. इस पर डीसी ने सड़क किनारे अवस्थित दुकानों द्वारा लगाये जाने वाले अतिक्रमण को हटवाने में सभी वार्ड पार्षदों एवं नप सदस्यों की सहभागिता को महत्वपूर्ण बताया. उन्होंने पटेल चौक से टावर चौक की ओर जाने वाले मुख्य पथ पर अवस्थित प्रतिष्ठानों एवं दुकानों द्वारा रोड के किनारे लगाये गये अतिक्रमण को हटवाने का निर्देश दिया.

डीसी ने निर्देश देते हुए कहा कि माईकिंग के माध्यम से दुकानदारों को इसके प्रति जागरूक करें. अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस निर्गत करें. इसके बाद भी यदि अतिक्रमण नहीं हटाया जाता है, तो संबंधित दुकानदार के खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करें. वहीं, हाट-बाजारों के कारण लगने वाले अनावश्यक सड़क जाम के निदान स्वरूप पार्किंग जोन के निर्माण का निर्देश कार्यपालक पदाधिकारी नप को दिया.

इस संबंध में उन्होंने पार्किंग एरिया के लिए स्थल चयन करने एवं एक सप्ताह के अंदर डीपीआर तैयार कर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया. साथ ही जलमीनार को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से नप अध्यक्ष को प्रस्ताव तैयार करने का भी निर्देश दिया. नप क्षेत्र के विकास तथा सौंदर्यीकरण पर बल देते हुए पटेल चौक से टावर चौक तक सौंदर्यीकरण कराने का निर्देश दिया. उन्होंने बिरसा मुंडा एग्रो पार्क को विकसित करने के उद्देश्य से फव्वारे का सुदृढ़ीकरण तथा हाई मास्ट लाइट के अधिष्ठापन की जानकारी देते हुए दुंदुरिया स्थित रॉक गार्डेन को भी विकसित करने पर जोर दिया.

अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता ने नप क्षेत्र के विकास, साफ-सफाई, अतिक्रमण हटाव तथा सौंदर्यीकरण के दृष्टिकोण से सर्वप्रथम मंगलवार एवं शनिवार को लगने वाले हाट-बाजार के कारण सड़कों पर लगने वाले अनावश्यक जाम को नियंत्रित करने के लिए स्थल चिह्नित कर हाट-बाजारों को परिवर्तित करने तथा पटेल चौक से टावर चौक तक दुकानदारों द्वारा लगाये जाने वाले अतिक्रमण को हटवाने के लिए दुकानदारों को नोटिस निर्गत करने, नोटिस निर्गत करने के बावजूद अतिक्रमण नहीं हटाने पर संबंधित प्रतिष्ठानों एवं दुकानदारों के खिलाफ आईपीसी की सुसंगत धाराओं के तहत सख्त कानूनी कार्रवाई करने तथा सामग्रियों को जब्त करने पर बल दिया.

बैठक में नगर परिषद अध्यक्ष दीपनारायण उरांव उपाध्यक्ष कलीम अख्तर, कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद सह सदर अनुमंडल पदाधिकारी रवि आनंद, नगर प्रबंधक नगर परिषद अनंत खलखो, कार्यपालक अभियंता विशेष प्रमंडल अमरेंद्र कुमार सहित विभिन्न वार्डों के पार्षद व अन्य उपस्थित थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें