1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. day after sp intensive operation armed criminals kidnap and shoot young man in gumla district of jharkhand mth

एसपी के सघन अभियान के एक दिन बाद हथियारबंद अपराधियों ने युवक का अपहरण कर गोली मार दी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
गुमला जिला में अपराधियों के हौसले हो गये हैं बुलंद.
गुमला जिला में अपराधियों के हौसले हो गये हैं बुलंद.

गुमला : झारखंड के उग्रवाद प्रभावित गुमला जिला में वर्दीधारी हथियारबंद 5 अज्ञात अपराधियों ने एक युवक का उसके परिवार वालों के सामने से अपहरण किया और बाद में उसके सिर में दो गोली मारकर हत्या कर दी. मामला घाघरा थाना क्षेत्र के सरांगो मोहनपुर गांव का है. इसी इलाके में एसपी हरदीप पी जनार्दन ने एक दिन पहले नक्सलियों और अपराधियों के खिलाफ सघन अभियान चलाया था.

बताया गया है कि 22 वर्षीय देवेंद्र सिंह का 5 अज्ञात वर्दीधारी हथियारबंद अपराधियों ने पहले अपहरण किया और फिर पोड़ा कुसुम मोड़ के पास जाकर उसके सिर में गोली मारकर हत्या कर दी. घटना की सूचना जैसे ही पुलिस को मिली, एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल थाना प्रभारी सुधीर प्रसाद साहू पूरे दल-बल के साथ पहुंचे.

पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया. घटना के संबंध में मृतक के पिता सत्यनारायण सिंह ने बताया कि बुधवार की रात करीब 10 बजे 5 लोग बोलेरो में सवार होकर आये. हथियारबंद वर्दीधारियों ने दरवाजा खुलवाया और देवेंद्र को पकड़कर ले जाने लगे.

देवेंद्र की पत्नी ने इसका विरोध किया, तो बंदूक की बट से मारकर सोनामनी देवी को घायल कर दिया गया. देवेंद्र के बड़े भाई ने भी अपहरणकर्ता से अपने भाई को मुक्त कराने का प्रयास किया, तो उसे भी बंदूक की बट से पीठ पर वार करके जमीन पर गिरा दिया गया. इसके बाद वे लोग देवेंद्र को बोलेरो में बैठाकर ले गये.

सत्यनारायण सिंह ने बताया कि गुरुवार की सुबह उन्हें सूचना मिली कि उनके बेटे की हत्या कर दी गयी है. अपराधियों ने देवेंद्र के सिर में दो गोली मारी थी. सत्यनारायण के बड़े बेटे दशरथ सिंह ने कहा है कि पुलिस ने समय रहते कार्रवाई की होती, तो उसके छोटे भाई की जान नहीं जाती.

कहा कि अपराधी को पकड़कर सजा दिलाने की बजाय पुलिस ने शिकायत करने की वजह से उसके ही परिवार को प्रताड़ित किया. कथित तौर पर पुलिस ने कहा, ‘तुम लोग बहुत घटिया आदमी हो. तुम लोग ही अपनी बहन को जान-बूझकर भगाये हो.’ बाद में अपराधियों ने उनकी बहन को घर पहुंचाया और पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी.

पुलिस ने सत्यनारायण सिंह के बेटों से कहा कि अपनी बहन की शादी कर दो. जैसे ही बहन की शादी की, अपराधियों ने भाई का अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर दी. पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ समय रहते कार्रवाई की होती, तो शायद मेरे भाई की जान नहीं जाती.

कोई अपराधी नहीं बच पायेगा

गुमला के एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल ने बताया कि अपहरण के बाद हत्या की गयी है. तमाम बिंदुओं पर जांच की जा रही है. कोई भी अपराधी बच नहीं पायेगा. सभी को सलाखों के पीछे भेजा जायेगा. इलाके में बढ़ते अपराध के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पुलिस अब लगातार अभियान चलायेगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें