1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. controversy due to alcohol in sisai drinking alcohol together debate in the matter took the life of a friend srn

सिसई में शराब के नशे में विवाद, साथ में पी शराब, बात बात में हुई बहस तो दोस्त की ही ले ली जान

झड़िया पहाड़ में नगर सिसकारी गांव निवासी सुशील उरांव (28) की हत्या कर दी गयी. हत्या करने के बाद शव को जटू खड़िया के कुआं में फेंक दिया गया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Gumla crime news
Gumla crime news
fb

सिसई थाना के रेड़वा झड़िया पहाड़ में नगर सिसकारी गांव निवासी सुशील उरांव (28) की हत्या कर दी गयी. हत्या करने के बाद शव को जटू खड़िया के कुआं में फेंक दिया गया. सुशील की हत्या उसके ही दोस्तों ने शराब पीने के बाद कर दी. बुधवार को सिसई पुलिस ने नग्न हालत में शव बरामद किया. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया.

पुलिस ने हत्या में शामिल अड़ियाटोली गांव निवासी राजकुमार उरांव (20) व गणेश उरांव (21) को गिरफ्तार कर लिया. थानेदार अभिनव कुमार ने बताया कि शराब के नशे में आपसी विवाद के कारण राजकुमार व गणेश ने सोमवार को सुशील की हत्या कर शव छुपाने की नीयत से कुआं में डाल दिया था. पूछताछ में दोनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है. दोनों को गुरुवार को जेल भेज दिया जायेगा. जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह किसान अपने खेत में लगी फसल को देखने गया था.

इस दौरान उसने अपने खेत में किसी के घसीटने के निशान और कुआं के समीप भारी मात्रा में खून देखकर स्थानीय चौकीदार जीतवाहन बड़ाइक को इसकी सूचना दी. चौकीदार की सूचना पर थानेदार अभिनव कुमार दल बल के साथ घटनास्थल पहुंचे. कुआं में झागर डलवाया, तो कुआं से शव निकला. शव पूरी तरह से नग्न था. उसके गला में गंजी के सहारे पत्थर बंधा हुआ था. शव से दुर्गंध आ रही थी. सिर व शरीर में धारदार व नुकीले हथियार से मारे जाने का जख्म था.

मृतक की पत्नी अनिता देवी ने बताया कि मेरा पति खेतीबारी का काम अब खत्म हो गया कहकर मैं अपने साढ़ू के पास सुपाली जा रहा हूं. दोनों मिलकर बाहर काम करने जायेंगे. ट्रेन का टिकट करने के लिए 13 सौ रुपया लेकर सोमवार की सुबह को साइकिल से निकला था. सोमवार की शाम को अड़ियाटोली निवासी दीनबंधु उरांव ने मेरे भाई अजय उरांव के पास फोन कर बताया कि तुम्हारा जीजा मेरा घर आया था. जिसको खाना खिलाकर दोपहर में भेज दिया हूं. अपने साढ़ू के घर सुशील के नहीं पहुंचने पर हमलोग उसकी तलाश कर रहे थे. तभी बुधवार को उसका शव मिला.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें