1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. giridih
  5. district vice president of lalu prasad yadav party rjd kailash yadav beaten to death at bengabad in giridih district of jharkhand mth

लालू प्रसाद की पार्टी राजद के गिरिडीह जिला उपाध्यक्ष कैलाश यादव की बेंगाबाद में पीट-पीटकर हत्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
घटना के बाद सुरक्षा में तैनात पुलिस बल के जवान.
घटना के बाद सुरक्षा में तैनात पुलिस बल के जवान.
Prabhat Khabar

बेंगाबाद : झारखंड के गिरिडीह जिला में लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के एक नेता की पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी. इस दौरान प्रभारी मुखिया के प्रतिनिधि इंद्रलाल वर्मा (55) के हाथ-पैर तोड़ डाले. करीब दो दर्जन हमलावर पहले से घात लगाये बैठे थे. स्ट्रीट लाइट को बंद करने के बाद राजद के जिला उपाध्यक्ष कैलाश यादव (45) पर हमला बोल दिया. विभिन्न संगठनों ने गिरिडीह जेपी चौक जाम करके इसका विरोध जताया.

घटना मंगलवार देर रात की है. राष्ट्रीय जनता दल के जिला उपाध्यक्ष कैलाश यादव (45) की मोतीलेदा गांव में पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी. इस दौरान अपराधियों ने स्ट्रीट लाइट को बंद कर अंधेरा कर दिया था. मामला बालू ट्रैक्टर की रंगदारी से जुड़ा है. घटना के विरोध में बुधवार को विभिन्न राजनीतिक दलों व संगठनों ने गिरिडीह जेपी चौक के समक्ष सड़क जाम किया. वे हत्यारोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने एवं बेंगाबाद थाना प्रभारी को बर्खास्त करने की मांग कर रहे थे.

मृतक राजद नेता के भाई छोटेलाल यादव ने बताया कि मंगलवार की शाम वार्ड संख्या 16 की सदस्य हेमंती देवी के प्रतिनिधि जितेंद्र वर्मा के साथ निलंबित मुखिया सुखदेव राय की किसी बात को लेकर झड़प हुई थी. जितेंद्र वर्मा के अनुरोध पर उसके साथ राजद नेता कैलाश यादव, प्रभारी मुखिया रामकुमार वर्मा के प्रतिनिधि इंद्रलाल वर्मा, पंसस प्रतिनिधि रीतलाल प्रसाद वर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कुमार, पवन वर्मा सहित अन्य लोग रात को ही थाना पहुंचे थे.

थाना में आवेदन देने के बाद रात साढ़े नौ बजे सभी बाइक से ही एक साथ लौट रहे थे. एक-एक कर सभी लोग अपने-अपने घर पहुंच गये. कैलाश यादव और इंद्रलाल वर्मा एक ही बुलेट पर सवार थे. कैलाश यादव, इंद्रलाल वर्मा को उसके घर बनगांवा छोड़ने के बाद अपने घर खैरोना जाता, लेकिन इंद्रलाल वर्मा के घर से महज कुछ मीटर पहले ही घात लगाये दो दर्जन से अधिक हमलावरों ने दोनों पर हमला बोल दिया.

लाठी-डंडे से दोनों की जमकर पिटाई की गयी. दोनों को मृत समझकर हमलावर चले गये. इधर, एक राहगीर ने सड़क किनारे पड़ी बुलेट को देखा, तो कैलाश यादव के गांव जाकर इसकी जानकारी दी. जब लोग वहां पहुंचे, तो कैलाश और इंद्रलाल बेसुध पड़े थे. पूछे जाने पर बताया कि सुखदेव राय और उसके समर्थकों के खिलाफ थाना जाकर आवेदन देने के कारण उन पर हमला हुआ.

विलाप करते कैलाश यादव के परिजन
विलाप करते कैलाश यादव के परिजन
Prabhat Khabar

कैलाश यादव ने रास्ते में तोड़ा दम

आनन-फानन में परिजन दोनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल ले गये. वहां चिकित्सक ने गंभीर स्थिति को देखते हुए दोनों को धनबाद रेफर कर दिया. धनबाद ले जाने के दौरान रास्ते में कैलाश यादव ने दम तोड़ दिया. परिजन उसे वापस पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पाताल गिरिडीह ले आये. इधर, इंद्रलाल वर्मा के दोनों पैर और एक हाथ टूट गया है. उसे धनबाद के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

क्या कहती है पुलिस

एसडीपीओ कुमार गौरव ने कहा कि पीड़ित परिजन के फर्दबयान में सुखदेव राय, राजेश राय सहित छह को नामजद किया गया है. इसके अलावा 20-25 अज्ञात को आरोपी बताया है. पुलिस टेक्निकल सेल की मदद से हमलावरों की गिरफ्तारी में जुट गयी है. कई स्थानों पर छापेमारी चल रही है. पुलिस को जल्द ही सफलता हाथ लगेगी.

दिन में मारपीट की शिकायत देने गये थे थाना

हमला से पहले मोतीलेदा पंचायत के कोल्हासिंगा निवासी जितेंद्र वर्मा ने चार के विरुद्ध बेंगाबाद थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी थी. कांड संख्या 186/20 के तहत दर्ज प्रथमिकी में सुखदेव राय, महेंद्र पंडित, भुनेश्वर पंडित और गणेश राय को आरोपी बनाया गया है. जितेंद्र ने कहा कि उसका एक ट्रैक्टर है. उक्त लोग नदी से बालू उठाने पर रंगदारी की मांग करते हैं. रंगदारी देने से मना करने पर मंगलवार को उसके साथ मारपीट की गयी. रात को इसी मामले में थाना में सभी लौट रहे थे कि उन पर हमला हुआ.

कैलाश यादव के दोनों पुत्रों को संभालते परिजन
कैलाश यादव के दोनों पुत्रों को संभालते परिजन
Prabhat Khabar

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें