34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

झारखंड: मां-बेटे की गला दबाकर हत्या, सोने-चांदी के जेवरात व एक लाख कैश लेकर भागे अपराधी, जांच में जुटी पुलिस

मृतका मीना देवी बंदना फाइनेंस लिमिटेड के ग्रुप का संचालन करती थी. आसपास के लोगों को कर्ज पर पैसे देती थी. एक माह पहले थाना क्षेत्र के राकूडीह गांव के एक व्यक्ति के साथ पैसे देने को लेकर विवाद हुआ था. पैसे नहीं देने पर मीना के साथ उसने झगड़ा भी किया था. पुलिस जांच में जुटी है.

देवघर, आशीष कुंदन: झारखंड के देवघर जिले के जसीडीह थाना क्षेत्र के घोरलास गोविंदपुर गांव निवासी भोलानाथ राय की पत्नी मीनी देवी (32 वर्ष) व उसके 10 वर्षीय पुत्र की अपराधियों ने गला दबाकर हत्या कर दी. दोनों का शव घर के कमरे में पड़ा हुआ मिला. मां-बेटे की हत्या गला दबाकर की गयी है. दोनों के गले में दाग भी पाया गया है. कमरे में रखे गोदरेज के अंदर से सोने, चांदी के जेवरात सहित करीब एक लाख रुपए भी गायब हैं. मृतक राजकुमार के गले में भी सोने का लॉकेट नहीं था. घटना की सूचना पाकर प्रशिक्षु आईपीएस शिवम प्रकाश, एसडीपीओ पवन कुमार, इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी सत्येन्द्र प्रसाद घटनास्थल पर पहुंचे व मामले की जांच पड़ताल में जुट गये. पुलिस ने मां-बेटे के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. सूचना मिलते ही गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे, विधायक नारायण दास, पूर्व मंत्री सुरेश पासवान सहित अन्य कई लोग मृतका के घर पहुंचे. सांसद ने विधि व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए पुलिस से शीघ्र अपराधियों की पहचान कर उनलोगों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है.

ग्रुप का संचालन करती थी मृतका

जानकारी के मुताबिक मृतका मीना बंदना फाइनेंस लिमिटेड के ग्रुप का संचालन करती थी. आसपास के लोगों को कर्ज पर पैसे देती थी. एक माह पहले थाना क्षेत्र के राकूडीह गांव के एक व्यक्ति के साथ पैसे देने को लेकर विवाद हुआ था. पैसे नहीं देने पर मीना के साथ उसने झगड़ा भी किया था. लोगों के अनुसार मृतका के पति भोलानाथ राय ऑटो चलाकर परिवार का भरण-पोषण करते हैं. बुधवार रात करीब आठ बजे वह घर से ऑटो चलाने के लिए निकले थे. रात में मीना व उनका पुत्र घर पर था, जबकि उनकी पुत्री वर्षा कुमारी मामा घर में रहकर ही पढ़ाई करती है. आसपास के लोगों की मानें, तो सुबह राज कुमार ट्यूशन पढ़ने नहीं गया तो शिक्षक चंदन राणा उसे खोजने उसके घर पहुंचे. बाहर से घर का दरवाजा सटा हुआ था, जिसे चंदन ने खोला तो स्थिति देख पीछे हट गए.

Also Read: झारखंड: बम से घर को उड़ाने की नक्सली कोशिश नाकाम, बाल-बाल बचा परिवार, पोस्टर चिपकाकर जान मारने की धमकी

सांसद निशिकांत दुबे ने गिरफ्तारी का दिया निर्देश

हो-हल्ला करने पर आसपास के लोगों को घटना की जानकारी हुई. घटना की सूचना पड़ोसियों ने मृतका के पति को दी. घटना की जानकारी पाकर मृतका के पति घर पहुंचे तो देखा कि गोदरेज खुला हुआ है और सामान बिखरा पड़ा था. मामले की जानकारी होने पर गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे, विधायक नारायण दास, पूर्व मंत्री सुरेश पासवान सहित अन्य कई लोग मृतका के घर पहुंचे. सांसद ने विधि व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए पुलिस से शीघ्र अपराधियों की पहचान कर उनलोगों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है. फिलहाल एसडीपीओ जसीडीह थाने में कैंप कर तकनीकी बिंदुओं पर जांच पड़ताल में जुटे हैं.

Also Read: खुशखबरी! रांचीवासियों को ट्रैफिक जाम से मिलेगी मुक्ति, अरगोड़ा व करमटोली समेत इन फ्लाईओवरों से बदलेगी तस्वीर

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें