1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chaibasa
  5. diwali 2020 diwali chhath and other festive season burst firecrackers in just 2 hours emphasis on bursting green firecrackers smj

Diwali 2020 : दीपावली, छठ समेत अन्य फेस्टिव सीजन में मात्र 2 घंटे ही फोड़ सकेंगे पटाखे, हरित पटाखे फोड़ने पर जोर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : चाईबासा के गांधी मैदान में सजा पटाखों का स्टॉल. जिले में मात्र 2 घंटे ही पटाखे फोड़ने की मिली अनुमित.
Jharkhand news : चाईबासा के गांधी मैदान में सजा पटाखों का स्टॉल. जिले में मात्र 2 घंटे ही पटाखे फोड़ने की मिली अनुमित.
प्रभात खबर.

Diwali 2020, Jharkhand news : चाईबासा (पश्चिमी सिंहभूम) : दीपावली, छठ समेत अन्य त्योहारी सीजन को लेकर पश्चिमी सिंहभूम जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की है. इसके तहत जिले में इस बार मात्र 2 घंटे ही पटाखा फोड़ने की अनुमति मिली है. बता दें कि झारखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद (Jharkhand State Pollution Control Board) द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार पश्चिमी सिंहभूम में कम ध्वनि एवं कम वायु प्रदूषण फैलाने वाले फटाखें फोड़ने की अनुमति रात 8 बजे से 10 बजे तक मात्र 2 घंटे ही दी गयी है. वहीं, 77 स्थायी एवं अस्थायी पटाखा दुकानदारों को विस्फोटक बेचने की अनुमति जिला प्रशासन के द्वारा दी गयी है. इनमें 7 स्थायी एवं 70 अस्थायी पटाखा दुकानों को फेस्टिव सीजन में विस्फोटक फटाखें बेचने की अनुमति मिली है.

इस संबंध में जिला शस्त्र पदाधिकारी (District Arms Officer) गिरजानंद किस्को ने बताया कि जिले में पटाखा बेचने के लिए लाइसेंसधारी के आवेदन पर कुल 77 व्यवसायियों को प्रशासन की ओर अनुमति प्रदान की गयी है. इसमें सदर अनुमंडल के 6 एवं जगन्नाथपुर अनुमंडल के एक व्यवसायी स्थायी लाइसेंसधारी को पटाखा बेचने की अनुमति दी गयी है. इसके अलावा फेस्टिव सीजन को देखते हुए सदर अनुमंडल अंतर्गत 43 अस्थायी पटाखा दुकानदारों के साथ- साथ चक्रधरपुर अनुमंडल के 14 एवं जगन्नाथपुर अनुमंडल के 13 दुकानदारों को एक्सक्लूसिव एक्ट 2008 के रूल 84 के अंतर्गत पटाखा बेचने की अनुमति प्रदान की गयी है.

2 घंटे ही फटाखा फोड़ने की अनुमति

दीपावली के मद्देनजर झारखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद द्वारा जारी किये गये गाइडलाइन के अनुसार पश्चिमी सिंहभूम में कम ध्वनि एवं कम वायु प्रदूषण फैलाने वाले फटाखें फोड़ने की अनुमति रात 8 बजे से 10 बजे तक मात्र 2 घंटे ही दी गयी है. इसे लेकर जिले भर में केवल हरित पटाखे की ही बिक्री किये जाने के आदेश दिये गये हैं. जारी गाइडलाइन के अनुसार जो भी व्यक्ति उक्त निर्देशों का उल्लंघन करते हुए पाया जायेगा, उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 एवं वायु (प्रदूषण निवारण और नियंत्रण) अधिनियम 1981 की धारा 37 एवं अन्य संगत अधिनियमों के तहत विधि सम्मत कार्रवाई जिला उपायुक्त द्वारा की जायेगी. जारी किये गये गाइडलाइन के अनुसार राज्य में दीपावली, छठ, क्रिसमस, नववर्ष आदि त्योहारों के समय पटाखे मात्र 2 घंटे तक ही फोड़े जा सकेंगे. दीपावली एवं गुरु पर्व पर रात्रि 8 बजे से रात्रि 10 बजे तक, छठ में सुबह 6 बजे से 8 बजे तक एवं क्रिसमस तथा नववर्ष के दिन मध्य रात्रि 11.55 से मध्य रात्रि 12.30 बजे तक पटाखे फोड़े जा सकेंगे.

गांधी मैदान में लगाये गये 32 स्टॉल, लादेन बम की मांग अधिक

शहर के गांधी मैदान में जिला प्रशासन के आदेश पर पटाखों की कुल 32 स्टॉल लगाये गये हैं. वहीं, 1200 रुपये पटाखें के प्रत्येक दुकानों से नगर पर्षद कार्यालय के द्वारा वसूला गया है. यहां सबसे ज्यादा लादेन बम की मांग है. इनके अलावा भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व धुरंधर सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी के साथ ही विराट कोहली, ब्लैक कैट, टाइगर बम आदि की भी जमकर बिक्री हो रही है. वहीं, बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए अभिभावकों में सबसे अधिक टाइमर बम की डिमांड है.

पटाखे स्टॉलों पर माचिस बिक्री की मनाही

दीपावली को देखते हुए विस्फोटक पदार्थ की बिक्री को लेकर जिला प्रशासन के आदेशानुसार नियमों का पालन करने को लेकर हिदायत संबंधित पोस्टर भी लगाये गये हैं. साथ ही पटाखे के स्टॉल पर माचिस तक की बिक्री पर रोक लगा दी गयी है. इसके अलावा ज्वलनशील किसी भी पदार्थ को लेकर गांधी मैदान में प्रवेश करने पर पूरी तरह प्रतिबंध है. सुरक्षा के मद्देनजर गांधी मैदान के बाहर सदर थाना के पास अग्निशमन वाहन की भी व्यवस्था की गयी है.

कलरफूल फूलझड़ी की जमकर हो रही बिक्री

एनजीटी के आदेश पर पटाखा फोड़ने को लेकर रात 8 से 10 बजे तक का समय निधारित करने के बाद इस दीपावली चाईबासा में कलरफूल फूलझड़ियों की डिमांड बढ़ गयी है. जिसे देखते हुए गांधी मैदान में लगने वाले पटाखे के सभी स्टॉल पर जमकर कलरफूल फूलझड़ियों की बिक्री हो रही है. यहां सबसे अधिक कलरफूल फूलझड़ियों की वैराइटी मौजूद है. इसमें लाल, पीले, नीले, गुलाबी, संतरे आदि रंगों के फूलझड़ियों की बिक्री सबसे अधिक है. वहीं, दीपावली को लेकर हीप-हॉप के साथ-साथ टाईमर बम की भी बिक्री खूब हो रही है. साथ ही अनार बम भी चाईबासा वासियों को खूब भा रहा है. ये पटाखे आकर्षक होने के साथ-साथ खास भी है. हीप-हॉप बम में आग लगाते ही रंगों के फ्वारे निकले हैं. वहीं, चंद सैकेंड बाद धमाकेदार आवाज के साथ यह पटाखा शोर मचाता है. वहीं, टाईमर बम बच्चों के लिए खास है. इसकी सुतली में आग लगाने के एक मिनट बाद तक यह बच्चों को पटाखे से दूर होने का वक्त देता है. इनमें अनार बम पहले फूलझड़ी की तरह रोशनी फैलाता है. उसके बाद यह बेहतरीन साउंड देता है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें