1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. coronavirus suspect of jharkhand detained at titlagarh station of odisha

कर्नाटक से झारखंड आ रहे कोरोना वायरस के संदिग्ध हेमलाल को ओड़िशा में ट्रेन से उतारा

By Mithilesh Jha
Updated Date

गोमिया : बोकारो जिला के गोमिया प्रखंड अंतर्गत कर्री पंचायत के कर्री ग्राम निवासी हेमलाल महतो (47) को ओड़िशा के टिटलागढ़ स्टेशन पर उतारकर उसकी जांच की गयी. वह कोरोना का संदिग्ध मरीज है. बेंगलुरु के कातपाड़ी में एक कंपनी में काम करने वाले हेमलाल महतो में कोरोना वायरस के लक्षण पाये गये थे.

कंपनी के सुपरवाइजर ने हेमलाल को जल्द से जल्द घर चले जाने की सलाह दी. हेमलाल महतो ने शुक्रवार को ही ट्रेन पकड़ ली. वह एलेप्पी एक्सप्रेस से अपने घर आ रहे थे. इसी बीच, ओड़िशा के टीटलागढ़ स्टेशन पर पुलिस ने उन्हें उतार लिया. उनकी मेडिकल जांच की गयी.

बाद में हेमलाल महतो को दूसरी ट्रेन से रात में बोकारो भेज दिया जायेगा. हेमलाल महतो ने फोन पर बताया कि वह बिल्कुल स्वस्थ हैं. चिकित्सकों ने जांच करने के बाद बताया कि 15 से 20 दिन तक किसी से बातचीत नहीं करनी है. एक घर में अकेले रहने की सलाह डॉक्टरों ने दी है.

श्री महतो ने बताया कि रेलवे विभाग ने उनसे कहा है कि रात 10 बजे की ट्रेन से उन्हें टिटलागढ़ से रवाना कर दिया जायेगा. यदि उन्हें रात 10 बजे ट्रेन से रवाना कर दिया गया, तो वह 23 मार्च को अपने घर गोमिया पहुंच जायेंगे.

उल्लेखनीय है कि कर्री ग्राम के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने पिछले दिनों गोमिया के अंचल अधिकारी ओम प्रकाश मंडल को इस बारे में सूचित किया था. अंचल अधिकारी श्री मंडल ने बेरमो अनुमंडल के अनुमंडल पदाधिकारी को यह सूचना दी और समुचित उपाय करने का आग्रह किया.

एसडीएम प्रेम रंजन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए रेलवे विभाग के अधिकारियों के आलावा जीआरपी को भी सूचना दी कि उनके क्षेत्र का एक व्यक्ति संभवत: कोरोना वायरस से पीड़ित है और वह बेंगलुरु से एलेप्पी एक्सप्रेस से बोकारो जिला के गोमिया आ रहा है.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार (22 मार्च, 2020) को पूरे देश में जनता कर्फ्यू का पालन किया जा रहा है. इसलिए इस दिन बस, ट्रेन सेवाएं रविवार सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक बंद हैं. यहां तक कि काफी संख्या में विमानन कंपनियों ने भी अपनी सेवाएं बंद रखी हैं.

प्रधानमंत्री की अपील को स्वीकार करते हुए लोगों ने खुद को अपने-अपने घरों में कैद कर रखा है. इसका उद्देश्य कोरोना वायरस के चेन को फैलने से रोकना है. झारखंड समेत पूरे देश में लोगों ने प्रधानमंत्री की इस अपील का स्वागत भी किया और इसका पालन भी किया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें