झारखंड : ललपनिया के स्टेट बैंक में गैस कटर लेकर आये थे एटीएम चुराने, मुंबई से आया फोन और डकैत...

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

ललपनिया/महुआटांड़ : झारखंड मेंस्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआइ) का एटीएम चुराने के लिए कुछ लोग गैस कटर के साथ बैंक में दाखिल हुए. इतने में पुलिस को फोन आया और एटीएम काटने आये डकैतों को उल्टे पैर भागना पड़ा. बैंक परिसर से पुलिस ने एक गैस सिलिंडर बरामद किया है. एएसपी व इंस्पेक्टर ने बैंक परिसर का जायजा लिया. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने सघन तलाशी अभियान छेड़ दिया है.

मामला बोकारो जिला के गोमिया प्रखंड स्थित ललपनिया का है. यहां स्टेट बैंक की दीवार काटकर एटीएम से पैसे निकालने की योजना बनाकर कुछ डकैत बैंक में दाखिल हुए. इन्होंने गैस कटर से एटीएम को काटना शुरू ही किया था कि मुंबई स्थित एसबीआइ के मुख्यालय में सायरन बज उठा. मुख्यालय से ललपनिया स्थित एसबीआइ के शाखा प्रबंधक को फोन आया और उन्होंने स्थानीय पुलिस को खबर की. तत्काल पुलिस फोर्स बैंक के लिए रवाना हुई. जब तक पुलिस बैंक पहुंचती, डकैत अपने साज-ओ-सामान वहीं छोड़कर भाग खड़े हुए.

पुलिस ने बताया कि भारतीय स्टेट बैंक ललपनिया शाखा परिसर में घुसकर डकैतों ने जैसे ही एटीएम को गैस कटरसेकाटने का प्रयास किया, कॉर्नर में मौजूद सेंसर ने सूचना दी और मुंबई स्थित मुख्यालय में सायरन बज उठा. वहां से तत्काल अलर्ट जारी हुआ और शाखा प्रबंधक को इसकी सूचना मिल गयी. शाखा प्रबंधक ने पुलिस को बताया और ललपनिया ओपी पुलिस ने फौरन कार्रवाई की. एएसपी बेरमो आर राम कुमार व इंस्पेक्टर राधेश्याम दास घटनास्थल पहुंचे और बारीकी से जांच की.

जानकारी के अनुसार, अज्ञात अपराधियों ने सोमवार तड़के तीन बजे इस घटना को अंजाम देने की कोशिश की. हालांकि, वह एटीएम को तोड़ने में सफल नहीं हुए. अलबत्ता पुलिस के आने से पहले जान बचाकर भागने में सफल जरूर रहे.

आधे घंटे में क्या-क्या हुआ?

बैंक परिसर में दाखिल होने के लिए डकैतों ने पीछे की ओर से चहारदीवारी में सुराख किया. अंदर से एटीएम की दीवार को भी तोड़ने लगे. इसी क्रम में सेंसर एक्टिव हो गया और हजारों किमी दूर मुंबई में एसबीआइ के मुख्यालय में यह सूचना पहुंच गयी कि कोई एटीएम में गड़बड़ी करने की कोशिश कर रहा है. शाखा प्रबंधक को तत्काल इसकी सूचना मिल गयी और फिर उन्होंने पुलिस को जानकारी दी. यह सब आधे घंटे से भी कम समय में हुआ. जिससे एक बड़ी घटना को टाला गया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें