रंका में आदिम जनजाति की महिला की मौत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रंका : गढ़वा जिले के रंका प्रखंड के सेमरखांड़ में आदिम जनजाति की महिला ललिता कुंवर (45) की मौत हो गयी. ललिता की बेटी रूबी कुमारी ने बताया कि पिछले छह माह से जनवितरण प्रणाली की दुकान से उसे चावल नहीं मिल रहा था. घर में खाने के लिए अनाज तक नहीं था. उसकी मां भूखी रहती थी. भूख के कारण और अधिक बीमार हो गयी. ललिता लकड़ी बेच कर किसी तरह घर का खर्चा चलाती थी.

पति चौतु कोरवा की 10 साल पहले ही मौत हो चुकी है. सूचना मिलने के बाद बीडीओ राजेश एक्का मंगलवार को ललिता कुंवर के घर पहुंचे. ग्रामीणों और परिजनों से बात की. परिवार के लोगों को 70 किलो चावल व पांच लीटर केरोसिन उपलब्ध कराया. बीडीओ ने बताया कि ललिता की मौत एनिमिया से हुई है. ललिता के भाई शिवप्रसन कोरवा ने बताया कि वह बीमार थी.

एक सप्ताह पहले उसे गढ़वा के एक निजी अस्पताल ले जाया गया था. डॉक्टरों ने खून की कमी बतायी थी. खून की व्यवस्था नहीं होने पर उसे घर ले आया गया था, जहां उसकी मौत हो गयी. मुखिया अनिल कुमार ने बताया कि सरकार की ओर से उसे चावल मिलता था. परिवारवालों के पास राशन कार्ड उपलब्ध है.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें