1. home Hindi News
  2. state
  3. gujarat
  4. dahod will be a smart city pm narendra modi inaugurated projects worth rs 22000 crore mtj

गुजरात के दाहोद को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए पीएम मोदी ने 22,000 करोड़ की योजनाओं का किया लोकार्पण

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अब दुनिया के उन गिने-चुने देशों में शुमार हो गया है, जो 9,000 हॉर्सपावर का पावरफुल लोकोमोटिव बना रहा है. उन्होंने कहा कि दाहोद में बन रहे इस लोकोमोटिव फैक्टरी में हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दाहोद के कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी
दाहोद के कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी
PTI

दाहोद: तीन दिन की यात्रा पर गुजरात पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार (20 अप्रैल 2022) को कई योजनाओं का लोकार्पण किया. इसमें दाहोद एवं पंचमहल में 22,000 करोड़ रुपये की परियोजना शामिल है. इनमें एक योजना पेयजल से जुड़ी है, जो दाहोद को स्मार्ट सिटी बनाने का हिस्सा है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दाहोद अब ‘मेक इन इंडिया’ का बड़ा केंद्र बनने जा रहा है.

9,000 हॉर्सपावर का पावरफुल लोकोमोटिव बना रहा भारत

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अब दुनिया के उन गिने-चुने देशों में शुमार हो गया है, जो 9,000 हॉर्सपावर का पावरफुल लोकोमोटिव बना रहा है. उन्होंने कहा कि दाहोद में बन रहे इस लोकोमोटिव फैक्टरी में हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा. इतना ही नहीं, इस क्षेत्र में कई नयी फैक्ट्रियों के खुलने का मार्ग प्रशस्त होगा. एक नया दाहोद तैयार होगा.

अंग्रेजों के जमाने में बनते थे वाष्प इंजन

पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत गुलाम था, तब अंग्रेजों ने यहां वाष्प इंजन का वर्कशॉप स्थापित कया था. अब यह मेक इन इंडिया का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि अब दाहोद में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से एक फैक्ट्री की स्थापना होगी. उन्होंने कहा कि भारतीय रेलवे ने कहा है कि इस फैक्ट्री में 1200 हाई हॉर्सपावर के 9,000 एचपी लोकोमोटिव का निर्माण होगा.

फ्रेट मूवमेंट में आयेगी क्रांति

उन्होंने कहा कि पहला लोकोमोटिव वर्ष 2024 में बनकर तैयार हो जायेगा. इस परियोजना से मेक इन इंडिया और आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम को मजबूती मिलेगी. ये लोकोमोटिव भारत के फ्रेट मूवमेंट में क्रांति लाने का काम करेंगे. इसकी मदद से ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि इसकी मदद से मालगाड़ी भी 120 किलोमीटर की रफ्तार से चलेंगी. इनमें 4,500 टन का भार ले जाया जा सकेगा.

प्रधानमंत्री बनने के बाद से था मेरा सपना- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही मेरा सपना था कि यहां एक ऐसी फैक्ट्री की स्थापना हो. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे यहां पुरानी कहावत है कि हम जहां रहते हैं, उसका गहरा प्रभाव हमारे जीवन पर पड़ता है. यह क्षेत्र मेरी कार्यस्थली रही है. आदिवासियों के बीच रहा हूं, उनसे बहुत कुछ सीखा है और उनको समझा है. कोई भी आदिवासी इलाका उतना ही पवित्र है, जितना कि पानी. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल भी मौजूद थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें