30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

उमस व गर्मी कर रही परेशान

मौसम में बदलाव होने से सुबह व शाम लोगों को राहत मिल रही है. दोपहर में तेज धूप से उमस भरी गर्मी बढ़ गई है. बादल भी अब आंखें दिखाकर चलते बन रहे है. बारिश नहीं होने से सबसे अधिक दिक्कतें किसानों को झेलनी पड़ रही है.पिछले कई दिनों से मौसम में बदलाव दिख रहा है.

सीवान. मौसम में बदलाव होने से सुबह व शाम लोगों को राहत मिल रही है. दोपहर में तेज धूप से उमस भरी गर्मी बढ़ गई है. बादल भी अब आंखें दिखाकर चलते बन रहे है. बारिश नहीं होने से सबसे अधिक दिक्कतें किसानों को झेलनी पड़ रही है.पिछले कई दिनों से मौसम में बदलाव दिख रहा है. सुबह के समय हवाओं के चलते, बादल के छाए रहने से राहत मिल रही है. ऐसे में लोग घरों से बाहर निकलकर मौसम का आनंद लेते दिख जाते है. बीते दिनों आई आंधी व बूंदाबांदी से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है. सुबह और शाम थोड़ी राहत मिल रही है.लेकिन उमस से लोग बेहाल है. गर्मी से राहत के लिए लोग बारिश की दुआ कर रहे है. मौसम की जानकारों की माने तो मानसून के आगमन तक उमस भरी गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद नही है. पंखे व कूलर नहीं दे पा रहे राहत मौसम भले ही बदल गया है. अब चिलचिलाती धूप व लू के थपेड़ों से लोगों को राहत मिली है. दोपहर में तेज धूप के चलते उमसभरी गर्मी अभी लोगों को परेशान कर रही है. इस गर्मी से घरों में पंखे व कूलर भी काम नहीं कर पा रहे है.बुधवार को अधिकतम तापमान 41 व न्यूनतम 29 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. प्री-मानसून की बारिश नही होने से रहेगी उमस प्री मानसून की बारिश नहीं होने से उमेश भरी गर्मी बरकरार है. मानव के साथ-साथ जीव जंतु भी प्रभावित रहे है. मौसम विशेषज्ञ डॉ मनोज कुमार गिरी ने बताया कि प्री मानसून की बारिश नगण्य होने के चलते आधे जून माह तक उमसभरी गर्मी सताएगी. आने वाले दिनों में यह तापमान एक बार फिर से 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है.गर्म हवाएं तेज गति से चल सकती है. जिससे एक बार फिर से जिले के लोगों को तेज गर्मी का सामना करना पड़ सकता है. इस दौरान मौसम शुष्क बना रहेगा.बादल बन सकते है. बादल के गर्जन के धूल भरी आंधी आ सकती है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें