30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

हथुआ मार्केट हुआ बदहाल, अब नहीं आ रहे खरीदार

कभी सीवान, गोपालगंज व बलिया से भी यहां खरीदारी के लिए आते थे लोग, उत्तर बिहार में काफी फेमस था छपरा का हथुआ मार्केट, मार्केट का बरामदा बना यूरिनल, खाली जमीन में डंप होता है कचरा

छपरा. शहर का हथुआ मार्केट 90 के दशक तक पूरे जिले के लिए ही नहीं बल्कि सीवान, गोपालगंज तथा बलिया तक के लोगों के लिए खरीदारी का प्रमुख केंद्र हुआ करता था. उत्तर बिहार में हथुआ मार्केट की काफी चर्चा हुआ करती थी. यहां लोगों की जरूरत के लगभग सभी सामान मिल जाते थे. शादी ब्याह से लेकर पर्व त्योहार तक खरीदारी के लिए बड़ी संख्या में लोग यहां पहुंचते थे. लेकिन बीते कुछ वर्षों से हथुआ मार्केट की स्थिति काफी बदहाल हो गयी है. यहां साफ-सफाई में अनियमितता तो कई सालों से बरती जा रही है. वहीं अब हथुआ मार्केट के जितने भी खाली जमीन बचे हुए हैं. वहां बड़ी मात्रा में कचरा डंप हो रहा है.

यूरिनल के रूप में इस्तेमाल हो रहा मार्केट का बरामदा

शौचालय के अभाव में हथुआ मार्केट के ऊपरी फ्लोर की बरामदे को अब लोग यूरिनल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं. पूरे मार्केट परिसर में कहीं भी शौचालय नहीं है. वाहनों की व्यवस्थित पार्किंग की जगह उपलब्ध नहीं है. बरसात के समय में यहां भारी जल जमाव लग जाता है. पेयजल की व्यवस्था भी नदारद है. पूरे मार्केट परिसर में कहीं भी चापाकल नहीं लगा हुआ है. हथुआ मार्केट जिस वार्ड में आता है. उसे वार्ड के पार्षद राजू श्रीवास्तव का कहना है कि उनके द्वारा कई बार नगर निगम के अधिकारियों को हथुआ मार्केट में साफ-सफाई की व्यवस्था करने तथा यूरिनल, शौचालय, पेयजल आदि की समुचित व्यवस्था कराने की मांग की गयी है. लेकिन इस चर्चित बाजार के मेंटेनेंस को लेकर कोई पहल नहीं हो रही है.

10 सालों में 70 फीसदी घट गया कारोबार

हथुआ मार्केट के दुकानदारों का कहना है कि 10-15 साल पहले तक यहां कारोबार की स्थिति अच्छी थी. लेकिन मार्केट की बदहाली के बाद अब काफी कम संख्या में खरीदार यहां आ रहे हैं. मार्केट नगर थाना चौक व साहेबगंज रोड के बीच में है. इस रोड में सालों भर जाम की समस्या रहती है. वाहन पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से अब लोग यहां आने से कतरा रहे हैं. वहीं लोगों को बुनियादी सुविधा भी नहीं मिल पाती है. हथुआ मार्केट के दुकानदार अभिषेक, पवन आदि ने बताया कि 10 साल पहले तक जहां इस मार्केट का औसत कारोबार प्रतिदिन डेढ़ करोड़ तक का था. वहीं अब प्रतिदिन महज 30 से 40 लाख के बीच का ही कारोबार पूरे मार्केट का है. यहां करीब 450 दुकानें मौजूद हैं.

क्या कहते हैं नगर आयुक्त

हथुआ मार्केट में साफ-सफाई को लेकर निर्देश दिया गया है. हाल ही में सभी नालों की उड़ाही करायी गयी है. बरसात में जल जमाव न लगे इसका भी ध्यान रखा जायेगा. – सुमीत कुमार, नगर आयुक्त, छपरा नगर निगम

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें