बिहार : छपरा में कैश वैन से 2 करोड़ लूटने की कोशिश, गोलीबारी में गार्ड की दर्दनाक मौत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

सारण : बिहार के सारण जिले के छपरा में बेखौफ अपराधियों ने दिन-दहाड़े एक बड़ी घटना को अंजाम दिया है. जानकारी के मुताबिक जिले के गरखा थाना स्थित जासोसती पोखरा के पास अपराधियों ने एटीएम में पैसा जमा करने जा रहे कैश वैन को अपना निशाना बनाया है. दो करोड़ रुपये ले जा रहे इस कैश वैन को लूटने की कोशिश में अपराधियों ने कैश वैन के दो गनमैन को गोली मार दी है. जिसमें एक गनमैन संतोष कुमार सिंह की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी, जबकि दूसरे गार्ड को गंभीर हालत में इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर किया गया है.

बताया जा रहा है कि अपराधियों के हमले के वक्त कैश वैन के गनमैन अलर्ट थे और उन्होंने अपराधियों का जमकर मुकाबला किया और कैश वैन को लूटने से बचा लिया है. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है. बताया जा रहा है कि कैश वैन दो करोड़ रुपये लेकर छपरा के गड़खा एटीएम में रखने के लिए जा रही थी, इसी दौरान घात लगाये अपराधियों ने कैश वैन पर फायरिंग शुरू कर दी.

बताया जा रहा है कि अपराधियों के अचानक हमले को कोई समझ नहीं पाया और कैश वैन में सवार लोग इधर-उधर मागने लगे. उसके बाद कंपनी के कर्मचारी शम्मी कुमार और कैश वैन के गार्ड संतोष कुमार सिंह को गोली लग गयी. गोली लगने के बाद संतोष कुमार सिंह की जहां मौके पर मौत हो गयी, वहीं शम्मी कुमार की स्थिति काफी गंभीर हो गयी. कंपनी के कर्मचारियों के मुताबिक कैश वैन में एक करोड़ 90 लाख रुपये के करीब रखे हुए थे और उन्हें एटीएम में लोड करने के लिए ले जाया जा रहा था. फिलहाल पुलिस पूरे जिले की नाकेबंदी कर छापेमारी कर रही है.

बिहार में इससे पूर्व भी अपराधियों ने दिन-दहाड़े कैश वैन लूट की घटना को अंजाम देकर पुलिस को चैलेंज किया है. फरवरी 2016 में बेखौफ अपराधियों ने गया में दिन दहाड़े कैश वैन को लूट लियाथा. घटना में अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर सबसे पहले वैन पर सवार गार्ड को गोली मारी थी और उनके बाद 11 लाख रुपये लूट लियेथे. पुलिस ने इस घटना को फिल्मी अंदाज में अंजाम दी गयी घटना करार दिया था. इस घटना में कैश वैन के गार्ड और कर्मचारियों को सोचने तक का मौका नहीं मिला था. लुटेरों ने सबसे पहले कैश वैन को कब्जे में कियाथा और उसके कर्मचारियों पर फायरिंग की थी.

वहीं 29 अगस्त 2017 को अपराधियों ने बिहार की राजधानी पटना के धनुरुआ प्रखंड अंतर्गत नीमा गांव के समीप 29 अगस्त को इलाहाबाद बैंक के एक कैश वाहन से 45 लाख रुपयेलूटलिये थे. लूट मामले मेंबादमें पुलिस ने चार अपराधियों को धर दबोचाथा. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज नेइसमामले में विकास कुमार, विक्की कुमार, संतोष कुमार व संजीत कुमारनामके अपराधियों को गिरफ्तार किया था. अपराधियों के पास से लूट की 2 लाख 5 हजार रुपये राशि, हथियार, एक स्कॉर्पियो वाहन, तीन मोटरसाइकिल जब्त किया गयाथा. इन लोगों ने गत 29 अगस्त को दिनदहाड़े धनरुआ में कैश वाहन के सुरक्षा गार्ड को गोली मारकर इलाहाबाद बैंक का 45 लाख रुपये लूटकर फरार हो गये थे.

यह भी पढ़ें-
लालू से गठबंधन के सवाल पर मांझी ने दिया बेबाक जवाब, नीतीश और एनडीए पर भी खुलकर बोले, पढ़ें

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें